udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news अधिकारियों को लापरवाही न बरतने के निर्देश

अधिकारियों को लापरवाही न बरतने के निर्देश

Spread the love
पौड़ी:  जिलाधिकारी सुशील कुमार के निर्देशन पर अपर जिलाधिकारी ने जनपद के संबंधित विभागों के साथ मोटर मार्ग निर्माण हेतु वन भूमि हस्तांतरण की समीक्षा बैठक ली। जनपद के सभी डिविजनों में कुल 20 सड़कें आॅनलाइन निस्तारण हेतु विभिन्न स्तर पर गतिमान हैं। जबकि आॅफ लाइन के मात्र 9 मामले लंबित हैं। जिसमें बैजरों के चार, कोटद्वार के पांच मोटर मार्ग गतिमान हैं। 
अपर जिलाधिकारी रामजी शरण शर्मा ने वन भूमि हस्तांतरण हेतु सभी मामले को एक-एक कर क्रमवार जानकारी ली। उन्होंने कहा कि वन भूमि हस्तांतरण हेतु जिन-जिन स्तर पर स्वीकृति हेतु प्रस्ताव लंबित हैं समस्त अधिकारी आपसी समन्वय कर निस्तारण करना सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने संबंधित अधिकारियों का एक व्हट्सऐप ग्रुप बनाने का निर्देश दिया। जिसमें उक्त मामले संबंधी अद्यतन गतिविधि की जानकारी प्रेषित करेंगे। उन्होंने सभी संबंधित अधिकारियों को किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरतने के निर्देश दिये। 
मार्गों की समीक्षा के दौरान श्रीनगर, बैजरो, सतपुली तथा कोटद्वार डिविजनों के तहत विभिन्न क्षेत्रों में डिविजनवार चार-चार मोटर मार्ग आॅनलाइन प्रक्रिया में गतिमान हैं। श्रीनगर डिविजन के तहत ओडागढ़ – नई मोटर मार्ग को विधिवत स्वीकृति, डिक्वाली – नन्दा तथा नौगांव – ईड़ा मोटर मार्ग को सैद्धांतिक स्वीकृति जबकि चपलोड़ी – कुलयाणी मोटर मार्ग अभी लंबित है। बैजरो डिविजन में भंडेली बैंड – जखोला, रौली – कुनेथा, खाल्यूंडांडा – बराड़डांडा तथा रिखड़ – धोबीघाट मोटर मार्ग विभिन्न प्रकरणों के तहत लंबित हैं।
सतपुली डिविजन के तहत कल्जीखाल – साकनीबड़ी, कल्जीखाल – फल्दा तथा झबेरा – जजेड़ी मोटर मार्गों को सैद्धांतिक स्वीकृति जबकि सिमार- ग्वाड तल्ला मोटर मार्ग लंबित है। कोटद्वार डिविजन के तहत रिंगालपानी- ग्वील ग्वारकोट, डाडामंडी – द्वारीखाल तथा तोलबाड – मोहरागांव वल्ला मोटर मार्गों को स्वीकृति हेतु जबकि मस्तखाल- सिलाडांडा, नौड़खाल – मालाकोट- सिरासू, द्वारीखाल- बरसूड़ी, नौगांव – बुकुंडी मोटर मार्ग विभिन्न प्रकरणों के तहत लंबित हैं।
अपर जिलाधिकारी ने संबंधित विभागों को  अपने संबंधित मोटर मार्गों के लंबित प्रकरणों को शीघ्र निस्तारण करने को कहा साथ ही आॅफलाइन के प्रकरणों निस्तारित करते हुए आॅनलाइन में शामिल करें। इस मौके पर ईई पीएमजीएसवाई एमएस यादव, आरसी गुप्ता, एई मो. एम हसन, संदीप सिंह, एसडीओ श्रीनगर डिविजन डीडी बछवाण, एफआरओ गढ़वाल वन प्रभाग अनिल कुमार भट्ट आदि उपस्थित रहे।