udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news कोसी पुनरोद्धार में आम जन की सहभागिता जरूरी: सीएम

कोसी पुनरोद्धार में आम जन की सहभागिता जरूरी: सीएम

Spread the love
अल्मोड़ा। कोसी पुनरोद्धार में आम जन की सहभागिता हो इस बात का हमे विशेष ध्यान रखना होगा यह बात प्रदेश के मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने आज सर्किट हाउस में आयोजित एक समीक्षा बैठक के दौरान अधिकारियों से कहा। उन्होंने कहा कि इन कार्यक्रमों को बढावा देने के लिए कोसी कैचमेंट एरिया से जुड़े ग्रामीण जिन्हें अभी भी रसोई गैस उपलब्ध नहीं हो पा रही है उन्हें हमें रसोई गैस प्राथमिकता से उपलब्ध कराना होगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोसी कैचमेंट एरिया में जहा पर भी चैकडैम बनाये गये है वहा पर देसी गुलाब के पेड़ लगाये जाय इससे एक ओर जहा चैकडैमो में इससे मजबूती मिलेगी वही दूसरी ओर मधुमक्खी पालन में भी यह उपयोगी सिद्व होगी। उन्होंने कोसी कैचमेंट एरिया में खस घास को लगाने के भी निर्देश जिलाधिकारी को दिये।
 मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य स्तर पर भी एक अधिकारी की नियुक्ति की जायेगी जो कोसी पुनरोद्धार के कार्यों में सहयोग प्रदान करेगा। उन्होंने कहा कि कोसी कैचमेंट एरिया से जुड़े प्रत्येक ग्राम का हर व्यक्ति इस अभियान से जुड़े इसकी हमें विशेष पहल करनी होगी। मा0 मुख्यमंत्री ने कहा कि इस अभियान को आगे बढ़ाने के लिए विभिन्न क्षेत्रों में कार्य कर रहे लोगो द्वारा भी सहयोग की बात कही जा रही है।
प्रारम्भिक तौर पर हमें मनरेगा के माध्यम से इस कार्य को आगे बढ़ाना होगा भविष्य में इसके लिए बजट प्राविधानित किया जा रहा है ताकि यह अभियान आगे बढ़ सके। इस कैचमेंट एरिया के अन्तर्गत किस तरह का विकास हो सके उसके लिए हमे कार्य योजना बनानी होगी।
इस अवसर पर जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव व कुमाऊॅ विश्वविद्यालय परिसर के भूगोल विभाग के डा0 जे0एस0 रावत ने अभी तक की तैयारियों पर विशेष प्रकाश डाला। जिला प्रशासन द्वारा किये जा रहे कार्यों पर संतोष प्रकट करते हुए मा0 मुख्यमंत्री ने कहा कि जिस गति से यह कार्य किया जा रहा है
वह आगे भी जारी रहे इसका विशेष ध्यान रखना होगा। आगामी 08 अपै्रल से जनपद में इसकी प्रारम्भिक चरण की शुरूआत की जा रही है जिसमें आगामी वर्षा ऋतु में वृक्षारोपण हेतु खडडे खोदने सहित अन्य कार्य किये जायेंगे। उन्होंने कहा कि कोसी जो हमारी जीवनदायनी नदी है इसके चारो ओर चैड़ी पत्ती के पेड़ सहित फलदार वृक्षो का रोपण अधिकाधिक हो इसके लिए विशेष अभियान चलाना होगा।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज भिकियासैंण को टेली मेडिसन सुविधा से जोडक़र एक ऐतिहासिक कदम प्रदेश सरकार ने उठाया है इससे अब विभिन्न रोगो की जॉच श्रीनगर मेडिकल कालेज में बैठे विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा की जायेगी। उन्होंने कहा कि सांस्कृतिक व शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी जनपद अल्मोड़ा से ही एक नई शुरूआत शिक्षा के क्षेत्र में की जा रही है जिसमें कक्षा 06 से कक्षा 12 तक के बच्चों के चहुॅमुखी विकास हेतु शिक्षा दी जायेगी
जिसमें भारतीय प्रशासनिक सेवा के लिए विद्यार्थियों को तैयार किया जायेगा इसमें अति निर्धन व कमजोर बच्चों को विभिन्न अभिनव प्रयोगो के माध्यम से शिक्षा दी जायेगी इसके लिए विद्यालय के लिए पर्याप्त जमीन की उपलब्धता होनी आवश्यक है इस तरह के आदेश जिलाधिकारी को दिये गये है कि वे जनपद में एक ऐसे स्कूल का चयन कर शीघ्र प्रस्ताव भेजें ताकि शीघ्र इसको प्रारम्भ किया जा सके। इसी तरह गढ़वाल मण्डल में भी एक विद्यालय की स्थापना की जायेगी। उन्होंने कहा कि धार्मिक पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए प्रदेश के चारो धामो को टेली मेडिसन सुविधा से शीघ्र जोडऩे का प्रयास किया जा रहा है
यही नहीं एच0पी0 कम्प्यूटर कम्पनी द्वारा भी प्रदेश के चिकित्सालयों में अपनी सुविधा देने की बात कही गयी है ताकि चिकित्सालय भी तकनीक के क्षेत्र में समृद्व हो सके। उन्होंने कहा कि प्रदेश में चिकित्सको की कमी दूर करने के लिए अभी तक 1141 नये डाक्टरों की तैनाती की गयी है साथ ही कोई भी विद्यालय शिक्षक विहीन न रहे इसका भी प्रयास किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि जल्दी ही एक वर्ष रोजगार के नाम कार्यक्रम प्रारम्भ किया जा रहा है जिसमें जनता से नौजवानो एवं महिलाओं को स्वालम्बी बनाने के लिए सुझाव मॉगें जायेंगे।
आज एक कार्यक्रम में उन्होंने सरकारी विद्यालयों की शिक्षा व्यवस्था में जन सहयोग से अच्छी सुविधायें लाकर शिक्षा की गुणवत्ता में बढ़ोत्तरी के लिए रूपान्तरण अभियान का भी शुभारम्भ किया। इसका मुख्य उददेश्य सरकारी विद्यालयों को भौतिक संसाधनों से युक्त बनाना तथा फर्नीचर, स्वच्छ पेयजल, पंखा, हीटर, क्रीड़ा सामग्री व्यवस्था, कम्प्यूटर प्रोजेक्टर के माध्यम से स्मार्ट क्लास का संचालन सुरक्षित व सुसज्जित भवन, विद्यार्थियों की अन्य मूलभूत आवश्यकता, शिक्षकों अभिप्रेरण जिससे वे अपना अधिकतम योगदान शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने में दे सकें। छात्र-छात्राओं में रचनात्मकता, सृर्जनशिलता एवं मानवता की भावनाओं का विकास, समाज को सरकारी विद्यालयों के प्रति संवेदनशील एवं सहयोग हेतु प्रेरित करना मुख्य हैं।
जिला प्रशासन व विद्यालयी शिक्षा परिवार द्वारा अल्मोड़ा में चलाये गये इस अभियान की उन्होंने प्रशंसा की। संयुक्त मजिस्ट्रेट रानीखेत हिमांशु खुराना व उप शिक्षाधिकारी गीतिका जोशी सहित शिक्षा विभाग के अन्य अधिकारियों द्वारा किये गये इस रूपान्तरण कार्यक्रम के लिए उन्होंने अधिकारियों की भी प्रशंसा की। इसके अलावा उन्होंने कहा कि प्रदेश के चहुॅमुखी विकास के लिए सरकार कृत संकल्प है। आज उन्होंने जनपद में विकास प्राधिकरण लागू होने के बाद जो कठिनाई आ रही है उसके सम्बन्ध में एक शिष्टमंडल से वार्ता की और उन्होंने बताया कि शुल्क में 70 प्रतिशत तक की कमी कर दी है अन्य जो भी कठिनाई इसमें आ रही है इसके लिए उन्होंने शिष्टमंडल को आश्वस्त किया कि इसका समाधान मिलबैठ कर किया जायेगा।
इस अवसर पर प्रदेश के भाजपा अध्यक्ष अजय भटट ने भी सरकार द्वारा चलाये जा रहे कार्यक्रमों की जानकारी दी। इस कार्यक्रम में प्रदेश के विधानसभा उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह चैहान, राज्यमंत्री/प्रभारी मंत्री जनपद डा0 धन सिंह रावत, राज्यमंत्री रेखा आर्या, द्वाराहाट के विधायक महेश नेगी, पूर्व विधायक कैलाश शर्मा, भाजपा जिलाध्यक्ष गोविन्द पिलख्वाल, महामंत्री रवि रौतेला, पूर्व जिलाध्यक्ष रमेश बहुगुणा, ललित लटवाल, भाजपा युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष कुन्दन लटवाल, भाजयुमो जिलाधक्ष महेश नयाल, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पी0 रेणुका देवी, मुख्य विकास अधिकारी मयूर दीक्षित, संयुक्त मजिस्ट्रेट रानीखेत हिमाशुं खुराना, अपर जिलाधिकारी के0एस0 टोलिया, उपजिलाधिकारी विवेक राय, अवधेश कुमार सिंह, प्रशिक्षु उपजिलाधिकारी मनीष बिष्ट, जिला विकास अधिकारी मोहम्मद असलम सहित अन्य गणमान्य लोग व अधिकारी उपस्थित थे।