udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news बारिश से तबाही: उत्तराखंड में बादल फटा, केरल में 4 और जम्‍मू में 7 की मौत

बारिश से तबाही: उत्तराखंड में बादल फटा, केरल में 4 और जम्‍मू में 7 की मौत

Spread the love

नई दिल्ली: तेज़ बरसात के चलते जहां पहाड़ों में कई जगह भूस्खलन, बादल फटने की खबर है. वहीं गुजरात, महाराष्ट्र में हाई टाइड से समंदर किनारे गांवों में जिस तरह पानी घुस गया है उससे लोग परेशान हैं. पिछले 24 घंटे में उत्तराखंड के चमोली में जहां बादल फटा है. वहीं केरल में 24 घंटे में 4 लोगों की मौत हुई है. केरल के कोझिकोड में 2, अलापुझा में 1 और 1 की मौत कन्नूर में हुई है.

 

वहीं गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा, छत्तीसगढ़ में रेड अलर्ट है यानी जहां तेज़ बारिश की संभावनाएं हैं. वहीं जम्मू-कश्मीर के रियासी जिले में रविवार को सिहाड़ बाबा जलप्रपात पर बड़ा हादसा हुआ. यहां भू-स्खलन के बाद स्नान कर रहे कई लोग दब गए, जिसमें 7 लोगों की मौत गई, जबकि 30 लोग घायल हैं. मरनेवालों का आंकड़ा बढ़ सकता है, क्योंकि घायलों में कई की हालत गंभीर है. रियासी के एसएसपी के मुताबिक़, रविवार की वजह से बड़ी संख्या में लोग जलप्रपात में स्नान करने पहुंचे थे. ज़्यादातर मृतक और ज़ख़्मी जम्मू ज़िले से हैं. सभी घायलों का अस्पताल में इलाज चल रहा है.

 

वहीं गुजरात के सूरत के वराछा में बारिश के बाद हुए जल-जमाव की वजह से एक बच्चे की जान चली गई. जल-जमाव के कारण बच्चा खुले सीवर में गिरा गया और उसकी मौत हो गई. इस हादसे का सीसीटीवी फुटेज भी सामने आया है जिसमें सीवर में गिरते हुए बच्चे को देखा जा सकता है. गुजरात में भारी बरसात हो रही है. नवसारी का वासी-बोरसी गांव तीसरे दिन बारिश में डूबा नज़र आ रहा है. यहां लोगों का जनजीवन बुरी तरह से प्रभावित हुआ है. यहां हाई टाइड के बाद पानी गांव में घुसा गया. लोग सरकार की मदद का इंतज़ार कर रहे हैं.

 

मुंबई में रविवार को मॉनसून सीज़न की सबसे बड़ी हाई टाइड आई. रविवार दोपहर 1 बजकर 49 मिनट पर हाई टाइड आई. इस दौरान समंदर में ऊंची-ऊंची लहरें देखी गईं. ये हाई टाइड की ड्रोन के ज़रिए ली गई तस्वीर है. ये तस्वीर मुंबई से सटे पालघर ज़िले के सातपाटी की है. वीडियो में दिखाई पड़ रहा है कि कैसे लहरें सुरक्षा दीवार को पार कर गांव में घुस रही हैं और फिर गलियों में पानी भर गया है.

मरीन ड्राइव पर हाई टाइड की तेज़ लहरों के साथ 9 मीट्रिक टन कचरा साइडवॉक पर आ गया है. बीएमसी के मुताबिक, हर दिन साइडवॉक से इकट्ठा किए जाने कचरे के मुक़ाबले रविवार को 9 गुना कचरा आया. बीएमसी के मुताबिक, पहली बार हाई टाइड के साथ इतना कचरा बाहर आया है. कचरा इतना ज़्यादा था कि एक लेन के ट्रैफिक को बंद करना पड़ा. आस-पास की नालियां जाम हो गईं. घंटों की मशक्कत के बाद कचरे को हटाया गया.

 

महाराष्ट्र में भारी बारिश की वजह से ठाणे के मोदक सागर डैम में पानी लाबलब भर गया है. डैम में पानी ख़तरे के निशान से ऊपर बह रहा है. महाराष्ट्र में बारिश का आलम ये है कि गोंदिया के एक अस्पताल में पानी भर गया है. मरीज़ों के बिस्तर पानी में तैर रहे हैं. पानी जमा होने से अस्पताल में संक्रमण फैलने का डर है.

उत्तराखंड के चमोली ज़िले में थराली इलाके में बादल फटने से तबाही देखने को मिली है. हर तरफ़ मलबा नज़र आ रहा है. कुंडील गांव में घरों और वाहनों को खासा नुकसान पहुंचा है. ओडिशा में भारी बारिश और गोट्टा बराज के खुलने से आंध्र प्रदेश के श्रीकाकुलम ज़िले में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं. यहां पानी में 10 ट्रक फंस गए, जिससे 55 लोग बीच पानी में घिर गए. SDRF, नौसेना की टीम ने सभी लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला.