udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news मानसून सत्र में किसान और कृषि संकट समेत उठे कई मुद्दे

मानसून सत्र में किसान और कृषि संकट समेत उठे कई मुद्दे

Spread the love

नई दिल्ली । संसद के मानसून सत्र का आज पांचवां दिन है। आज फिर लोकसभा में कांग्रेस ने किसान व कृषि संकट का मुद्दा उठाया जिसपर संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने कहा कि किसानों के प्रति कांग्रेस झूठी हमदर्दी दिखा रही है।

 

बता दें कि किसानों के मुद्दे पर पिछले दो दिनों से लोकसभा की कार्यवाही बाधित हो रही है। अनंत कुमार ने आगे कहा कि गुरुवार रात साढ़े दस बजे तक इस मुद्दे पर चर्चा हुई लेकिन मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस की इस मुद्दे पर गंभीरता का पता इसी बात से चलता है कि कल रात को सदन में उसके केवल दो सदस्य बैठे हुए थे।

 

इसके अलावा लोकसभा में दार्जिलिंग का मुद्दा, परिवार नियोजन, कैंसर, समेत प्राइवेट अस्?पतालों में अधिक खर्च वसूलू जाने का भी मुद्दा उठाया गया। प्रश्नकाल में जनसंख्या वृद्धि से जुड़े दुष्?यंत चौटाला ने पूछा कि क्या जनसंख्या वृद्धि की दर कम करने के लिए युवाओं को जागरुक करने की कोई विशेष योजना है।

 

जिसके जवाब में स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री अनुप्रिया पटेल ने कहा, परिवार नियोजन कार्यक्रम में हिस्सा लेने वाले युवाओं को बढ़ावा देने की कई योजनाएं लायी गयीं हैं। इसके अलावा प्राइवेट अस्पतालों की मनमानी और सरकारी अस्पतालों में सुविधाओं पर सवाल के जवाब में स्वास्थ्य मंत्री जेपीनड्डा ने कहा कि हम हर तरह की मदद करने के लिए तैयार हैं।

 

शून्यकाल में मोहम्मद सलीम ने कहा कि दार्जलिंग में बंगाल के खाद्य मंत्री ने राशन रोकने की धमकी दी है, राइट टू फूड के तहत ऐसा नहीं रोका जा सकता। साथ ही संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने कहा कि पश्चिम बंगाल सरकार की नीति के कारण दार्जलिंग में अशांति फैली है। साथ ही लोक सभा में अगले सप्ताह की कार्यसूची को लेकर सुझाव भी दिए गए।