udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news धाम में निर्माणीधीन पुनर्निर्माण कार्यों का जायज़ा लिया

धाम में निर्माणीधीन पुनर्निर्माण कार्यों का जायज़ा लिया

Spread the love

रूद्रप्रयाग:    महामहिम राज्यपाल उत्तराखण्ड श्रीमती बेबी रानी मौर्य ने केदारनाथ धाम में दर्षन कर पूजा-अर्चना की। महामहिम ने कहा कि धाम में दर्षन से अद्भुत षक्ति की अनुभूति हुई। इसके साथ ही उन्होंने धाम में निर्माणीधीन पुनर्निर्माण कार्यों का जायज़ा लिया।

धाम में पूजा-अर्चना व दर्षन करने के बाद महामहिम हेलीकाप्टर से गुलाबराय मैदान, रूद्रप्रयाग पहुँचने के बाद जिला अस्पताल का निरीक्षण किया। जिला चिकित्सालय में जनरल वार्ड के निरीक्षण के साथ ही अस्पताल में उपस्थित पैरामैडिकल स्टाफ से बातचीत की।

बातचीत के दौरान स्टाफ से उनकी समस्याओं के बारे में पूछा जिस संबंध में स्टाॅफ द्वारा अवगत कराया गया कि किसी प्रकार की समस्या नहीं है।

जिला चिकित्सालय में निरीक्षण के पष्चात महामहिम राज्यपाल ने विकास भवन में स्वयं सहायता समूहों द्वारा प्रदर्षित स्थानीय उत्पादों के स्टाॅलों का निरीक्षण किया। इस अवसर पर उन्होंने स्थानीय उत्पाद चैलाई, मंडुवा, लिंगोडे का आचार, एरोमा, हथकरघा आदि उत्पादों की जानकारी समूहों से ली।

भेड़ की ऊन से निर्मित दोखे के बारे में समूह द्वारा बताया कि इसकी विषेषता है कि इसमें पानी नहीं टिकता। समूहों ने यह बताया कि उनके द्वारा एरोमेटिक उत्पादों को आॅनलाइन अमेजन में भी बेचा जा रहा है। इस अवसर पर महामहिम ने हर्बल धूप, जूट बैग व अन्य स्थानीय उत्पादों की खरीददारी भी की।

विकास भवन में जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ केन्द्र सरकार द्वारा संचालित योजनाओं की अद्यतन स्थिति की जानकारी लेते हुए विभागाध्यक्ष को योजनाओं की रिपोर्ट तैयार कर देने के निर्देष महामहिम ने दिए। समीक्षा बैठक के दौरान विभागाध्यक्ष ने प्रधानमंत्री आवास योजना, प्रधानमंत्री सड़क योजना, उज्जवला योजना, आयुष्मान भारत, केदारनाथ यात्रा, प्रसाद आदि की जानकारी महामहिम को दी।

जनपद में स्वास्थ्य व षिक्षा विभाग में कार्यरत डाॅक्टर व षिक्षको की स्वीकृति के सापेक्ष कार्यरत व रिक्त पदो ंके विषय में जानकारी ली। डाॅक्टर की स्थिति के संबंध में एसीएमओ डाॅ ओ पी आर्य ने बताया कि जिला चिकित्सालय में स्वीकृत 22 पदों के सापेक्ष 21 कार्यरत है। माध्यमिक षिक्षा के संबंध में जिला षिक्षा अधिकारी माध्यमिक एल एस दानू ने बताया कि माध्यमिक षिक्षा में प्रवक्ता के 276, एल टी में 231 पद व बेसिक षिक्षा में 217 पद जनपद में रिक्त है।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक पी एन मीना ने केदारनाथ धाम के पौराणिक महत्व के साथ ही यात्रा के बारे में विस्तारपूर्वक जानकारी देते हुए बताया कि इस वर्ष अब तक लगभग 07 लाख 06 हजार यात्रियों ने केदारनाथ धाम के दर्षन किए है जो कि अब तक की केदारनाथ यात्रा का सबसे बड़ा आंकडा है। इसके साथ ही यात्रा के 06 पड़ावो पर मेडिकल, एसडीआरएफ व पुलिस की टीम यात्रियों की सुविधा हेतु तैनात रहती है। इसके साथ ही लगभग 08 हजार यात्रियों की ठहरने की केदारनाथ में व्यवस्था है जिसमें जीएमवीएन काॅटेज, तीर्थ-पुरोहितों के घर, टेन्ट व अन्य सुविधायें है।

जनपद में हो रही दुर्घटनाओं के विषय में पूछने पर एस पी ने बताया कि जनपद में एक भी ब्लैक स्पाॅट नहीं है व जनपद के 28 डेन्जर को कम करते हुए 13 कर दिया गया है।इसके साथ ही समय पर लोगों को जागरूक करने हेतु जागरूकता अभियान चलाया जाता है। जनपद में परिवहन, पुलिस के साथ ही राजस्व विभाग द्वारा नियमित गाड़ियो की चैकिंग की जा रही है। यही कारण है कि जनपद में दुर्घटनाये कम होती है।

 

भारत सरकार का लक्ष्य है कि दुर्घटनाओं को 2015 के आंकडे के अनुसार 2022 तक आधा करना है वह लक्ष्य जनपद में 2017 में ही पूरा कर लिया है। इस सम्बन्ध में अधिषासी अभियन्ता लोनिवि इन्द्रजीत बोस ने बताया कि मार्गो पर आवष्यकतानुसार लगभ्सग 3300 मीटर पर क्रैष बैरियर, 1500 मीटर पर डेलिनेटर, 17 किलोमीटर पर थर्मो प्लास्टिक पेन्ट, व चेतावनी बोर्ड लगाए गए है।

इस अवसर पर एडीसी गवर्नर मुदित सूद, अपर जिलाधिकारी गिरीष गुणवन्त, डीएफओ मयंक षेखर, सीडीओ एन एस रावत, एसडीएम सदर देवानन्द, जखोली देवमूर्ति यादव, एसीएमओ डाॅ ओपी आर्य, डीडीओ ए एस गुज्याल सहित जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।