udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news गांवों को आबाद रखने में सबका योगदान जरूरी

गांवों को आबाद रखने में सबका योगदान जरूरी

Spread the love
देहरादून: मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने रविवार को क्लेमेंटाउन देहरादून में गढ़वाल भ्रातृ मण्डल संस्था द्वारा आयोजित 18वें गढ़ कौथिग समारोह का दीप प्रज्ज्वलन कर शुभारम्भ किया। इस अवसर पर संस्था द्वारा मंजू भण्डारी, डाॅ. के.एस. पंवार व सतीश सुन्दरियाल व हेमलता को गढ़ रत्न से सम्मानित किया गया।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने संघर्षशील व अपने जज्बे के बल पर कठिन परिस्थितियों में अपने परिवार का पालन-पोषण कर रही टिहरी जनपद की मंजू भण्डारी को सहायता राशि के रूप में 50 हजार रूपये देने की घोषणा की। बाल्यावस्था में ही पिता की मृत्यु के बाद मंजू भण्डारी ने कठिन परिश्रम से अपने भाई-बहनों का पालन-पोषण कर महिलाओं के लिए नई मिशाल पेश की।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि अपनी लोक संस्कृति को समृद्ध बनाने में इस तरह के आयोजनों का होना जरूरी है। हमें अपनी संस्कृति, परंपरा, बोलियों को संजोए रखना होगा, जो हमें विरासत में मिली हैं। उन्होंने कहा कि देवभूमि उत्तराखण्ड का नैसर्गिक सौन्दर्य सबको आकर्षित करता है। नदियां, ऊँचे पर्वत व जंगल व अनेक सम्पदाएं उत्तराखण्ड में हैं।
उन्होंने कहा हमारे पुरखों ने गांवो में जो मेहनत की है, उनकी मेहनत को साकार करने के लिए गांवों को आबाद रखने में सबका योगदान जरूरी है। आधुनिक तकनीक से पर्वतीय क्षेत्रों की तस्वीर बदल सकते हैं। पर्वतीय क्षेत्रों में स्वरोजगार की अपार संभावनाएं हैं।
इस अवसर पर विधायक श्री विनोद चमोली, नव निर्वाचित मेयर श्री सुनील उनियाल गामा, गढ़वाल भ्रातृ मण्डल संस्था के अध्यक्ष श्री रघुनन्दन सिंह रावत, संरक्षक श्री एच.एम.भरतवाण, श्री राकेश जुयाल आदि उपस्थित थे।