udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news नासा :जीपीएस सिग्नल पृथ्वी की सतह से 70,000 किमी की उंचाई पर स्थापित

नासा :जीपीएस सिग्नल पृथ्वी की सतह से 70,000 किमी की उंचाई पर स्थापित

Spread the love
nasa नासा
nasa नासा

वॉशिंगटन। नासा के मैग्नेटोस्फेरिक मल्टीस्केल मिशन ने एक जीपीएस सिग्नल को सर्वाधिक उंचाई पर स्थापित कर गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है. यह जीपीएस सिग्नल पृथ्वी की सतह से 70,000 किमी की उंचाई पर स्थापित किया गया है.

पृथ्वी के आसपास दीर्घ वृत्ताकार कक्षा में कार्यरत चार एमएमएस अंतरिक्ष यान में जीपीएस प्रणाली लगी है और यह अपनी सटीक परिपथ प्रणालियों का माप लेती है, जिसके लिए अत्यंत संवेदनशील पोजीशन और कक्षा की गणनाओं की जरूरत है ताकि उसकी उड़ान संबंधी फार्मेशनों को निर्देश मिल सके.
इस साल के शुरू में, एमएमएस के चारों उपग्रहों ने अपने बीच केवल 7.2 किमी का अंतर रखते हुए अलग अलग उड़ान भरी और एक बहु-अंतरिक्ष यान फार्मेशन बनाया. जब ये उपग्रह पृथ्वी के करीब थे तब उनकी गति 35,405 किमी प्रति घंटा थी. जीपीएस रिसीवर के अब तक ज्ञात उपयोग में यह गति सर्वाधिक थी.

अपने मिशन के पहले ही साल में एमएमएस वैज्ञानिकों को पृथ्वी के मैग्नेटोस्फीयर के बारे में जानकारी जुटाने के लिए नए सुराग दे रहा है. यह मिशन अपने चार अलग अलग उपग्रहों का उपयोग कर रहा है जो चुंबकीय जुड़ाव (मैग्नेटिक रिकनेक्शन) को मापने के लिए पिरामिड के आकार में उड़ान भरते हैं.

मैग्नेटिक रिकनेक्शन वह प्रक्रिया है जो सूर्य और पृथ्वी के चुंबकीय क्षेत्रों की परस्पर प्रतिक्रिया के कारण होती है. अगले साल एमएमएस मिशन अपने दूसरे चरण में प्रवेश करेगा और उपग्रहों को अधिक बड़ी कक्षा में भेजा जाएगा,जहां वे पृथ्वी के मैग्नेटोस्फीयर के एक अलग हिस्से का अन्वेषण करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.