udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news दूसरी तिमाही में शक्ति पम्पस को 9.27 करोड़ रुपए मुनाफा

दूसरी तिमाही में शक्ति पम्पस को 9.27 करोड़ रुपए मुनाफा

Spread the love
कुल राजस्व 104 प्रतिशत बढ़कर 139 करोड़ रुपए हुआ
देहरादून। भारत के अग्रणी एनर्जी एफीशिएंट स्टेनलेस स्टील और सोलर इंटीग्रेटेड पंप बनाने वाली शक्ति पम्पस (इंडिया) लिमिटेड ने वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही शानदार प्रदर्शन किया है।
सौ से ज्यादा देशों में अपने प्रोडक्ट एक्सपोर्ट करने वाली शक्ति पंप लि. ने 30 सितंबर, 2018 को समाप्त वित्तीय वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में अपने कुल राजस्व में 104 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की है और राजस्व रुपए 139 करोड़ पर पहुंच गया वहीं नेट प्रॉफिट साल दर साल 207 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज करते हुए रुपए 9.27 करोड़ रहा।
इस अवधि में कंपनी का राजस्व 68 करोड़ रुपए की तुलना में 104 प्रतिशत बढ़कर 139 करोड़ रुपए हो गया। इसी प्रकार 11.42 करोड़ रुपए के मुकाबले एबिटा 86 प्रतिशत से बढ़कर 21.24 करोड़ रुपए हो गया। इस अवधि में छःमाही  राजस्व 159 करोड़ रुपए की तुलना में 49 प्रतिशत से बढ़कर 237 करोड़ रुपए रहा।
कंपनी के अनुसार 30 सितंबर, 2018 को समाप्त अवधि में प्रथम छरूमाही प्रॉफिट 7.84 करोड़ रुपए की तुलना में 102 प्रतिशत से बढ़कर 15.91 करोड़ रुपए रहा। वहीं 2019 के प्रथम छःमाही (एच 1) में प्रति शेयर आय बढ़त 4.27 से 8.66 हुई है।
कंपनी के प्रदर्शन पर टिप्पणी करते हुए श्री दिनेश पाटीदार, चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर, शक्ति पम्पस (इंडिया) लिमिटेड ने कहा-कम्पनी अपनी जिन नीतियों पर काम कर रही है वो इन परिणामो में दिख रहा है। सरकार भी सोलर प्रोजेक्ट को बढ़ावा दे रही है, जिसका आगे चलकर सबको फायदा होगा।
एमएनआरई, राज्य सरकार, अंतर्राष्ट्रीय सोलर अलायन्स (आईएसए), नाबार्ड इत्यादि द्वारा हम भविष्य में भी सोलर प्रोजेक्ट पर ध्यान केन्द्रित करेंगे और हमारे विक्रेता/वितरक नेटवर्क को फैलाते हुए निर्यात व्यापर को बढ़ाने के प्रयास जारी रखेंगे।
यूनियन बजट में की गई घोषणा जिसमें अक्षय उर्जा खास कर सोलर उर्जा पर अत्यधिक ध्यान केन्द्रित रहा जो कंपनी के लिए लाभदायक रहेगा।