udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news 3321 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण

3321 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण

Spread the love
देहरादून: अपर मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश ने बताया कि मा.न्यायालय के निर्देशों के क्रम में देहरादून शहर में मसूरी-देहरादून विकास प्राधिकरण, नगर निगम देहरादून एवं जिला प्रशासन देहरादून द्वारा जन सामान्य हेतु बनाये गये फुटपाथों, गलियों, सड़कों एवं अन्य स्थलों पर किये गये अनधिकृत निर्माणों एवं अवैध अतिक्रमणों में ध्वस्तीकरण, चिन्हांकन व सीलिंग का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। आज गुरूवार को इस अभियान के अन्तर्गत 64 अतिक्रमणों के चिन्हीकरण का कार्य सम्पादित किया गया है। इस प्रकार अब तक कुल 3321 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण, 6930 अतिक्रमणों का चिन्हीकरण व 108 भवनों के सीलिंग का कार्य सम्पादित किया जा चुका है।
अपर मुख्य सचिव श्री ओमप्रकाश ने गुरूवार को महिला औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान, सर्वे चौक स्थित आई.आर.डी.टी. सभागार में अतिक्रमण हटाओ टास्क फोर्स व पुलिस विभाग के उच्चाधिकारियों के साथ बैठक की। श्री ओमप्रकाश ने कहा कि पुलिस एवं लो.नि.वि के जिन अधिकारियों/कर्मचारियों ने जिन अतिक्रमण करने वाले कुल 33 लोगों के विरूद्ध एफ.आई.आर. दर्ज करायी थी, ऐसे अधिकारियों/कर्मचारियों को वे स्वयं प्रशस्ती पत्र प्रदान कर सम्मानित करेंगे। श्री ओमप्रकाश ने कहा कि अतिक्रमण हटने के बाद शहर की सड़कों का सौन्दर्यीकरण प्राथमिकता के आधार पर किया जायेगा।
उन्होंने निर्देश दिये कि सड़कों के सौन्दर्यीकरण के साथ-साथ प्राईवेट पार्किंग, वेन्डिंग जोन व बस स्टॉप का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने पुलिस विभाग के अधिकारियों से ऐसी सड़कों की रिपोर्ट उपलब्ध कराने के निर्देश दिये है जहां पर यातायात का दबाव अधिक है, ताकि उन सड़कों का पुनर्निर्माण प्राथमिकता पर किया जाए। सड़कों का सौन्दर्यीकरण चरणबद्ध रूप से सम्पादित किया जायेगा। श्री ओमप्रकाश ने कहा कि सड़कों के पुनर्निर्माण व सौन्दर्यीकरण के प्रथम चरण में सड़कों के किनारे लगे हुए बिजली के पोल व बिजली की लाईन की शिफ्टिंग का कार्य किया जायेगा। दूसरे चरण में सड़कों के किनारे नाली व डक्ट निर्माण का कार्य किया जायेगा। जबकि तीसरे चरण में सड़क के डामरीकरण व सौन्दर्यीकरण का कार्य सम्पादित किया जायेगा।
श्री ओमप्रकाश ने नगर निगम के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये है कि जिन लोगों द्वारा अपने अतिक्रमणों को स्वयं हटाने के बाद मलबे का उठान नही किया गया है ऐसे लोगों को मलबे को जल्द से जल्द उठाने के लिये नोटिस जारी किये जाए। उन्होंने कहा कि यदि फिर भी लोगों द्वारा मलबा नही उठाया जाता है, तो टास्क फोर्स द्वारा मलबा हटाया जाए और मलबा उठाने के व्यय की वसूली सम्बंधित भवन स्वामी से की जाए।
श्री ओमप्रकाश ने पुलिस विभाग के अधिकारियों से यह भी अपेक्षा की कि सड़कों के पुनर्निर्माण से पहले अपने विभाग से संबंधित कार्यों जिसमें ट्रैफिक लाईट, गाड़ियों की पार्किंग, पुलिस बेरीयर का स्थान बनाने आदि का ब्योरा टास्क फोर्स की री-कन्सट्रक्शन कमेटी को उपलब्ध करा दें। जिससे कि कमेटी द्वारा अग्रीम कार्यवाही सुनिश्चित की जा सके। श्री ओमप्रकाश ने जिलाधिकारी व नगर आयुक्त को सख्त निर्देश दिये है कि जिन थोक विक्रताओं के पास पॉलीथीन प्राप्त होती है, ऐसे थोक विक्रताओं के विरूद्ध एफ.आई.आर. दर्ज की जाए।
एडीजी श्री अशोक कुमार ने अपर मुख्य सचिव को आश्वस्त किया कि अतिक्रमण हटाने व सड़कों के सौन्दर्यीकरण के दौरान पुलिस विभाग द्वारा हर स्तर पर टास्क फोर्स को सहयोग प्रदान किया जायेगा। बैठक में सचिव शहरी विकास श्री आर.के.सुधांशु, जिलाधिकारी श्री एस.ए.मुरूगेशन, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक सुश्री निवेदिता कुकरेती, निदेशक यातायात श्री केवल खुराना, उपाध्यक्ष एमडीडीए श्री आशीष श्रीवास्तव, नगर आयुक्त श्री विजय कुमार जोगदंडे, सचिव एम.डी.डी.ए. श्री पी.सी.दुमका, अनु सचिव श्री दिनेश कुमार पुनेठा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।