udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news बदरीनाथ के कपाट खुलने की प्रक्रिया 28 से होगी शुरू

बदरीनाथ के कपाट खुलने की प्रक्रिया 28 से होगी शुरू

Spread the love

चमोली। बदरीनाथ धाम के कपाटोत्सव की प्रक्रिया 28 अप्रैल से शुरू होगी ढ्ढ श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के मीडिया प्रभारी डा. हरीश गौड़ ने बताया कि कार्यक्रम के तहत 28 अप्रैल को दोपहर में आदि गुरु शंकराचार्य की गद्दी, शीतकालीन गद्दी स्थल श्री ऩृसिंह मंदिर जोशीमठ से प्रधान पुजारी रावल सहित पांडुकेश्वर के योगध्यान बदरी मंदिर के लिए प्रस्थान करेगी।

 

साथ में गाडुघड़ा( तेल कलश) भी रवाना होंगे। रात्रि विश्राम योगध्यान बदरी पांडुकेश्वर में रहेगा।29 अप्रैल को आदि गुरु शंकराचार्य की गद्दी और भगवान के बड़े भाई उद्धव, खजांची कुबेर पांडुकेश्वर से बदरीनाथ धाम के लिए प्रस्थान करेंगे। सभी उत्सव विगृह शाम को बदरीनाथ धाम पहुंचेंगे ढ्ढ 30 अप्रैल को सुबह 4.30 बजे वैदिक पूजाओं के साथ बदरीनाथ धाम के कपाट श्रद्धालुओं के दर्शनार्थ खोल दिए जाएंगे।

 

बदरीनाथ – केदारनाथ मंदिर समिति के मुख्य कार्याधिकारी बीडी सिंह ने बताया कि बदरीनाथ धाम में कपाट खुलने से पहले मंदिर समिति के अग्रिम दल ने व्यवस्थाएं पूरी कर ली हैं। दल ने मंदिर का सौंदर्यीकरण, परिसर में रंग रोगन, विश्राम गृहों में आवासीय व्यवस्था, विद्युत, पेयजल, टोकन काउंटर, स्वागत कक्ष, दर्शन पंक्ति शेल्टर, संबंधी कार्य पूरे किए गए हैं।

कभी धूप तो कभी छाए रहे आसमान में बादल
चमोली जिले में मौसम के अलग-अलग रंग देखने को मिल रहे हैं। यहां के मौसम को देखकर देश विदेश से आए यात्री व पर्यटक भी यहां की वादियों की ओर आकर्षित हो रहे हैं।

चमोली जिले में सुबह से चटख धूप खिली हुई थी। गर्मी से निपटने के लिए लोगों ने पंखे व तालाबों का सहारा लिया। दोपहर बाद अचानक मौसम का मिजाज बदल गया।

निचले क्षेत्रों में आसमान में बादल छाने के साथ ही उच्च हिमालयी क्षेत्रों में हल्की बूंदाबांदी हुई। इससे यहां के मौसम में ठंडक महसूस की गई। दोपहर बाद जिला मुख्यालय गोपेश्वर में तेज आंधी के चलते जनजीवन अस्त व्यस्त भी रहा।