udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news चालक के नशे में वाहन चलाने से यात्री बनते है मृत्यु का शिकार !

चालक के नशे में वाहन चलाने से यात्री बनते है मृत्यु का शिकार !

Spread the love

रूद्रप्रयाग : जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल की अध्यक्षता में सडक सुरक्षा एवं दुर्घटना न्यूनीकरण से संबधित बैठक जिला कार्यालय सभागार में आयोजित की गई।

बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी ने जिला आपदा प्रबन्धन अधिकारी को दुर्घटना के समय में मौके पर एम्बुलेंस के पहुचने का समय व एम्बुलेंस द्वारा मरीज को स्वास्थ्य विभाग तक पहुचने के समय का विवरण तैयार करने के निर्देश दिए जिससे पता चल सके कितनी देर में मरीज को एम्बुलेंस सेवा, स्वास्थ्य सुविधा व राहत सहायता प्रदान की गई।

इसके साथ ही एआरटीओं को अब तक दुर्घटना में मृत हुए व्यक्तियों की पोस्टमार्टम रिपोर्ट एकत्रित कर अध्ययन करने को कहा।कहा कि रिपोर्ट में देखा जाए कितने व्यक्तियों की मृत्यु ड्रिंक एंड ड्राइव के कारण हुई है। ंिड्रक एंड ड्राइव केसों पर नियन्त्रण के लिए नियमित सघन चैंकिग अभियान चलाने के निर्देश दिए। कहा कि चालक के नशे में वाहन चलाने से यात्री मृत्यु का शिकार बनते है।

बैठक में जिलाधिकारी द्वारा जनवरी 2018 से मई 2018 तक जनपद में पुलिस, राजस्व क्षेत्र में हुई दुर्घटनाओं के कारण व कारणों को दूर करने पर चर्चा की गई। जनपद में अब तक कुल 04 दुर्घटनाए हुई है। जनपद में चालको द्वारा यातायात नियमों का उल्लंघन करने पर पुलिस व परिवहन विभाग द्वारा 37 व्यक्तियों के ड्राइविंग लाइसेन्स के निरस्तीकरण की संस्तुति की गई थी जिनमे से 31 चालकों के लाइसेन्स निरस्त हुए है। बैठक में निर्माणदायी संस्थाओं के अधिशासी अभियन्ताओं द्वारा जिलाधिकारी को अवगत कराया गया कि जनपद में हाॅट स्पाॅटों की संख्या शून्य है।

संवेदनशील मोटरमार्गो जहां अधिकांश दुर्घटनाए होती है ऐसे स्थलों पर निर्माणदायी संस्थाओं द्वारा पूर्व बैठक में दिए गए निर्देशों के क्रम में क्रैश बैरियर लगाए है। लोनिवि द्वारा चोपता-गढीधार मोटरमार्ग में 90 मीटर के पैच में, मयाली-चिरबटिया मार्ग मे 300 मीटर के पैच  व आदि स्थलों पर लगाए है।

लोनिवि, पीएमजीएसवाई द्वारा 39 स्लिप जोन वाले स्थलों पर सूचनार्थ बोर्ड लगाए है।  इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक पीएन मीना, एससी लोनिवि मुकेश परमार, एसडीएम सदर देवानन्द, अधिशासी अभियंता एन एच जे0 के0 त्रिपाठी, लोनिवि इन्द्रजीत बोस, पीएमजीएसवाई आर सी उनियाल, सीओ श्रीधर बडोला, तहसीलदार जखोली शालिनी मौर्य सहित संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।