udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news गरीबों को सामर्थ्यवान बनाने पर ही मिलेगा गरीबी से मुक्ति का मार्ग -नरेन्द्र मोदी

गरीबों को सामर्थ्यवान बनाने पर ही मिलेगा गरीबी से मुक्ति का मार्ग -नरेन्द्र मोदी

Spread the love
पांच दिवसीय छत्तीसगढ़ राज्योत्सव का शुभारंभ
पांच दिवसीय छत्तीसगढ़ राज्योत्सव का शुभारंभ

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने मंगलवार को नया रायपुर में पांच दिवसीय छत्तीसगढ़ राज्योत्सव का शुभारंभ करते हुए कहा कि काम चाहे कितना भी कठिन हो, लेकिन गरीबी से मुक्ति में ही देश की भलाई है। इसलिए हमारा पूरा जोर गरीबों के कल्याण पर है, किसानों की बेहतरी के लिए है, नौजवानों के कौशल विकास पर है, किसानों को नई फसल बीमा योजना का लाभ दिलाकर उन्हें प्राकृतिक विपदा से होने वाले नुकसान से बचाने का है। श्री मोदी ने कहा कि गरीब कल्याण वर्ष में साल भर सरकार, समाज और स्वैच्छिक संगठन मिलकर काम करेंगे।
प्रधानमंत्री ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जन्म शताब्दी को हम सबने गरीब कल्याण वर्ष के रूप में मनाने का निर्णय लिया है। गरीबी से मुक्ति के लिए केन्द्र और राज्य, पंचायत और पालिका हम सब मिलकर काम करेंगे और गरीबी से आजादी के लिए पूरी ताकत से कंधे से कंधा मिलाकर लड़ेंगे। श्री मोदी ने कहा कि गरीबों को सामर्थ्यवान बनाकर, हुनरमंद बनाकर ही गरीबी से मुक्ति का मार्ग मिल सकता है। गरीब अगर सामर्थ्यवान बन गया तो न केवल अपनी गरीबी, बल्कि अड़ोस-पड़ोस के दो परिवारों की गरीबी को भी दूर कर सकता है। युवाओं को हुनरमंद बना दिया जाए तो हमारे नौजवान अपने पैरों पर खड़े होने की ताकत रखते हैं। जनसभा में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ की जनता की ओर से प्रधानमंत्री का स्वागत किया।
प्रधानमंत्री ने इस अवसर पर छत्तीसगढ़ के किसानों के लिए सौर सुजला योजना का शुभारंभ करते हुए प्रतीक स्वरूप कुछ किसानों को सौर ऊर्जा पर आधारित सिंचाई पम्प और उज्ज्वला योजना के तहत गरीब परिवारों की पांच महिलाओं को नि:शुल्क रसोई गैस कनेक्शन वितरित किए। श्री मोदी ने स्वच्छ भारत मिशन (ग्रामीण) के तहत खुले में शौचमुक्त घोषित मुंगेली और धमतरी जिलों को तथा राज्य के विभिन्न जिलों के 15 विकासखण्डों को भी इस अवसर पर विशेष रूप से सम्मानित किया।

प्रधानमंत्री ने छत्तीसगढ़ की जनता को राज्य स्थापना के 16 वर्ष पूर्ण होने पर बधाई दी। उन्होंने प्रदेशवासियों को दीपावली और भाईदूज की भी शुभकामनाएं दी। श्री मोदी ने राज्यपाल श्री बलरामजी दास टंडन को भी आज उनके जन्मदिन की बधाई दी। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण की शुरूआत में डॉ. रमन सिंह को Óजनप्रिय मुख्यमंत्रीÓ के नाम से सम्बोधित किया। श्री मोदी ने कहा- आज मेरा विशेष सौभाग्य है कि भाई दूज के मौके पर यहां लाखों की तादात में बहनें, विशेष रूप से आदिवासी क्षेत्रों से आई बहनें मौजूद हैं। आपका यह भाई मां भारती के कल्याण के लिए सवा सौ करोड़ देशवासियों के आशीर्वाद से कार्य करने में पीछे नहीं रहेगा।

पांच दिवसीय छत्तीसगढ़ राज्योत्सव का शुभारंभ
पांच दिवसीय छत्तीसगढ़ राज्योत्सव का शुभारंभ

प्यार भरे माहौल में शांतिपूर्ण ढंग से राज्य निर्माण कर अटल जी ने पेश किया उदाहरण
श्री मोदी ने छत्तीसगढ़ राज्य स्थापना दिवस का उल्लेख करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को विशेष रूप से याद किया। उन्होंने कहा कि अटल जी का जितना भी जिक्र करें, कम है। राज्य निर्माण के लिए हम उनका बहुत-बहुत धन्यवाद और अभिनंदन करते हैं। श्री मोदी ने कहा-किसी भी राज्य की रचना इतने शांतिपूर्ण ढंग से, प्यार भरे माहौल में हो, अपनेपन की भावना और ताकत दे सके, उस प्रकार से हो, अपनी दूर दृष्टि से हर किसी को साथ लेकर लोकतांत्रिक परम्पराओं का पालन करते हुए छत्तीसगढ़, झारखण्ड और उत्तराखण्ड राज्य निर्माण का यह उदाहरण हमारे महान नेता श्री अटल बिहारी वाजपेयी ने पेश किया है।
छत्तीसगढ़ विकास की राह पर अन्य राज्यों को दे रहा टक्कर

श्री मोदी ने अपने उदबोधन में छत्तीसगढ़ राज्य की तरक्की और खुशहाली के लिए हो रहे कार्यों का विशेष रूप से जिक्र किया और इसके लिए मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और उनकी पूरी टीम को बधाई दी। श्री मोदी ने कहा-कौन सोच सकता था, कि सोलह साल पहले जिस छत्तीसगढ़ राज्य का निर्माण हुआ, वह नक्सल प्रभावित होने के बावजूद विकास की राह पर देश के अन्य राज्यों को टक्कर देगा। मुख्यमंत्री की जमकर तारीफ करते हुए श्री मोदी ने कहा-डॉ. रमन सिंह तेरह साल से राज्य की सेवा कर रहे हैं। विकास हम सबका मंत्र है। देश की हर समस्या का समाधान विकास के मार्ग से ही हो सकता है।
डॉ. रमन सिंह और उनकी पूरी टीम को दी बधाई
श्री मोदी ने कहा कि मुझे आपके मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने पूरे रास्ते में नया रायपुर तथा राज्य में संचालित विभिन्न योजनाओं की जानकारी दी। मैंने स्वयं प्रदर्शनी स्थल पर इन योजनाओं की झलक देखी। छत्तीसगढ़ में बेहतर कार्य हो रहे हैं। मैं डॉ. रमन सिंह और उनकी पूरी टीम को इसके लिए बधाई देता हूं।
नया रायपुर में रखी जा रही इक्कीसवीं सदी की बुनियाद
श्री मोदी ने नया रायपुर में हो रहे विकास कार्यों की चर्चा करते मुख्यमंत्री की जमकर तारीफ की। श्री मोदी ने कहा कि नया रायपुर में 21वीं सदी की बुनियाद रखी जा रही है। डॉ. रमन सिंह और उनकी टीम के द्वारा यहां जो भी विकास के कार्य किए जा रहे हैं, उसका सकारात्मक प्रभाव पूरी शताब्दी पर पड़ेगा। प्रधानमंत्री ने नया रायपुर में संचालित और निर्माणाधीन विकास प्रकल्पों की तारीफ करते हुए कहा कि हर जगह यहां पर मन को प्रभावित करने वाली योजनाएं हैं। आज से 50 साल बाद अगर कोई व्यक्ति छत्तीसगढ़ आएगा और नया रायपुर आएगा, तो उसे लगेगा कि हिन्दुस्तान का एक छोटा सा राज्य भी क्या कमाल कर सकता है।

श्री मोदी ने कहा कि आज मुझे नया रायपुर में एकात्म मानववाद के प्रवर्तक पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा के अनावरण का सौभाग्य मिला, जिनके चिंतन के प्रकाश में हम जनता की बेहतरी के लिए, समाज की अंतिम पंक्ति के लोगों की सेवा के लिए नीतियां और योजनाएं बनाते हैं। अपने हाथों आज लोकार्पित एकात्म पथ का जिक्र करते हुए श्री मोदी ने कहा कि यह जनपथ और राजपथ को जोडऩे वाला मार्ग है।
प्रधानमंत्री ने नया रायपुर में आज अपने हाथों लोकार्पित Óनंदनवन जंगल सफारीÓ को मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह का प्रिय प्रोजेक्ट बताया। श्री मोदी ने कहा कि यह ईको-पर्यटन के विकास की दृष्टि से एक महत्वपूर्ण प्रोजेक्ट है। प्राकृतिक माहौल में इसे तैयार किया गया है। न सिर्फ छत्तीसगढ़ बल्कि देश-विदेश के पर्यटकों को भी यह आकर्षित करेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि छत्तीसगढ़ में पर्यटन के लिए अपार संभावनाएं हैं। पर्यटन एक ऐसा क्षेत्र है, जिसमें कम से कम पूंजी निवेश कर अधिक से अधिक रोजगार के अवसर पैदा किए जा सकते हैं। पर्यटन गरीबों को रोजगार देता है। नया रायपुर में यह जंगल सफारी, एकात्म पथ, पर्यटन का केन्द्र बनेंगे। श्री मोदी ने अपने उदबोधन में प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना की चर्चा करते हुए कहा कि देश के पांच करोड़ गरीब परिवारों की महिलाओं को रसोई घरों में लकड़ी के धुंए से मुक्ति दिलाने के लिए हमने इस योजना की शुरूआत की है। एक जमाना था, जब रसोई गैस कनेक्शन मिलने में काफी कठिनाई होती थी, लेकिन हमने इसे आसान बना दिया है। एक गरीब माता जब अपने रसोई घर में लकड़ी के चूल्हा जलाती है, तो 400 सिगरेट के बराबर का धुंआ उसके शरीर में जाता है। ऐसे में उस मां की तबीयत का उसके बच्चों का क्या हाल होगा, इसकी चिंता करके हमने उज्ज्वला योजना के जरिए उन्हें धुंए से मुक्ति दिलाने का बीड़ा उठाया है। पांच करोड़ गरीब महिलाओं को नि:शुल्क रसोई गैस कनेक्शन दिए जा रहे हैं। इससे जंगल को भी बचाया जा सकेगा।
प्रधानमंत्री ने बच्चों के टीकाकरण के लिए संचालित इंद्रधनुष कार्यक्रम का भी उल्लेख किया। देश में पहली बार किसानों के लिए एक ऐसी फसल बीमा योजना शुरू की गई, जिसमें उन्हें किसी भी प्राकृतिक आपदा की वजह से खेतों में रखी फसल को नुकसान पहुंचने पर उसका भी मुआवजा मिलेगा। किसानों को उनकी फसल का बेहतर बाजार दिलाने के लिए पूरे देश में ई-मंडी का नेटवर्क विकसित किया जा रहा है। किसान अपने मोबाइल फोन पर किसी भी बाजार की कीमतों का पता लगाकर अपनी मर्जी से अपनी उपज बेच सकेगा।
श्री मोदी में ग्लोबल लीडर बनने की भरपूर क्षमता: रमन सिंह
मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने राज्योत्सव के शुभारंभ समारोह में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का स्वागत करते हुए कहा कि सिर्फ ढाई साल की अवधि में श्री मोदी राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर एक ऐसे नायक के रूप में उभरे हैं, जिनमें विश्व नेता (ग्लोबल लीडर) बनने की भरपूर क्षमता है। छत्तीसगढ़ को श्री मोदी का आशीर्वाद लगातार मिल रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा-श्री मोदी ने विदेशों में भारत की पहचान बनाई है। डॉ. सिंह ने आतंकवाद के खात्मे के लिए श्री मोदी के नेतृत्व में हाल ही में हुए सर्जिकल स्ट्राईक का उल्लेख किया।
डॉ. सिंह ने कहा कि श्री मोदी के मार्गदर्शन में देश में नक्सलवाद और आतंकवाद समाप्त होगा और भारत विकास की ऊंचाईयों तक पहुंचेगा। डॉ. सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री के नेतृत्व में भारत ने सिर्फ ढाई साल में विकास की एक लम्बी छलांग लगाई है। स्वच्छ भारत मिशन का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा-प्रधानमंत्री ने अपने इस महत्वपूर्ण मिशन के तहत सम्पूर्ण भारत को दो अक्टूबर 2019 तक खुले में शौचमुक्त घोषित करने का लक्ष्य दिया है। छत्तीसगढ़ में उनके इस मिशन के प्रति सभी लोगों में भारी उत्साह देखा जा रहा है। प्रदेश के पंच-सरपंचों, मंत्रियों, सांसदों, विधायकों, आम नागरिकों और ग्रामीणों सहित हम सबने मिलकर यह तय किया है कि प्रधानमंत्री के इस लक्ष्य को हम एक वर्ष पहले ही प्राप्त कर लिया जाए। उन्हें वर्ष 2019 का इंतजार नहीं करना होगा। छत्तीसगढ़ को हम लोगों ने दो अक्टूबर 2018 तक खुले में शौचमुक्त घोषित करने का संकल्प लिया है। मुख्यमंत्री ने कहा-प्रधानमंत्री ने अपनी इस योजना के जरिए देश की करोड़ों माताओं और बहनों का सम्मान बढ़ाया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि नरेन्द्र मोदी की मंशा के अनुरूप राज्य सरकार ने Óहमर छत्तीसगढ़Ó योजना शुरू की है। श्री मोदी ने एक वर्ष पहले हमें ऐसी योजना बनाने का सुझाव दिया था। इस योजना के तहत राज्य के लगभग दो लाख पंचायत प्रतिनिधियों को रायपुर और नया रायपुर आमंत्रित कर विकास कार्यों का अवलोकन कराया जा रहा है। अब तक 25 हजार पंचायत प्रतिनिधि यहां का दौरा कर चुके हैं।
डॉ. रमन सिंह ने कहा कि प्रधानमंत्री के हाथों आज पंडित दीनदयाल उपाध्याय की प्रतिमा का अनावरण और एकात्म पथ का लोकार्पण हुआ। यह एकात्म पथ वर्तमान और भावी पीढिय़ों को दीनदयाल जी के मार्ग पर चलने की प्रेरणा देगा। उनके अंत्योदय की भावना के अनुरूप छत्तीसगढ़ में लगभग 60 लाख गरीब परिवारों को खाद्य सुरक्षा के तहत सस्ता अनाज मिल रहा है। प्रधानमंत्री श्री मोदी ने केन्द्रीय राजस्व में राज्यों की हिस्सेदारी 32 प्रतिशत से बढ़ाकर 42 प्रतिशत कर दी है। इससे छत्तीसगढ़ को हर साल छह-सात हजार करोड़ रूपए की राशि अतिरिक्त मिल रही है। जन-धन योजना सहित राज्य में प्रधानमंत्री की सभी योजनाओं का बेहतर क्रियान्वयन हो रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में 32 हजार करोड़ रूपए की सड़कों का निर्माण किया जा रहा है। बिजली के क्षेत्र में 3500 करोड़ रूपए खर्च किए जा रहे हैं। सड़क, रेल और विमान कनेक्टिविटी बढ़ाने के प्रयास हो रहे हैं। यह सब इसलिए हो रहा है कि प्रधानमंत्री का आशीर्वाद हम सबके साथ है। मुख्यमंत्री ने कहा-छत्तीसगढ़ शांति और विकास के पथ पर लगातार आगे बढ़ रहा है। राज्य के हर गांव में विकास की रौशनी पहुंचाने का काम जारी है। जनता के आशीर्वाद से सरकार को चौथी बार भी छत्तीसगढ़ की जनता की सेवा का अवसर मिलेगा।
राज्यपाल बलरामजी दास टंडन की अध्यक्षता में आयोजित राज्योत्सव के शुभारंभ समारोह में विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल, केन्द्रीय इस्पात राज्य मंत्री विष्णुदेव साय, छत्तीसगढ़ सरकार के मंत्रीगण सर्वश्री अमर अग्रवाल, अजय चन्द्राकर, बृजमोहन अग्रवाल, केदार कश्यप, प्रेमप्रकाश पाण्डेय, पुन्नूलाल मोहले, राजेश मूणत, रामसेवक पैकरा, श्रीमती रमशीला साहू, दयालदास बघेल, महेश गागड़ा, भईयालाल राजवाड़े, विधानसभा उपाध्यक्ष बद्रीधर दीवान, रायपुर लोकसभा सांसद रमेश बैस, अध्यक्ष जिला पंचायत रायपुर श्रीमती शारदा देवी वर्मा और सरपंच ग्राम पंचायत उपरवारा श्रीमती रामबाई साहू तथा प्रदेश के अनेक सांसद और विधायक भी मौजूद थे।

जब प्रधानमंत्री बन गए फोटोग्राफर

छत्तीसगढ़ के सोलहवें राज्योत्सव का शुभारंभ करने पहुंचे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नया रायपुर में नन्दन वन जंगल सफारी का भी उद्घाटन किया। 320 हेक्टेयर में फैले जंगल सफारी के अवलोकन के दौरान जब उन्होंने एक स्वस्थ, बलिष्ठ और खूबसूरत बाघ को देखा तो देखते रह गए। वे अपने आपको रोक नहीं सके और पास के प्रेस फोटोग्राफर से कैमरा लेकर स्वयं फोटो खींचने लगे। गौरतलब है जंगल सफारी में बाघ के अलावा टाइगर, हिरण, हर्बीवोर और लायन सफारी विचरण करते देखे जा सकते हैं। इसके अतिरिक्त वहां 131 एकड़ में खण्डवा जलाशय फैला हुआ है जहां आने वाले समय में नेस्टिंग आइलैंड विकसित किया जाना है।
p1

 

मैंने शेर की आंखों में आँखे डालकर की मुलाकात : नरेन्द्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज छत्तीसगढ़ के नया रायपुर में Óनंदनवन जंगल सफ ारीÓ के लोकार्पण के बाद वहां लगभग 800 एकड़ में फैले जैव विविधता वाले इस मानव निर्मित वन क्षेत्र का भ्रमण किया। प्रधानमंत्री ने राज्योत्सव के शुभारंभ समारोह में विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए जंगल सफारी के अपने दिलचस्प अनुभवों को भी साझा किया। उन्होंने लोगों को बताया-आज मैंने वहां शेर की आंखों में आंखें डालकर उससे मुलाकात की। मुझे उसकी फोटो खींचने का भी मौका मिला।

उल्लेखनीय है कि जंगल सफारी का लोकार्पण करने के बाद प्रधानमंत्री मोदी मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के साथ सफारी का भ्रमण कर रहे थे। इस दौरान टाईगर सफारी में उन्होंने शेर को देखा, जो बाड़े के जाली के बेहद करीब आ गया। नरेन्द्र मोदी भी उसे पूरा मान सम्मान दिया और उसे देखकर न केवल अपनी गाड़ी रूकवाई, बल्कि खुद गाड़ी से उतरकर अपने कैमरे से उसकी फोटो खींची। इस भेंट के दौरान ऐसा लगा जैसे दोनों ने आमने-सामने खड़े होकर न केवल एक-दूसरे की आंखों में आंख डालकर बातें कर रहे हों ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.