udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news हरकी पैड़ी स्थित ब्रहकुंड में प्रवाहित की गई अटलजी की अस्थियां

हरकी पैड़ी स्थित ब्रहकुंड में प्रवाहित की गई अटलजी की अस्थियां

Spread the love

हरिद्वार: पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां आज यानी रविवार को गंगा में विसर्जित कर दी गईं. हरिद्वार के हर की पौड़ी घाट पर अस्थि विसर्जन कार्यक्रम में उनकी दत्‍तक पुत्री नमिता कौल भट्टाचार्य ने अस्थियों को गंगा मेें प्रवाहित किया. इस दौरान अटल जी का परिवार, बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह और राजनाथ सिंह समेत कई बड़े नेता मौजूद हैं.

अटल जी के अस्थि विसर्जन कार्यक्रम में बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ और उत्‍तराखंड के मुख्‍यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत समेत हजारों लोग मौजूद रहे. रविवार सुबह दिल्‍ली के राष्‍ट्रीय स्‍मृति स्‍थल से उनकी दत्‍तक पुत्री नमिता ने उनकी अस्थियां एकत्र की थीं.उनकी अस्थियों को पहले हरिद्वार के पन्‍ना लाल भल्‍ला म्‍यूनिसिपल इंटर कॉलेज में रखा गया था. वहां से अस्थि कलश यात्रा निकालकर उनके अस्थि कलश को प्रेम आश्रम ले जाया गया. वहां से उसे हर की पौड़ी पर ले जाकर गंगा में विसर्जित किया गया.

अटल जी की अस्थियां देश की कई नदियों में विसर्जित की जाएंगी और इसकी शुरुआत आज यानी रविवार को हरिद्वार में गंगा नदी में उनकी अस्थियों के विसर्जन के साथ हो रही है.स्वतंत्र भारत के करिश्माई नेताओं में शामिल वाजपेयी जी का निधन गुरुवार को 93 वर्ष की उम्र में हो गया था. नई दिल्ली के राष्ट्रीय स्मृति स्थल पर शुक्रवार को पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया था.

बीजेपी के कद्दावर नेता रहे वाजपेयी जी के लिए 20 अगस्त को दिल्ली में एक सर्वदलीय श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया जाएगा और इसी तरह की एक और सभा का आयोजन 23 अगस्त को लखनऊ में होगा. लखनऊ की सभा में गृह मंत्री और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के अलावा वाजपेयी के रिश्तेदार भी शामिल होंगे.दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी की अस्थियां लेकर उनका परिवार रविवार सुबह करीब 10 बजकर 20 मिनट पर देहरादून के जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचा। उनके साथ गृहमंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे।

 

1:30 pm: अस्थि विसर्जन के बाद अटलजी के परिजन, अमित शाह, राजनाथ सिंह, योगी आदित्यनाथ, त्रिवेंद्र सिंह रावत और उत्तराखंड के मंत्री रवाना हो गए।
1: 15 pm : ओम के उच्चारण के साथ मां गंगा में प्रवाहित की गई अटल बिहारी वाजपेयी जी की अस्थियां।
1:07pm : ब्रहकुंड में बने चबूतरे में स्थापित किया गया अटलजी का अस्थि कलश। मंत्रोच्चारण के साथ अंतिम क्रियाएं शुरू हुईं।
1:03pm: अमित शाह और राजनाथ सिंह ने हरकी पैड़ी पर अस्थि कलश पर पुष्प अर्पित किए।
1:00pm : अस्थि कलश लेकर परिजन व बीजेपी के नेता पहुंचे हरकी पैड़ी।
12:19pm: जैसे-जैसे दिन चढ़ा बढ़ने लगी भीड़।
12:04pm: उत्तराखंड सरकार के कई मंत्री भी कलश यात्रा में मौजूद।
11:54am: कलश यात्रा में शामिल होने के लिए पड़ोसी राज्यों से भारी संख्या में लोग पहुंचे।
11:40am: हजारों लोगों की भीड़ जुटी। लग रहे ‘ वंदे मातरम्, भारत माता की जय और अटलजी आप अमर रहें’ के नारे। करीब तीन किमी. का सफर तय करेगी कलश यात्रा।
11:35am: भल्ला कॉलेज से शुरू हुई कलश यात्रा। सेना के ट्रक पर की जा रही है यात्रा। अस्थि कलश रथ पर अटल जी के परिजन, अमित शाह, राजनाथ सिंह, योगी आदित्यनाथ सहित त्रिवेंद्र सिंह रावत मौजूद।
11:34am: यात्रा मार्ग पर बरसाए जा रहे फूल।
11:31am: उत्तराखंड राज्यपाल केके पॉल और मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत भी मौजूद।
11:20am : अस्थि कलश लेकर हरिद्वार पहुंचा अटलजी का परिवार। गृहमंत्री राजनाथ सिंह, भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद।
11:00 am: यात्रा में शामिल होने के लिए हरिद्वार में लोगों की भारी भीड़ जुटी। सुरक्षा व्यवस्था चाक-चौबंद की गई है।

रविवार की सुबह पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहरी वाजपेयी की अस्थियों को दिल्ली के स्मृति स्थल से तीन कलश में भरा गया। इसके बाद परिजन अस्थि कलश को लेकर हरिद्वार के लिए निकले। अस्थि कलश लेकर आए विशेष विमान में 7 लोग सवार थे। अटल जी के दामाद रंजन भट्टाचार्य के हाथों में अस्थि कलश था। उनके साथ उनकी पत्नी नमिता भट्टाचार्य, बेटी निहारिका समेत परिवार की दो अन्य महिलाएं भी थीं। जॉलीग्रांट से दो अलग-अलग हेलीकॉप्टर से परिजन और भाजपा नेता हरिद्वार के लिए रवाना हुए।

भारतरत्न अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां आज हरकी पैड़ी स्थित गंगा में प्रवाहित की जाएंगी। अस्थि कलश यात्रा के दौरान देहरादून-हरिद्वार मार्ग पर भारी वाहनों पर प्रतिबंध रहेगा। जौलीग्रांट-हरिद्वार रूट आज रविवार को डेढ़ घंटे के लिए जीरो जोन रहेगा।

यह व्यवस्था हरिद्वार में दिवंगत पूर्व प्रधानमंत्री भारत रत्न अटल बिहारी की अस्थियों के विसर्जन कार्यक्रम को देखते हुए की गई है। उनकी अस्थियों को हवाई मार्ग से पहले जौलीग्रांट एयरपोर्ट और फिर विसर्जन के लिए सड़क मार्ग से हरिद्वार ले जाया जाएगा। इस दौरान कई दिग्गज नेता और वीआईपी भी जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचेंगे। इसके लिए जौलीग्रांट से हरिद्वार तक हाईवे पर वाहनों की आवाजाही डेढ़ घंटे तक प्रतिबंधित रहेगी।