चिकित्सालय के औषधी वितरण कक्ष में दवाई की जानकारी ली

Spread the love

रूद्रप्रयाग:    जिलाधिकारी मंगेष घिल्डियाल ने जिला चिकित्सालय का औचक निरीक्षण किया गया।  जिलाधिकारी द्वारा सर्वप्रथम चिकित्सालय के औषधी वितरण कक्ष में दवाई की जानकारी ली।

 

जिलाधिकारी ने चीफ फारमेस्टि से पूछा कि आपके स्टाॅक में सभी दवाईयां उपलब्ध है या नही जिस पर चीफ फारमेस्टि ने बताया कि जो दवाईयां समाप्त हो गयी है उन दवाईयों को मंगाया गया है। जिस पर जिलाधिकारी ने कहा कि दवाईयां का स्टाॅक कम होने पर तुरन्त ही दवाईयां मंगाई जाय,

 

जिस से मरीजों को दवाईयां बाहर से न लेने पडे। जिलाधिकारी ने जिला अस्पताल में महिला और पुरूष शौचालय का निरीक्षण करते हुये विभाग को निर्देष दिये कि अस्पताल के सभी शौचालयों में टायल्स लगाने को कहा तथा सभी वार्ड एवं कमरों में खिडकियों पर पर्दे तथा चिकित्सालय में आयुषमान भारत योजना का बोर्ड लगाने के निर्दष दिये।

जिलाधिकारी ने आकस्मिक चिकित्साधिकारी कक्ष में जाकर मरीजों की संख्या के बारे में जानाकरी ली। उन्होेने ड्रेसिंग रूम, इंजेक्षन कक्ष, नर्सिग स्टेषन कक्ष,  ओ.पी.डी., बाल रोग कक्ष, प्रसूती वार्ड, आपरेषन कक्ष, अल्ट्रासाउण्ड कक्ष, एक्स-रे कक्ष, नेत्र रोग कक्ष, मानसिक रोग कक्ष, दन्त रोग कक्ष, फिजिषियन कक्ष, ओ.टी. हड्डी कक्ष, होम्योपैथिक विभाग, आयुर्वेद्विक विभाग आदि कक्षों में जाकर निरीक्षण किया।

 

जिलाधिकारी ने जिला चिकित्सालय में  साफ-सफाई के साथ मरीजों का हाल-चाल पूछा साथ ही मरीजों से कहा कि डाक्ट्रर दवाईयां बाहर से तो नही मंगा रहे है जिस पर मरीजों ने बताया कि हमें सभी दवाईयां अस्पताल से ही उपलब्ध हो रही है।

जिलाधिकारी द्वारा जिला चिकित्सालय के भोजनालय का निरीक्षण किया गया। जिसमे दाल, चावल, सब्जी, फल, तेल सभी खाद्य सामान का निरीक्षण किया गया। जिलाधिकारी ने भोजनालय में साफ-सफाई पर विषेष ध्यान देने को कहा, जिससे मरीजों को उत्तम भोजन मिल सके।

 

जिलाधिकारी द्वारा जिला चिकित्सालय में पंजीकरण कक्ष में पंजीकृत मरीजो की संख्या के बारे में जानकारी ली साथ ही कहा कि आयुष्मान योजना के कार्ड जिन व्यक्तियों के पास हो उन्हे योजना के अन्र्तगत लाभान्वित किया जाय।

इस अवसर पर मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ एस. के. झा, मुख्य चिकित्साधीक्षक डाॅ दिनेष सेमवाल, वैयक्ति अघिकारी ओम प्रकाष विष्ट सहित जिला चिकित्सालय के अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित थे।