udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news जन शिकायतों को गम्भीरता उच्च प्राथमिकता के आधार पर करना सुनिश्चित करें

जन शिकायतों को गम्भीरता उच्च प्राथमिकता के आधार पर करना सुनिश्चित करें

Spread the love
रूद्रप्रयाग : जन शिकायतों को गम्भीरता से लेते हुए उच्च प्राथमिकता के आधार पर शिकायतों का निस्तारण करना सुनिश्चित करें तथा निस्तारण की कार्यवाही से शिकायतकर्ता को भी अवगत कराये।
यह निर्देश उपजिलाधिकारी देवानन्द ने सोमवार को पुराने विकास भवन में आयोजित जनता दरवार में फरियादियों की शिकायतें सुनते हुए सभी विभागीय अधिकारियों को दिये। उन्होंने कहा कि शिकायतों के निस्तारण में किसी प्रकार की लापरवाही कतई बर्दाश्त नही की जायेगी। जन सुनवाई के दौरान फरियादियों ने पेंशन, आवास, सडक, वन, कृषि आदि से जुड़ी 65  समस्याऐं/शिकायतें दर्ज कराई जिसमें से 39 शिकायतों का मौके पर ही निस्तारण किया।
 उपजिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को प्राप्त शिकायतों की नियमित माॅनिटरिंग एवं रिपोर्टिग के लिए जिलाधिकारी द्वारा विभागीय स्तर पर नियुक्त नोडल अधिकारी को  नियमित क्षेत्र के निरीक्षण करने क निर्देश दिए ताकि जनता दरवार, तहसील दिवस, बहुउदेशीय शिविर आदि विभिन्न स्तरों से प्राप्त शिकायतों का प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण किया जा सके।
बचणस्यूं निवासियों ने बताया कि लोनिवि रूद्रप्रयाग के अन्तर्गत निर्मित की जा रही दैजीमाण्डा से पौडीखाल मोटरमार्ग का निर्माण कार्य ठेकेदार द्वारा आतिथि तक पूर्ण नहीं किया गया है व जिस गति से कार्य किया जा रहा है ऐसा प्रतीत होता है कि सडक बनने में कई वर्ष  लग जाएगे के संबंध में अधिशासी अभियंता लोनिवि को एक सप्ताह के भीतर जंाच करने , गोपाल सिंह घेंघड निवासी ने बताया कि तोक में 35 परिवार रहते है किन्तु ग्राम के प्राकृतिक स्त्रोत को टैप कर काण्डा लाने का प्रस्ताव बनाया जा रहा है
जिससे तोक में रह रहे परिवारों को पानी की समस्याओ का सामना करना सकता है के संबंध में अधिशासी अभियंता जल संस्थान व जल निगम को एक सप्ताह के भीतर जांच करने, पातीराम निवासी नरकोटा ने बताया कि रेल परियोजना में उनके निर्मित व्यवसायिक भवन का प्रतिकर दे दिया गया है किन्तु एक कमरा जिस पर लैन्टर डलना शेष है का भी मुआवजे दिए जाने की मांग की गई है। इसके साथ ही सुरेन्द्र प्रसाद निवासी नारी ने बताया कि वन पंचायत नारी की सडक की हालत दयनीय हो चुकी है जिस संबंध में अधिशासी अभियंता पीएमजीएसवाई को जांच कर आवश्यक कार्रवाई करने के निर्देश दिए।
इस अवसर पर डीडीओ एएस गुज्याल, सीवीओ  डाॅ रमेश सिंह नितवाल, जिलाशिक्षाधिकारी माध्यमिक एल एस दानू, टीटीओ डाॅ संगीता भट्ट, डीएचआ योगेन्द्र सिंह, जिला पर्यटन अधिकारी पी के गौतम सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे।