udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news जम्मू-कश्मीर में घुसे 20 आंतकी, फि दायीन हमले की आशंका, अलर्ट

जम्मू-कश्मीर में घुसे 20 आंतकी, फि दायीन हमले की आशंका, अलर्ट

Spread the love

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले का अलर्ट जारी किया गया है। खुफि या सूत्रों के मुताबिक अगले दो-तीन दिन में राज्य में सुरक्षाबलों पर आतंकी हमला हो सकता है। कश्मीर में पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से करीब 20 आतंकी घुसपैठ कर चुके हैं। इस खबर के बाद राजधानी दिल्ली को भी अलर्ट कर दिया गया है।

सुरक्षा एजेंसियों ने चेतावनी जारी की है कि आतंकी किसी बड़े वारदात को अंजाम देने की फि राक में हैं। आने वाले दो-तीन दिनों में सेना या उसके ठिकानों पर फि दायीन हमले किए जाने की संभावना जताई जा रही है। इसके अलावा सुरक्षाबलों ने यह भी शंका जताई है कि यह हमला हिट ऐंड रन टाइप का भी हो सकता है।

गौरतलब है कि रमजान के महीने में भारत सरकार की नरमी की घोषणा के बाद से आतंकी गतिविधि लगातार बढ़ती जा रही है। बुधवार को ही आर्मी की पट्रोलिंग पार्टी पर हमला करने वाले दो आतंकियों को एनकाउंटर में ढेर किया गया था। घुसपैठ करने वाले ज्यादातर आतंकी जैश-ए-मोहम्मद से ताल्लुक रखने वाले बताए जा रहे हैं।

सुंजवान और पठानकोट हमलों से सबक लेते हुए सेना ने इस बार कोई गलती ना करने का फैसला किया है और सभी पट्रोलिंग पार्टियों और चौकियों के साथ-साथ सेना के बड़े ठिकानों को भी अलर्ट पर रखा गया है। आशंका है कि कोई आतंकी हमला करके भागने या फिर आत्मघाती हमले की कोशिश कर सकता है।

सीआरपीएफ की गाड़ी पर हुई फ ायरिंग
पुलवामा के ईदगाह जाते वक्त आतंकियों ने सीआरपीएफ की 183 बटैलियन के बंकर वीइकल पर फायरिंग की। किसी के घायल होने की खबर नहीं है। घटना के तुरंत बाद सीआरपीएफ ने सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया, जिसमें उसे तीन बैग बरामद हुए। आशंका जताई जा रही है कि इन बैग्स में मिली चीजें आईईडी से जुड़ी हो सकती हैं।

साल 2017 में रमजान के दौरान हुई थी 42 लोगों की मौत
बता दें कि जम्मू-कश्मीर में साल 2017 के दौरान रमजान के महीने में आतंकी हमले और हिंसा की घटनाओं में कुल 42 लोगों की मौत हुई थी। इन 42 लोगों में 27 आतंकी, 9 पुलिसकर्मी और 6 स्थानीय नागरिक शामिल थे। इसके अलावा साल 2017 में ही आतंकियों ने अमरनाथ यात्रा के दौरान दर्शनार्थियों की एक बस को भी निशाना बनाया था जिसमें 7 लोगों की मौत हुई थी, जबकि कुल 19 लोग घायल हुए थे।