udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news बेंगलुरु सिटी पुलिस : डराकर नहीं, हंसाकर पढ़ाती है कानून का पाठ

बेंगलुरु सिटी पुलिस : डराकर नहीं, हंसाकर पढ़ाती है कानून का पाठ

Spread the love

नई दिल्ली । बेंगलुरु की पुलिस फील्ड में जैसी भी हो, सोशल मीडिया पर तहलका मचा रखा है. अपने ट्विटर हैंडल और फेसबुक पेज से ये अनोखे तरीके से लोगों को सूचनाएं पहुंचाती है और कई मुद्दों पर जागरूकता बढ़ाती है.

 
इन दिनों बेंगलुरु सिटी पुलिस ट्रैफिक और सडक़ सुरक्षा को लेकर एक अनोखा अभियान चला रही है. इस अभियान के तहत बेंगलुरु सिटी पुलिस बाइक चलाने वालों को हेलमेट का महत्व समझा रही है. पुलिस सडक़ सुरक्षा का महत्व समझाने के लिए फनी पोस्टर्स बना रही है और सोशल मीडिया पर पोस्ट कर रही है.

 
बेंगलुरु सिटी पुलिस के मुताबिक लोग हेलमेट, दुर्घटना से बचने के लिए नहीं बल्कि पुलिस से बचने के लिए पहनते हैं. जनता की इसी सोच को बदलने के लिए पुलिस अपने ऑफिशियल फेसबुक पेज पर मजाकिया तस्वीरें पोस्ट कर रही है.

 
पुलिस इन फनी तस्वीरों के जरिये लोगों को यही समझाने की कोशिश कर रही है कि हेलमेट पहनना कितना जरूरी होता है. साथ ही पुलिस का कहना है कि हेलमेट पहनना कोई मुश्किल काम नहीं है, इसलिए अपनी सुरक्षा के लिए हेलमेट पहनना चाहिए. इस तस्वीर में बताया गया है कि जब लोग अपने मोबाइल के लिए कवर खरीद सकते हैं, उस पर स्क्रीनगार्ड लगवा सकते हैं तो फिर अपनी जान की कीमत इतनी सस्ती क्यों. अपनी जान बचाने के लिए लोग हेलमेट क्यों नहीं पहन सकते हैं?

 
इससे पहले भी बेंगलुरु पुलिस ने हेलमेट पहनने के लिए लोगों को गेम ऑफ थ्रोंस की एक फनी तस्वीर के जरिए जागरुक किया था.
बेंगलुरु सिटी पुलिस द्वारा पोस्ट की गई इस इमेज से कई लोगों ने खुद को जोड़ा, फेसबुक पर इस इमेज को हजारो लोग शेयर कर चुके हैं और कर रहे हैं. कई लोगों को यह देखकर अच्छा लगा कि पुलिस इतनी गंभीर बात को किस तरह हल्के और मजाकिया अंदाज में समझा रही है.

 
बता दें कि बेंगलुरु सिटी पुलिस सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव है और ऐसे ही हल्के-फुल्के कंटेंट के जरिए लोगों को जागरुक कर रही है और आम जनमानस से संवाद कायम कर रहे हैं.

 
ड्रग्स की समस्या से जूझ रही पुलिस ने ड्रग एडिक्ट को सही राह पर लाने का नया तरीका निकाला है. अगर आपका डीलर आपको आपकी डिलीवरी देने नहीं पहुंचा, तो इसकी वजह ये हो सकती है. कोई बात नहीं. आप आकर पुलिस स्टेशन से ले जाएं.

 
रोड सेफ्टी अगेन. रोड सेफ्टी को लेकर एक पोस्टर शेयर किया और लिखा, यही वो पल है, जब इन्हें पता चला होगा कि इन्हें अपना ये सर्कस सडक़ पर नहीं लाना चाहिए था. अपनी और दूसरों की जिंदगियों को खतरे में क्यों डालना?

 
बता दें कि सोशल मीडिया पर बस बेंगलुरु पुलिस ही अपने कॉमेडी और चुटीले अंदाज के जौहर नहीं दिखा रही. मुंबई पुलिस ने भी कुछ ऐसा ही रुख अपनाया था. कुछ दिनों पहले मुंबई पुलिस भी अपने ट्वीट्स को लेकर चर्चा में रही थी.