udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news दुःखदः 6 साल के मासूम ने पानी समझ पीया तेजाब

दुःखदः 6 साल के मासूम ने पानी समझ पीया तेजाब

Spread the love

नई दिल्ली। 6 साल के मासूम बच्चे ने कोल्ड ड्रिंक की बोतल में रखे तेजाब को पानी समझकर पी लिया। बच्चे की हालत बिगडऩे पर परिजनों ने उसे पहले जगप्रवेश चंद्र हॉस्पिटल में भर्ती कराया। बाद में बच्चे को चाचा नेहरू हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया।

 

हालत ज्यादा खराब होने की वजह से बच्चे को आरएमएल हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज के दौरान बच्चे ने दम तोड़ दिया। मृतक बच्चे का नाम मोहन था। मामला नॉर्थ ईस्ट डिस्ट्रिक्ट के न्यू उस्मानपुर इलाके का है। पुलिस पूरे मामले की छानबीन कर रही है।

 

पुलिस के मुताबिक, लक्ष्मण परिवार के साथ गली नंबर-10, ब्रह्मपुरी में रहते हैं। वह प्राइवेट जॉब करते हैं। उनका 6 साल का बेटा बुधवार दोपहर ट्यूशन पढक़र घर लौटा था। घर में मां रचना रानी अपने काम में लगी थी। इसी दौरान कमरे के पास रखे हुए तेजाब से भरे बोतल को वह पानी समझकर पीने लगा।

 

मुंह में तेजाब जाते ही बच्चे को बहुत तेज जलन होने लगी। यह देख मां ने शोर मचा दिया। पड़ोसियों की मदद से बच्चे को जग प्रवेश चंद्र हॉस्पिटल में ले जाया गया। यहां से उसे चाचा नेहरू रेफर कर दिया गया।

 

करीब चार-पांच घंटे तक बच्चे का यहां ट्रीटमेंट किया गया। परिजनों ने चाचा नेहरू हॉस्पिटल पर इलाज में लापरवाही का आरोप लगाते हुए कहा है कि वहां इलाज के नाम पर सिर्फ ग्लूकोज चढ़ाया जा रहा था।

 

परिजनों ने जब डॉक्टरों से बात की तो उन्होंने आरएमएल ले जाने के लिए कहा। इसके बाद रात में परिजन बच्चे को आरएमएल हॉस्पिटल ले गए। गुरुवार को उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। चाचा नेहरू हॉस्पिटल प्रशासन ने इलाज में लापरवाही के आरोपों को खारिज किया है।