udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news इंग्लैंड में 10 साल तक 3 टीचर्स ने किया छात्राओं से बलात्कार

rap….इंग्लैंड में 10 साल तक 3 टीचर्स ने किया छात्राओं से बलात्कार

Spread the love

dame
dame

लंदन। स्टूडेंट्स के साथ एक दशक तक बलात्कार करने के आरोप में तीन पूर्व स्कूल टीचर्स को गिरफ्तार किया गया है। तीनों टीचर्स की उम्र 60 साल के आसपास है। यह पूरा मामला इंग्लैंड के वेस्ट ससेक्स में स्थित क्राइस्ट हॉस्पिटल स्कूल का है।

नौ छात्राओं ने आरोप लगाया था कि 1980 के अंत से लेकर 1990 तक इन टीचर्स ने उनके साथ रेप किया था। बता दें कि क्राइस्ट हॉस्पिटल स्कूल में तकरीबन 26 लाख रुपये फीस थी और इस स्कूल से मशहूर कवि सैमुअल टेलर और बांउसिंग बॉम्ब के आविष्कारक सर बारन्स पढ़ाई कर चुके हैं।

इस घटना पर बात करते हुए एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि 66 साल आरोपी टीचर ने 16-18 साल की उम्र की युवती के साथ रेप किया था। इसके साथ ही उसने एक और 17 साल की छात्रा पर 1994 में हमला किया। गिरफ्तार किये गए एक और आरोपी टीचर की उम्र 62 साल है और उसे पश्चिमी लंदन से गिरफ्तार किया गया है।

उसपर 1985-1993 तक चार युवतियों पर हमला करने का आरोप लगाया गया है। वहीं एक अन्य प्रवक्ता ने बताया कि क्राइस्ट हॉस्पिटल स्कूल की इन पूर्व छात्राओं के आरोप को स्कूल प्रशासन गंभीरता से ले रहा है। बता दें कि इस स्कूल की स्थापना 16 वीं सदी में की गई थी।

फोन पर व्यस्त मां ने बच्ची को कार में बंद किया
दुबई । अपनी 18 माह की बच्ची को कार में भूलने और लॉक करने के मामले में दुबई में एक मां की मुसीबत बढ़ गई है। दुबई पुलिस ने उस लापरवाही बरतने पर मां के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस के मुताबिक यह घटना तब हुई, जब मां अपने मोबाइल पर एक दोस्त के साथ बातचीत में व्यस्त थी। स्थानीय मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक महिला कार को पार्किंग में खड़ी करके पास की ही इमारत में चली गई।

कुछ देर बाद पार्किंग में मौजूद एक व्यकित को बच्चे के रोने की आवाज आई और उनसे पुलिस को सूचना दी। तब पुलिस ने तत्काल वहां पहुंचकर बच्चे का कार से बाहर निकाला। थोड़ी की खोजबीन के बाद पुलिस बच्चे की मां से संपर्क करने में कामयाब हो गई और बच्चे को उस लापरवाह मां को सौंप दिया गया। हालांकि बाद में दुबई पुलिस ने बच्चे की मां के खिलाफ केस दर्ज कर लिया। दुबई पुलिस के ट्रांसपोर्ट व रेस्क्यू डिपार्टमेंट के डिप्टी डायरेक्टर मेजर अहमद बू रौकिबा ने कहा कि हमारे विभाग के अक्सर लापरवाहीपूर्वक कारों में बच्चों को बंद करने के शिकायतें मिलती रहती है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि अब अगर इस तरह की दुर्घटनाएं होती है, तो माता-पिता पर भी कार्रवाई की जाएगी।
000

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.