udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news चोटियों पर जाना रहस्य व रोमांच से भरपूर होगा

चोटियों पर जाना रहस्य व रोमांच से भरपूर होगा

Spread the love
देहरादून: मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गुरूवार को मुख्यमंत्री आवास में उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद व निम (नेहरू इन्स्टीटयूट आॅफ माउन्टनियरिंग) द्वारा सयुंक्त रूप से आयोजित मिशन अटल जाइन्ट एक्सपेडिशन आॅफ यूटीडीबी एण्ड निम को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया।
गौरतलब है कि मिशन अटल जाॅइन्ट एक्सपेडिशन के तहत उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद व निम की सयुंक्त टीमों द्वारा गंगोत्री ग्लेशियर स्थित 6557 मीटर व 6566 मीटर अनाम चोटियों को लगभग 25 से 30 दिन के भीतर फतह किया जाएगा। उक्त चोटियों के नाम भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्व.श्री अटल बिहारी वाजपेयी के नाम पर अटल-1 व अटल-2 रखे जायेंगे।
उक्त अनाम चोटियों को अभी तक पर्वतारोहियों द्वारा फतह नही किया गया है। पर्वतारोही टीम को बधाई व शुुभकामनाएं देते हुए मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि गंगोत्री ग्लेशियर की दो चोटियां जिनको अभी तक फतह नही किया गया है, ऐसी चोटियों पर जाना रहस्य व रोमांच से भरपूर होगा।
पूर्व प्रधानमंत्री स्व.श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी का व्यक्तित्व भी विशाल व धवल था। यह गौरव कि बात है कि उत्तराखण्ड हिमालय की दो चोटियां श्रद्धेय अटल जी के नाम से याद की जाएगी।
पर्वतारोही दल द्वारा वृक्षारोपण, पाॅलीथीन के प्रयोग न करने व पर्यावरण संरक्षण का संदेश भी इस मिशन द्वारा दिया जाएगा, ऐसी आशा है। हम चाहते है कि उत्तराखण्ड अच्छे पर्यावरण के लिए जाना जाए। हमारे पूर्वज, संस्कृति, परम्पराएं प्रकृति से गहराई से जुड़ी है।
इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री श्री सतपाल महाराज, निम के प्रिंसीपल कर्नल अमित बिष्ट, उत्तराखण्ड पर्यटन विकास परिषद के सदस्य श्री अवधेश भट्ट उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से मुख्यमंत्री आवास में तिब्बती सांसद श्री जमम्पेल तेन्जीन, श्री दावा छित्डिग, श्री टासी दुन्डुप, श्री कारवल नोर्बु, श्री हिसे तेन्जीड ने शिष्टाचार भेंट की। इस अवसर भारत तिब्बत सहयोग मंच के उपाध्यक्ष श्री महेश पाण्डेय, महासचिव श्री इन्द्रपाल कोहली भी उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने गुरूवार को मुख्यमंत्री आवास में हिमालयी संरक्षण अभियान हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। प्रान्तीय उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल उत्तराखण्ड द्वारा आयोजित हिमालयी संरक्षण अभियान रैली 2018 के तहत व्यापार मण्डलों द्वारा चार दिनों की रैली में पर्यावरण संरक्षण, वृक्षारोपण, रिस्पना व कोसी पुनर्जीवीकरण को सहयोग के लिए प्रयास किए जाएगे।
हिमालयी संरक्षण अभियान 2018 के सफल संचालन के लिए शुभकामनाएं व बधाई देते हुए मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण व हिमालय संरक्षण में के प्रति जन जागरूकता को निरन्तर बढ़ाना होग
राज्य सरकार द्वारा पर्यावरण संरक्षण, वृक्षारोपण, नदियों के पुनर्जीवीकरण, पाॅलीथीन के प्रयोग को हतोत्साहित करने के लिए विभिन्न प्रयास किए जा रहे है। सरकार के प्रयासो के साथ ही व्यापक सक्रिय जनभागीदारी से पर्यावरण संरक्षण की दिषा में अच्छे परिणाम मिल सकते है। हिमालय का संरक्षण हम सबकी जिम्मेदारी है।
इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री श्री सतपाल महाराज, प्रान्तीय उद्योग व्यापार प्रतिनिधि मण्डल के प्रान्तीय अध्यक्ष श्री अनिल गोयल, प्रान्तीय महामंत्री श्री नवीन वर्मा उपस्थित थे।