udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news बच्चों को ब्लैकबोर्ड पर पढाया एवं सामान्य ज्ञान के प्रश्न पूछे

बच्चों को ब्लैकबोर्ड पर पढाया एवं सामान्य ज्ञान के प्रश्न पूछे

Spread the love

रूद्रप्रयाग: जिलाधिकारी मंगेष घिल्डियाल ने विकास खण्ड जखोली के अन्तर्गत अतिरिक्त स्वास्थ्य केन्द्र जैली एवं राजकीय प्राथमिक विद्यालय व आंगनवाडी केन्द्र जैली का औचक निरीक्षण किया। अतिरिक्त स्वास्थ्य केन्द्र जैली के निरीक्षण के दौरान पाया कि स्वच्छक कर्मचारी द्वारा उपस्थिति पंजिका में उपस्थित दर्ज थी किन्तु स्वास्थ्य केन्द्र मंे अनुपस्थित पाये जाने पर जिलाधिकारी ने स्वच्छक का स्पष्टीकरण तथा एक दिन का वेतन रोकने के निर्देष दिए।

जिलाधिकारी ने आज प्रातः 8ः35 बजे अतिरिक्त स्वास्थ्य केन्द्र जैली में जाकर उपस्थित पंजिका एवं ओ.पी.डी. पंजिका का निरीक्षण किया। अतिरिक्त स्वास्थ्य केन्द्र में दो कर्मचारी कार्यरत है जिसमें एक फार्मेसिस्ट व एक स्वच्छक है। जिलाधिकारी द्वारा उपस्थित पंजिका का निरीक्षण के दौरान पाया कि स्वच्छक द्वारा उपस्थिति पंजिका में उपस्थित दर्ज कर केन्द्र से गायब मिला। इस पर जिलाधिकारी ने स्वच्छक का स्पष्टीकरण के साथ ही एक दिन का वेतन रोकने के निर्देष दिए। जिलाधिकारी ने औषधियों का रखरखाव एवं सफाई ठीक न होने पर फार्मेसिस्ट भुवनेष्वर को कड़ी फटकार लगाई।

इसके पश्चात जिलाधिकारी ने प्राथमिक विद्यालय जैली में जाकर उपस्थिति पंजिका का अवलोकन किया जिसमें दो अध्यापक कार्यरत है एवं 29 छात्र-छात्रायें अध्यनरत् है जिसमें से 27 छात्र-छात्रायें उपस्थित पाये गये। हिन्दी दिवस के अवसर पर विद्यालय में बच्चों द्वारा कविता पाठ कराया जा रहा था।

विद्यालय में जिलाधिकारी के पहुंचने पर षिक्षकों एवं विद्यार्थियों में हर्ष की लहर दौड़ पडी। विद्यालय में चल रही कविता पाठ के दौरान जिलाधिकारी ने विद्यार्थियो से गांव, जिला एवं प्रदेष के बारे में प्रष्न पूछे जिस पर बच्चों ने बखूबी से उत्तर दिया। इसके पश्चात जिलाधिकारी ने कक्षा चार व पांच  में जाकर बच्चों को ब्लैकबोर्ड पर पढाया एवं सामान्य ज्ञान के प्रष्न पूछे।

जिलाधिकारी ने आंगनवाडी केन्द्र मंे जाकर रजिस्ट्ररों का अवलोकन किया। आगंनवाडी केन्द्र में 14 बच्चे है जिसमें से 11 बच्चे उपस्थित पाये गये। जिलाधिकारी ने मध्यान्ह भोजनालय में जाकर दाल, चावल, नमक, तेल का भी निरीक्षण किया गया। इस अवसर प्रधानाध्यापक माधव सिंह नेगी ने बताया कि विद्यालय की छत तथा दो शौचालय है किन्तु जीर्ण-षीर्ण हो चुके है। उन्हे ठीक करने की मांग जिलाधिकारी के समक्ष रखी।

इस अवसर पर सहायक अध्यापक कान्ति प्रसाद भट्ट, सहायक आंगनवाडी कार्यकत्री संगीता राणा एवं भोजन माता सुमन देवी भट्ट उपस्थित थे।