udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news जिलाधिकारी ने की 1523 जनशिकायतों की समीक्षा

जिलाधिकारी ने की 1523 जनशिकायतों की समीक्षा

Spread the love

रूद्रप्रयाग:  जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल की अध्यक्षता में  दिनांक 01 जून से 30 जुलाई तक प्राप्त 1523 जनशिकायतों की समीक्षा बैठक जिला कार्यालय सभागार में आयोजित की गई। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने समस्त कार्यालयाध्यक्ष को जनशिकायतों के प्रभावी निस्तारण के लिए अपने-अपने विभागों में नोडल आॅिफसर नामित करने के निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने निर्माणदायी संस्था को स्पष्ट निर्देश किए कि जिन भी निर्माण विभागों के कार्य  चल रहे कै वहां ठेकेदार अनिवार्य रूप से अपने मजदूरों के लिए शौचालय बनवाए अन्यथा संबधित ठेकेदार व निर्माणदायी संस्था के विरूद्व कारवाई की जाएगी। इस संबंध मे मजदूरो द्वारा शौचालय का प्रयोग न किए जाने पर संबंधित एसडीएम को कार्य रूकाने व जिला पंचायत को जुर्माना लगाने के निर्देश दिए।

1523 शिकायतों में से मुख्यतः शिकायते एसडीएम सदर की 167, बीडीओ अगस्त्यमुनि की 143, एसडीएम ऊखीमठ की 97, लोनिवि की 76 व जल संस्थान की 73 व अन्य विभागों से सम्बन्धित शिकायते प्राप्त हुई है जिनमें से अधिकांश शिकायतों का निस्तारण विभागो द्वारा कर दिया गया है। अवशेष शिकायतो के सम्बन्ध में डीएम ने विभागों को तत्परता से निस्तारण करने के निर्देश दिए।

कहा कि विभाग द्वारा निस्तारण के संबंध में अधीनस्थ को निरीक्षण या जांच के लिए भेजा जाता है तो निरीक्षण की फोटो भी आख्या में लगायी जाए जिससे शिकायतकर्ता संतुष्ट हो सके व अनावश्यक परेशान नहीं करेगा। कहा कि जनपद के समस्त 27 न्यायं पंचायतों में नोडल अधिकारी इसलिए नामित किए गए है जिससे नोडल अधिकारी सभी विकास कार्यो की जांच व समय-समय पर कर सके। तीनो बीडीओ को निर्देशित किया कि मनरेगा के तहत किए जाने वाले कार्य कार्ययोजना तक ही शामिल न रहे इसके लिए कार्याे को जल्द से जल्द शुरू किया जाए जिससे ससमय कार्य किया जा सके।

बैठक में जिलाधिकारी ने जल संस्थान द्वारा मल्ला नरकोटा की पेयजल योजना क्षतिग्रस्त की समस्या का निस्तारण न होने पर संबंधित एंई व जेई के स्पष्टीकरण, स्वीली-डुंगरी-दरमोला पुनर्गठन पेयजल योजना से ग्रामीणों को पानी की आपूर्ति न होने के संबंध में सीडीओ की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय जांच समिति गठित की।

स्वजल विभाग द्वारा रांसी में 17 लोगो के शौचालय की धनराशि के किए गए भुगतान के सम्बन्ध मे ग्राम प्रधान से भुगतान को वेरिफाई कराने, आए दिन कालीमठ मे जग्गी-बगवान में रास्ता अवरूद्व होने की समस्या पर अधिशासी अभियंता पीएमजीएसवाई को समस्या का निस्तारण करने व कटिंग का मलबा समुचित स्थान पर न डालने पर एसडीएम ऊखीमठ को कारवाई करने के निर्देश दिए।

इस अवसर पर डीएफओ मंयक शेखर, डीडीओ ए एस गुज्याल, एसडीएम जखोली देवमूर्तियादव, ऊखीमठ गोपाल सिंह चैहान, वरिष्ठ कोषाधिकारी शशि सिंह, सीवीओ डाॅ आर सी नितवाल, एसीएमओ डाॅ ओपी आर्य, सीओ श्रीधर बडोला सहित समस्त अधिकारी उपस्थित थे।