udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news मुन्नी देवी का विधायक तक का रोचक है सफर

मुन्नी देवी का विधायक तक का रोचक है सफर

Spread the love

गोपेश्वर। दिवंगत विधायक मगन लाल शाह की पत्नी भाजपा प्रत्याशी मुन्नी देवी ने थराली उपचुनाव जीत लिया है। उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी प्रो. जीतराम को करीबी मुकाबले में हराया है। मुन्नी देवी कभी गांव की साधारण महिलाओं में शामिल थीं। आम महिलाओं की तरह गांव में रोजमर्रा के कामकाज करती थीं, लेकिन अब वह उनके बीच से निकलकर उत्तराखंड विधानसभा में पहुंच गयी हैं।

मुन्नी देवी का राजनीतिक अनुभव लंबा नहीं है, लेकिन पति व दिवंगत विधायक मगन लाल शाह का 25 साल का राजनीतिक कॅरियर के चलते वह राजनीति से अच्छी खासी वाकिफ हैं। एक जुलाई, 1971 में जन्मी मुन्नी देवी शादी के बाद सबसे पहले महिला मंगल दल की अध्यक्ष रहीं।

 

मिडिल पास मुन्नी ने वर्ष 2014 में पहली बार जिला पंचायत के सदस्य के लिए कोठली से चुनाव लड़ा और पहले ही चुनाव में बाजी मारी। इसके बाद जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए हाथ आजमाया और निर्वाचित होने में कामयाब रहीं। जिला पंचायत में बेहतर कार्य करने के लिए केंद्र सरकार के पंचायती राज विभाग ने नवंबर 2017 में उन्हें पुरुष्कृत भी किया गया।

 

भाजपा प्रत्याशी मुन्नी देवी ने चुनाव के दौरान आरएनएस से बाचतीत में कहा था कि दिवंगत विधायक मगन लाल शाह के अधूरे सपनों को पूरा करूंगी। विधानसभा क्षेत्र में नारी शक्ति को आगे बढ़ाने की दिशा में वह गंभीरता से काम करेंगी। थराली के विधायक मगन लाल शाह के 26 फरवरी को असामयिक निधन के बाद इस सीट पर उप चुनाव हुए।

 

चमोली की जिला पंचायत अध्यक्ष मुन्नी देवी दिवंगत विधायक की पत्नी हैं। भाजपा से विधिवत टिकट मिलने के ऐलान के बाद मुन्नी देवी ने हिन्दुस्तान से बातचीत में कहा था कि वे दिवंगत विधायक के अधूरे सपना को साकार करेंगी। उनके पति ने विधान सभा क्षेत्र की जनता से जो वादे किए थे, सबसे पहले उन्हीं मुद्दों की प्राथमिकता देंगी।

 

भाजपा प्रत्याशी ने कहा कि थराली विस क्षेत्र की विकट भौगोलिक परिस्थितयां हैं। वह इन सभी समस्याओं से रूबरू हैं। सडक़ मार्ग पर्याप्त न होने से जनता को पैदल ही गांवों को जाना पड़ता है। ऐसे गांवों को सडक़ों से जोडऩे के लिए वह काम करेंगी।

 

महिला होने के नाते विस क्षेत्र की महिलाओं की रोजमर्रा की परेशानी रूबरू होती रहती हैं लिहाजा, नारी शक्ति को आगे बढ़ाने के लिए ठोस प्रयास होंगे। मुन्नी देवी शाह ने कहा कि नारायणबगड़, देवाल आदि क्षेत्रों में उच्च शिक्षा के लिए महाविद्यालय नहीं हैं। महाविद्यालयों की स्थापना के साथ ही नारायणबगड़ पीएसची को सीएचसी में अपग्रेड कराएंगे।

 

इसके साथ ही बिजली की समस्या भी जनता को निजात दिलाऊंगी। मुन्नी ने कहा कि उनके पति का थराली को आदर्श विधानसभा क्षेत्र बनाने का था, चूंकि प्रदेश में भाजपा की सरकार सत्तारूढ़ है लिहाजा पति का यह सपना वह अवश्य पूरा करेंगी।