udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news कट्टरपंथी कैदियों के लिए बनी अलग जिहादी जेल

कट्टरपंथी कैदियों के लिए बनी अलग जिहादी जेल

Spread the love

लंदन। ब्रिटेन ने अपने यहां बंद सबसे ज्यादा कट्टरपंथी कैदियों को एक खास तरह के कैदखाने में भेजना शुरू कर दिया है जिसका नाम जिहादी जेल है। इसका मकसद देश के जेल तंत्र में बढ़ते कट्टरवाद से निपटना है। ब्रिटेन की पहली जिहादी जेल इंग्लैंड में दुरहाम के पास फ्रैंकलैंड एचएमपी में बनाई गई है।

 

कुछ महीनों में इस तरह के 2 और जेल खुलने वाले हैं। ब्रिटेन के कारागार मंत्री सैम जियामाह ने कहा, कट्टरपंथ के हर रूप को शिकस्त दी जानी चाहिए चाहे वह जहां कहीं भी पाया जाए। जो लोग सबसे ज्यादा जोखिम पैदा करते हैं उन्हें हम अलग करें यह सही है जिससे उनका दूसरे कैदियों पर प्रभाव कम किया जा सके।

 

इस तरह के केंद्रों में कुल 28 आतंकवादियों को रखा जाएगा। प्रशासन का कहना है कि इस तरह से वे इन चरमपंथियों पर नजर रख सकेंगे और जेल के अंदर से की जाने वाली प्लानिंग का जोखिम भी घट जाएगा। 4 हजार 500 से ज्यादा जेल अफसरों को ट्रेनिंग दी गई है ताकि वे कट्टरपंथियी कैदियों की पहचान कर के उनसे निपट सकें।

 

मेक्सिको के अकापुल्को की जेल में हिंसा भडक़ने से 28 कैदियों की मौत हो गई। अकापुल्को, गिरेरो राज्य का सबसे बड़ा शहर और देश के सबसे ज्यादा अराजक शहरों में से एक है। यह अफीम उत्पादन का केंद्र माना जाता है। यह जगह हमेशा से ही अमेरिकी अधिकारियों के लिए चिंता का विषय रही है।

 

गिरेरो स्टेट सिक्यॉरिटी ऑफिशल रॉबर्टो अल्वरेज ने बताया कि जेल के अंदर दो गिरोहों बीच झगड़ा शुरू हुआ था जिसने हिंसा का रूप ले लिया और 28 कैदियों की मौत हो गई। इसके अलावा 3 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। जेल प्रशासन को पूरे विंग, किचन के अंदर-बाहर सब जगह लाशें बिछी दिखीं। एक अधिकारी ने नाम जाहिर न करने की शर्त पर बताया कि 4 कैदियों का सिर काटकर धड़ से अलग कर दिया गया था।

 

वहीं अल्वरेज ने बताया कि जेल में क्षमता से 30 प्रतिशत ज्यादा कैदी थी। यह जेल 1 हजार 624 कैदियों के लिए बनाई गई थी लेकिन अभी इसमें 1 हजार 951 पुरुष और 110 महिला कैदी थे। जेल में फायरिंग होने की खबरों के बावजूद अल्वरेज ने मीडिया को बताया कि अधिकांश मौतें धारदार हथियारों से वार की वजह से हुई थीं।

 

इस साल मेक्सिको में हिंसक अपराधों की संख्या तेजी से बढ़ी है। बीते 5 सालों में हत्या के मामलों में 30 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। गुरुवार को हुई यह हिंसा मेक्सिको की जेल में अब तक हुई हिंसाओं में सबसे खतरनाक थी। बीते साल भी दो गिरोहों के बीच हुई हिंसा से 49 कैदियों की मौत हो गई थी।