udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news मुख्यमंत्री ने सिंगापुर के निवेशकों को उत्तराखण्ड आमंत्रित किया

मुख्यमंत्री ने सिंगापुर के निवेशकों को उत्तराखण्ड आमंत्रित किया

Spread the love
  • मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने सिंगापुर में आयोजित ‘इन्वेस्ट नाॅर्थ समिट 2018’ को सम्बोधित किया।
  • उत्तराखण्ड में निवेश की सम्भावनाओं पर प्रभावी प्रस्तुतिकरण दिया गया। 
  • सिंगापुर में भारतीय दूतावास व सीआईआई के संयुक्त तत्वाधान में समिट का आयोजन।
सिंगापुर/देहरादून: मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने मंगलवार को सिंगापुर में इन्वेस्ट नाॅर्थ समिट 2018 के शुभारम्भ सत्र को सम्बोधित किया। मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने उत्तराखण्ड सरकार द्वारा राज्य में निवेशकों के अनुकूल वातावरण निर्माण हेतु उठाए गए कदमों को रेखांकित किया। उन्होंने ‘‘उत्तराखण्ड राज्य में निवेश संभावनाओं’’  पर एक प्रभावी प्रस्तुतिकरण दिया।
मुख्यमंत्री  श्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि उन्हंे इन्वेस्ट नाॅर्थ समिट 2018 में प्रतिभाग करते हुए तथा  सिंगापुर के व्यापारिक समुदाय से उत्साहपूर्ण प्रतिक्रियाएं मिलने से अत्यन्त प्रसन्नता हो रही है। उत्तराखण्ड विभिन्न क्षेत्रों में मजबूत संभावनाओं के साथ एक युवा राज्य है। हमारी मध्यम, लघु व सूक्ष्म औद्योगिक नीति 2015, सिंगल विण्डो क्लियरेन्स सिस्टम तथा भारी औद्योगिक तथा निवेश नीति 2015 उन कदमों में से है जो राज्य में औद्योगिक वातावरण को प्रोत्साहित करते है तथा निवेशकों के लिए फेसिलिटेटर की महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है।
मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र व अन्य प्रतिनिधिमण्डल ने सम्मेलन के दौरान ‘उत्तर भारत में निवेश वातावरण’ पर सीआईआई की रिर्पोट का विमोचन भी किया।उत्तराखण्ड सरकार के प्रतिनिधिमण्डल ने विभिन्न संस्थाओं के साथ बैठके आयोजित की जिनमें उत्तराखण्ड में विकास के अवसरों पर चर्चा की गई । इन संस्थाओं में सरबना जरगोन प्रा0 लि0, द गोल्डन स्टेट केपिटल प्रा0 लि0 आदि थे।
प्रतिनिधिमण्डल ने सिंगापुर के विदेश मंत्री श्री विवियन बालाकृष्णन से भी भेंट की। प्रतिनिधिमण्डल ने संभावित निवेशकों को 7 व 8 अक्टूबर 2018 को देहरादून में आयोजित  आगामी ‘‘ डेस्टिनेशन उत्तराखण्डः इन्वेस्टर्स समिट 2018’’  के लिए भी आमंत्रित किया।
सिंगापुर में ‘‘इन्वेस्ट नाॅर्थ समिट 2018’’ ने उत्तर भारतीय राज्यो उत्तराखण्ड, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू-कश्मीर, राजस्थान तथा उत्तर प्रदेश में संभावित प्रोजेक्टस तथा निवेश की क्षेत्रवार संभावनाओं को प्रदर्शित किया।  पर्याप्त प्राकृतिक संसाधनों, कुशल मानव संसाधन, सक्रिय निवेश व नीति निर्धारक शासन तथा बढती आय व दु्रत गति से विकसित होती आधारभूत संरचना के साथ मजबूत उपभोक्ता आधार के साथ उत्तर भारत निवेशकों के लिए महत्वपूर्ण है। यह क्षेत्र इलैक्ट्राॅनिक्स, फार्मासेटिक्यूल, वितीय सेवाओं, पर्यटन, स्वास्थ्य सेवाओं, शिक्षा, इन्फ्रास्ट्रक्चर, ऊर्जा व आॅटामोबाइल क्षेत्र में अच्छी निवेश अवसरों से भरपूर है।
इन्वेस्ट नाॅर्थ समिट अपने गत 6 सफल सम्मेलनों के साथ उत्तर भारतीय राज्यों के लिए एक ऐसा मंच प्रदान करता है जिसके माध्यम से राज्य उद्योगों के साथ निवेश संभावनाओं पर संवाद कर सकता है।इस अवसर पर मुख्यमंत्री के औद्योगिक सलाहकार श्री के एस पंवार, अपर मुख्य सचिव श्री ओम प्रकाश, सचिव श्री अमित नेगी, सीईओ स्मार्ट सिटी श्री शैलेश बगौली, आईटीडीए के निदेशक श्री अमित कुमार सिन्हा भी मौजूद थेे।