udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news एयर इंडिया बेचेगी देश भर में अपनी अचल संपत्ति

एयर इंडिया बेचेगी देश भर में अपनी अचल संपत्ति

Spread the love

नई दिल्ली । एयर इंडिया के पुनरुद्धार की शुरुआत इसकी संपत्तियों और देश भर में कंपनी के स्वामित्व वाली जमीन की बिक्री के साथ होगी। नागरिक उड्डयन मंत्री अशोक गजपति राजू ने इस प्रक्रिया पर निर्णय के लिए वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात की।

 
मामले के जानकार सूत्रों ने कहा कि शहरों, हवाईअड्डों और विमान कंपनी के कार्यालय वाली जगहों पर अचल संपत्ति की बिक्री की योजना पर विचार किया गया। इसकी संपत्तियों का ब्योरा तैयार करने और उसकी उपयुक्त कीमत आंकने के लिए सलाहकार की भी नियुक्ति की जाएगी। इस पूरी प्रक्रिया की समीक्षा एक समिति करेगी।

 
ये है एयर इंडिया की संपत्ति
एयर इंडिया की नई दिल्ली में गुरुद्वारा रकाबगंज रोड पर एयरलाइन्स हाउस की 0.77 एकड़ जमीन है। मुंबई में नरीमन पॉइंट स्थित एयर इंडिया बिल्डिंग है। नई दिल्ली के बाबा खडग सिंह मार्ग में 166,188 वर्ग मीटर की जगह मौजूद है। नई दिल्ली के वसंत विहार में कर्मचारी आवास में 30 एकड़ भी है।

 
घाटे से निपटने की तैयारी
इस समिति में विमानन मंत्रालय, वित्त मंत्रालय और एयर इंडिया के सचिव स्तर के अधिकारी तथा एक सेवानिवृत्त न्यायाधीश शामिल होंगे। एक अधिकारी ने बताया, श्एयर इंडिया के पास भारत और विदेश में काफी अचल संपत्ति है।

 

इनमें से कई संपत्तियां बिना उपयोग के लंबे समय तक पड़ी हैं। इसके अलावा, जहां विमानन कंपनी ने परिचालन बंद कर दिया है, वहां भी इसकी कुछ संपत्तियां हैं। इन संपत्तियों को बेचकर कंपनी के कर्ज को कम करने का विचार किया जा रहा है।

 
कंपनी पर नियंत्रण नहीं छोड़ेगी सरकार
एयर इंडिया पर कुल 46,570 करोड़ रुपए का कर्ज है। इनमें से करीब 16,000 करोड़ रुपए का कर्ज विमानों की खरीद की खातिर लिए गए हैं। नीति आयोग द्वारा एयर इंडिया में 100 फीसदी हिस्सेदारी बेचने की सलाह के बावजूद सरकार इस कंपनी पर अपना नियंत्रण संभवतरू नहीं छोड़ेगी। सरकार प्रयास कर सकती है कि कर्जदाता कर्ज को इक्विटी में बदलें, गैर-मुख्य संपत्तियों की बिक्री की जाए और विमान के परिचालन के लिए पेशेवरों की नियुक्ति की जाए।

 
इकोनामी क्लास विमानों में 18 सीटे बनेंगी बिजनेस क्लास
नई दिल्ली। एयर इंडिया के निजीकरण को लेकर आ रही खबरों के बीच खबर है कि विमानन कंपनी अपने इकोनॉमी क्लास के विमानों में मौजूद 18 सीटों को बिजनेस क्लास में बदलेगी। इसके बाद इन विमानों में भी यात्री बिजनेस क्लास का मजा ले सकेंगे।

 

एक अंग्रेजी अखबार की खबर के अनुसार पिछले दिनों हुए विवादों के बाद कंपनी ने यह फैसला किया है।इसके अनुसार विमान में शुरुआती तीन लाइनों की 12 सीटों को बिजनेस क्लास में बदला जाएगा और उसके बाद एक लाइन खाली रखते हुए बाद की सीटों को इकोनॉमिक रखा जाएगा। इन सीटों के बीच पर्दा डालकर इन्हें सेपरेट किया जाएगा।

 

ऐसा करने के बाद विमान में बिजनेस क्लास में सफर करने वालों को उस स्तर की सारी सुविधाएं मिलेंगी। जानकारी के अनुसार कंपनी के पास जो 150 विमान हैं उनमें से एक दर्जन ऐसे हैं जिनमें सिर्फ इकोनॉमी क्लास की सीटें ही हैं।