udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news  अंधविश्वासः मृत बच्चे को जिंदा करने कंकाल का लिया सहारा !

 अंधविश्वासः मृत बच्चे को जिंदा करने को कंकाल का लिया सहारा !

Spread the love

धौलपुर। राजस्थान में अंधविश्वास खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। हाल ही में राजस्थान के अलवर में चौंकाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक 36 वर्षीय व्यक्ति ने अपने मृत बेटे का कंकाल खोदकर निकाला और उसे जिंदा करने के लिए क्रिया-कर्म शुरू कराया। यह देखकर लोगों की भीड़ इक_ा होनी शुरू हो गई।

मौके पर पुलिस और स्थानीय प्रशासन की टीम ने घटनास्थल पर पहुंचकर पूजा-पाठ बंद कराया और बच्चे के कंकाल को दोबारा कब्र में दफनाया गया। घटना राजस्थान के धौलपुर जिले के बहबलपुर गांव की है। पुलिस ने बताया, व्यक्ति की पहचान राम दयाल के रूप में हुई है। राम दयाल के तीन महीने के बच्चे की मौत नौ महीने पहले हो गई थी।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, राम दयाल के अनुसार उसे एक सपना आया जिसमें एक स्थानीय देवता भैरों बाबा ने उसे बताया कि कब्र में उसका बच्चा जिंदा है। राम दयाल के मुताबिक देवता ने बेटे को जिंदा करने के लिए कब्र से कंकाल निकालकर उसके साथ पूजा शुरू कराने के लिए कहा था।

राम दयाल ने दावा किया कि उसे सपने में कहा गया था कि अगर वह बेटे को जिंदा करना चाहता है तो कंकाल के साथ दो घंटे तक पूजा करनी होगी। सुबह साढ़े दस बजे के करीब गांव के लोग कंकाल के साथ पूजा होते देखकर हैरान रह गए। पूजास्थल पर काफी संख्या में लोग मौजूद थे और इस घटना को वॉट्सऐप सहित सोशल मीडिया के दूसरे प्लैटफॉर्म पर शेयर किया गया था।

करीब साढ़े ग्यारह बजे जिला प्रशासन और पुलिस को इस बारे में सूचना मिली और उन्होंने मौके पर पहुंचकर पूजा-पाठ बंद कराया। सदर पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर छिद्दा सिंह ने बताया, हमें जैसे ही सूचना मिली हम क्रियाकर्म वाले स्थान पर पहुंचे और पूजा-पाठ बंद करने को कहा। आखिरकार कंकाल को दोबारा दफनाया गया। पुलिस राम दयाल को कस्टडी में लेकर पूछताछ कर रही है।