udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news छात्रों को भारतीय इतिहास व सांस्कृतिक मूल्यों की जानकारी जरूरी: राज्यपाल

छात्रों को भारतीय इतिहास व सांस्कृतिक मूल्यों की जानकारी जरूरी: राज्यपाल

Spread the love

देहरादून। राज्यपाल डॉ. कृष्ण कांत पाल ने कहा कि छात्रों को स्कूल स्तर पर ही भारत के इतिहास व यहां के सांस्कृतिक मूल्यों की शिक्षा दी जानी चाहिए। उन्हें अपने देश के इतिहास, यहां के सामाजिक जीवन, कला, संस्कृति व दर्शन का ज्ञान होना आवश्यक है। सोमवार को राजभवन में दून स्कूल से आए छात्रों के समूह ने राज्यपाल से शिष्टाचार भेंट की और अपनी पढ़ाई व अन्य गतिविधियों के संबंध में जानकारी दी।

 

राज्यपाल ने कहा कि स्कूली किताबों के इतर भी अन्य किताबें पढऩे पर छात्रों को ध्यान देना चाहिए। इंटरनेट से सूचना प्राप्त होती है जबकि किताबें ज्ञान देती हैं। किसी सूचना के विभिन्न पक्षों की व्यापक जानकारी किताबों से ही मिल सकती है। राज्यपाल ने बच्चों में किताबें पढऩे की आदत विकसित किए जाने पर बल दिया।

 

राज्यपाल ने कहा कि पढ़ाई के साथ छात्र शिक्षणेत्तर गतिविधियों के रूप में स्वच्छ भारत, महिलाओं के प्रति सम्मान, सडक़ दुर्घटनाओं पर जनजागरूकता संबंधी कार्यक्रम संचालित कर सकते हैं। छात्रों ने अनेक विषयों पर राज्यपाल से मार्गदर्शन प्राप्त किया। राज्यपाल ने कहा कि महिलाओं के प्रति हिंसा व दुव्र्यवहार बहुत ही खेदजनक है। कानून के पालन के साथ ही लोगों की मानसिकता में भी परिवर्तन लाना होगा। इसके लिए लडक़ों को बचपन से ही महिलाओं व कन्याओं का सम्मान करना सिखाया जाना चाहिए।

 

इसकी शुरूआत घरों से की जा सकती है। जब लडक़ों में परिवार में अपनी माताओं व बहनों का सम्मान की भावना विकसित हो जाएगी तो बड़े होकर वे स्वत: ही अन्य महिलाओं का सम्मान करने लगेंगे। राज्यपाल ने कहा कि वाहन दुर्घटनाएं भी चिंता का विषय है। बहुत से लोग ट्रेफिक नियमों की अनदेखी करते हैं। ऐसे लोगों को भी जागरूक किए जाने की जरूरत है।

 

लोगों को यह महसूस कराना होगा कि अपने आस-पास साफ-सफाई रखना, ट्रेफिक नियमों का पालन करना केवल एक सामाजिक दायित्व ही नहीं है, बल्कि खुद लोगों के हित में है। राज्यपाल ने छात्रों से श्री केदारनाथ व श्री बदरीनाथ जी के बारे में पूछा। उन्होंने छात्रों से यह भी जानकारी ली कि वे वर्तमान में किस प्रकार की किताबें पढ़ रहे हैं।