udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news मानव मुर्गी बन 3 हफ्ते अंडे सेने बैठा, निकले 9 चूजे

मानव मुर्गी बन 3 हफ्ते अंडे सेने बैठा, निकले 9 चूजे

Spread the love

पेरिस। क्या आपको फ्रांस का एक कलाकार याद है जो तीन सप्ताह पहले अंडे सेने के लिए मानव मुर्गी बना था। अब जाकर यह कलाकार सफल हुआ है और इन अंडों में से नौ चूजे निकले हैं। कलाकार अब्राहम पॉइनशेवेल बीते माह 29 मार्च को म्यूजियम में अंडे सेने बैठे थे। उनका अनुमान था कि इस काम में 21 से 26 दिन लग सकते हैं।

 

अनुमान सही निकला जिसके बाद मंगलवार को अंडे में से पहला चूजा बाहर निकला। उसे हाथ में पकडकर अब्राहम भावुक हो उठे। अब्राहम ने प्रोजेक्ट ‘एग’ के तहत, मानव मुर्गी बन अंडे सेने के लिए काफी तैयारियां की थीं। वह पेरिस के एक म्यूजियम में कांच के केबिन के अंदर बैठे रहे। 44 वर्षीय अब्राहम ने तीन हफ्तों के दौरान मुर्गी की तरह ही हर 24 घंटों में सिर्फ आधे घंटे का ब्रेक लिया। ऐसे की थी तैयारी अंडे सेने के लिए उन्होंने अपने शरीर की गर्मी का उपयोग किया।

 

गर्मी बनाए रखने के लिए अब्राहम ने खास आहार लिया था। अब्राहम अदरक का ज्यूस ले रहे थे ताकि वह अंडों को कम से कम 37 डिग्री सेल्सियस की गर्मी दे सकें। इतना ही नहीं, वह गर्मी बनाए रखने के लिए एक विशेष प्रकार की रोशनी के नीचे मोटा से कंबल ओ़ढ़कर बैठे हुए थे। कला में जानवरों के लिए कोई जगह नहीं इस खास प्रोजेक्ट को देखने के लिए कई लोग म्यूजियम भी आते रहे।

 

हालांकि पेटा व अन्य सामाजिक कार्यकर्ताओं ने अब्राहम की आलोचना की। उनका कहना था कि ऐसे निरर्थक कार्य से अब्राहम कई चूजों को जन्म से पहले ही मार डालेंगे। वहीं, पेटा ने कहा कि कला में जानवरों के लिए कोई जगह नहीं है। इससे अब्राहम ने चूजों को अपनी मां से दूर कर दिया।