udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news 12 इनिंग्स, 120 शिकार, बना नया इतिहास

12 इनिंग्स, 120 शिकार, बना नया इतिहास

Spread the love

नई दिल्ली । टेस्ट क्रिकेट में विदेशी धरती पर भारतीय टीम के लिए गेंदबाजी हमेशा से चुनौती रही है। चाहे वह विपक्षी टीम के गेंदबाजों के सामने भारतीय बल्लेबाज हों या फिर विपक्षी बल्लेबाजों के सामने भारतीय गेंदबाज। यही वजह है कि घर से बाहर, खासकर एशिया के बाहर टीम इंडिया को मनमुताबिक नतीजे नहीं मिले हैं।

 

साउथ अफ्रीका के खिलाफ शनिवार को खत्म हुई टेस्ट सीरीज भले ही भारत 1-2 से हार गया, लेकिन इस सीरीज में गेंदबाजों ने अपने प्रदर्शन से न केवल अच्छे भविष्य के संकेत दिए बल्कि कई रेकॉर्ड भी अपने नाम किए। टेस्ट इतिहास में यह पहला मौका था जब तीन या इससे ज्यादा मैचों की सीरीज में सभी बल्लेबाज आउट हुए। सामने वाले के सभी 60 विकेट भारतीय गेंदबाजों ने लिए।

दिखा रफ्तार का जलवा
साउथ अफ्रीका की पिच हमेशा से तेज गेंदबाजों के मददगार रही है। इस सीरीज में अगर भारतीय गेंदबाज तीनों मैच में विपक्षी टीम के सभी बल्लेबाजों को आउट करने में कामयाब रहे तो इसमें सबसे बड़ा योगदान तेज गेंदबाजों का ही रहा है। तीसरे टेस्ट में तो उन्होंने रेकॉर्ड ही बना डाला।

वांडरर्स में ऐसा पहली बार हुआ जब विपक्षी टीम के सभी 20 बल्लेबाजों को भारत के तेज गेंदबाजों ने आउट किया। साथ ही यह महज तीसरा मौका था जब भारतीय गेंदबाजों ने विदेशी धरती पर तीन या इससे ज्यादा मैचों की सीरीज के सभी मैचों में विपक्षी टीम को ऑलआउट किया। इससे पहले 1986 में इंग्लैंड के खिलाफ मिली 2-0 की सीरीज जीत के दौरान और 2015 में श्रीलंका के खिलाफ 2-1 से मिली सीरीज जीत में ऐसा किया था।

वांडरर्स पर अजेय
वांडरर्स पर भारतीय टीम अबतक कोई मैच नहीं हारी है। टीम इंडिया ने अब तक यहां पांच टेस्ट मैच खेले हैं जिनमें उसे दो में जीत मिली है जबकि तीन मैच ड्रॉ रहे हैं। विदेशी धरती पर पांच या इससे ज्यादा टेस्ट मैच खेलने के मामले में इस ग्राउंड के अलावा जॉर्जटाउन, गयाना दूसरा ग्राउंड है जहां भारत को हार नहीं मिली है। जॉर्जटाउन में भारत ने छह टेस्ट खेले हैं, सभी ड्रॉ रहे हैं।