udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news नदियों में देशी-विदेशी प्रतिभाओं ने दिखाई अपनी प्रतिभा

नदियों में देशी-विदेशी प्रतिभाओं ने दिखाई अपनी प्रतिभा

Spread the love

जिले में किया गया वाइल्ड वाटर वीक का आयोजन,इस विंटर में होगा एक कलैण्डर जारीअलकनंदा और मंदाकिनी नदी में स्थानीय युवाओं को सिखाये जाएंगे क्याकिंग और राफटिंग के गुर

रुद्रप्रयाग। जनपद में साहसिक पर्यटन को बढावा देने तथा इसे स्वरोजगार से जोडने को लेकर उत्तरांचल क्याकिंग कैनोइंग व राफ्टिंग एसोसिएशन तथा गंगा क्याक स्कूल के पदाधिकारियों के साथ चर्चा की गई। इस मौके पर निर्णय लिया गया कि इस विंटर में एक कलैण्डर जारी किया जाएगा, जिसमें विभिन्न साहसिक खेलों का आयोजन किया जाएगा, ताकि देश-विदेश के साथ ही स्थानीय युवाओं को भी प्रतिभा निखारने का मौका मिल सके।

इस अवसर पर आयोजित बैठक में विधायक केदारनाथ मनोज रावत ने बताया कि गत 21 से 25 नवम्बर तक जिले के अंतर्गत ही अलकनंदा, मंदाकिनी और मद्दमहेश्वर गंगा पर वाइल्ड वाटर वीक का आयोजन किया गया, जिसमें चार देशों से 22 क्याकर्स ने प्रतिभाग किया। जिसमें फ्री स्टाइल ट्रायल, एक्सट्रीम क्याक रेस फाइनल तथा सलालम फाइनल प्रतियोगिताएं आयोजित की गई और प्रथम, द्वितीय व तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले प्रतिभागियों को नकद पुरस्कार दिया गया।

उन्होंने बताया कि जिस तरह से विदेशी प्रतिभागियों ने पूरे उत्साह के साथ यहां की नदियों पर साहसिक करतब दिखाए, उससे यही साबित होता है कि यहां इन खेलों के लिए पूरी सम्भावनाएं हैं। क्याकिंग प्रतियोगिता आयोजित करने पीछे यह भी उद्देश्य था कि यहां की नदियां इस खेल के लिए उपयोगी है या नहीं, लेकिन सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं। ऐसे में अब आने वाले भविष्य में स्थानीय युवाओं को भी साहसिक पर्यटन से जोडने के साथ ही स्वरोजगार के अवसर प्रदान करने के लिए पूरे प्रयास किए जाएंगे।

जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने कहा कि जिस तरह वाइल्ड वाटर वीक का सफल आयोजन मंदाकिनी और अलकनंदा नदी में किया गया, उसके मुताबिक जिले में साहसिक पर्यटन और खासकर क्याकिंग की अपार संभावनाएं है। ऐसे में हमारा प्रयास रहेगा कि इस विंटर में एक कलेण्डर जारी कर, विभिन्न साहसिक खेलों का आयोजन किया जाए। पर्यटन और खेल विभाग के संयुक्त तत्वावधान में इन खेलों का आयोजन किया जायेगा।

इन खेलों में बाहरी प्रतिभागियों के साथ ही स्थानीय प्रतिभाओं को भी हुनर दिखाने का मौका दिया जाएगा। जिसके फलस्वरूप बेहतर प्रदर्शन करने वाले स्थानीय प्रतिभागियों को नेशनल और इंटरनेशन प्रतियोगिताओं के लिए तैयार किया जाएगा। स्थानीय युवाओं जिनकी साहसिक खेलों के प्रति दिलचस्पी है उनके लिए एक कैंप का आयोजन भी किया जाएगा, ताकि वह कयाकिंग व अन्य साहसिक खेलों का प्रशिक्षण भी ले सके। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक प्रहलाद नारायण मीणा ट्रेनर सलभ सहित अन्य मौजूद थे।