udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news चिरबटिया होगा पर्यटन हब के रूप मे विकसित

चिरबटिया होगा पर्यटन हब के रूप मे विकसित

Spread the love

रूद्रप्रयाग :    राज्य के 13 पर्यटन डेस्टिनेशन में शुमार जखोली विकासखण्ड चिरबटिया को पर्यटन हब के रूप मे विकसित किया जाना है। इसके लिए जिला प्रशासनए स्वायत्त सहकारिता समूह पहल संस्थाए रिलायंस फाउण्डेशन द्वारा मिलकर क्षेत्र के सर्वागीण विकास के लिए कार्य जा रहा है। पर्वतीय हाॅफ मैराथन की थीम लाइन रन फाॅर हिल्स है।

 

29 अगस्त को खेल दिवस के अवसर पर मेजर ध्यानचंद को श्रद्धाजलि देने हेतु हाॅफ मैराथन का आयोजन किया जा रहा है। हाॅफ मैराथन के माध्यम से युवाओ को खेल जगत के लिए चिन्हित करए उनके भविष्य को खेल जगत में संवारा जा सकता है। इसके साथ ही गांव में छुपी हुई प्रतिभाओ का चिन्हिरण भी किया जाना है। इवेंट का मुख्य उद्देश्य चिरबटिया को वैश्विक स्तर पर पर्यटन केन्द्र के रूप में पहचान दिलाना है जिससे स्थानीय लोगो को रोजगार की अपार संभावनाए मिलेगी।

जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने प्रेस वार्ता के माध्यम से बताया कि चिरबटिया के साथ ही इसके आस पास के क्षेत्रो से विकासात्मक क्रियाओ से जोडने का लक्ष्य रखा गया है। चिरबटिया से पालाकुराली मोटर मार्ग में हाफ मैराथन 21 किमी की दौड के साथ ही अन्य 04 वर्ग है।

प्रथम वर्ग ओपन कैटगरी हाॅॅफ मैराथन 21 किमी में 21 वर्ष से अधिक के लिएए 15 किमी पुरूष वर्ग 18 वर्ष से अधिक आयुए 10 किमी महिला वर्ग 18 वर्ष से अधिक आयुए 05 किमी की दौड 14 से 17 वर्ष की आयु के बालक एवं बालिका दोनो के लिएए 03 किमी की दौड 21 वर्ष से अधिक आयु की महिलाओ के लिए रखी गई है। पर्वतीय हाफ ओपन मैराथन के प्रथम दस स्थान पर आने वाले व्यक्तियों को दिल्ली में आयोजित होने वाली मैराथन मे प्रतिभाग का अवसर दिया जाएगा। इसके साथ ही विजेताओं को आकर्षक ईनामए धनराशि भी दी उपहार स्वरूप दी जाएगी।

इसके लिए जिलाधिकारी द्वारा एसडीएम जखोली व जिला क्रीडा अधिकारी को ट्रैक का निरीक्षण करनेए स्वास्थ्य विभाग द्वारा मेडिकल टीमए जल संस्थान द्वारा पानी की व्यवस्थाए पुलिस विभाग द्वारा यातायात व्यवस्था आदि के पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए। मैराथन के लिए अब तक 543 युवक एवं युवतियों द्वारा हाॅफ मैराथन के लिए पंजीकरण कराया गया है।
हाॅफ मैराथन के आयोजन में ग्रामीणों द्वारा विशेष सहयोग दिया जा रहा है। गांव में 15 घर होम स्टे के रूप मे चिन्हित किए गए है। ग्रामीणों द्वारा स्थानीय उत्पाद की थाली 80रूप्ये प्रति प्लेटए राजमाण्चावल 30रूपये की दर से दी जाएगी। स्थानीय उत्पाद की थाली में मंडुवे की रोटीए काफलाए झंगोरे की खीरए लाल चावलए चटनी इत्यादि व्यंजन शामिल है।

इस अवसर पर विधायक रूद्रप्रयाग भरत सिंह चैधरीए पहल संस्था के अध्यक्ष वीरेन्द्र सिंह राणाए उपाध्यक्ष नरेन्द्र सिंहए रिलायंस फाउण्डेशन के टीम लीडर प्रकाश सिंहए जिला पर्यटन साहसिक अधिकारी सुशील नौटियालए क्रीडा अधिकारी महेशी आर्य सहित अन्य लोग उपस्थित थे।