udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news ऊखीमठ तहसील दिवस में छाये रही ग्रामीण क्षेत्रों की समस्याएं

ऊखीमठ तहसील दिवस में छाये रही ग्रामीण क्षेत्रों की समस्याएं

Spread the love

तहसील दिवस में दर्ज हुये 20 शिकायतें
रुद्रप्रयाग। तहसील सभागार में आयोजित तहसील दिवस में 20 शिकायतंे दर्ज हुयी। 6 शिकायतों का मौके पर हुआ निस्तारण। शेष शिकायतों को निस्तारण के लिये सम्बन्धित विभागों को प्रेषित किया गया।

तहसील सभागार में तहसीलदार जयबीर राम बधाणी की अध्यक्षता में आयोजित तहसील दिवस में व्यापार संघ अध्यक्ष ऊखीमठ आनन्द सिंह रावत ने आम नागरिक को मिट्टी तेल वितरित करने की मांग की। प्रधान मनसूना राजकुमारी राणा ने मुख्य बाजार में अवैध रूप से वाहन खड़े होने व दुपहिया वाहन चालकों द्वारा बिना हेलमेट के वाहन चलाने की शिकायत की। जिस पर तहसीलदार ने आश्वासन दिया की शीघ्र ही मामले की जांच की जायेगी।

प्रधान गगडू सरिता नेगी ने जूनियर हाईस्कूल में व्यवस्था पर तैनात अध्यापक की अस्थाई नियुक्ति की मांग की। जिस पर प्रभारी खण्ड शिक्षा अधिकारी रघुबीर पुषवान ने आश्वासन दिया की विद्यालय में अध्यापक की तैनाती होने के बाद ही व्यवस्था पर तैनात अध्यापक को मूल विद्यालय भेजा जायेगा। विमल चन्द्र शुक्ला ने ऑल वेदर रोड का मलबा निर्धारित स्थान पर न डालने से पर्यावरण को नुकसान होने की शिकायत की।

उन्होंने वन विभाग की आड में जंगलों में अवैध पातन की शिकायत की। प्रहलाद राणा ने काकडागाड-पठाली-तोणीधार पूर्व में स्वीकृत मोटरमार्ग का निर्माण कार्य शुरू करने की माग की। प्रधान गैड सरिता पंवार ने आंगनवाडी कार्यकत्री की जांच पर अमल न होने की शिकायत की। जिला पंचायत सदस्य राजा राम सेमवाल ने 6 फरवरी 2017 को केदारघाटी मंे आये भूकम्प के प्रभावितों को मुआवजा न मिलने की शिकायत की।

रणजीत सिंह रावत ने नगर पंचायत के अर्न्तगत बने राजीव आवासांे का पूर्ण भुगतान न होने तथा नगर पंचायत के अर्न्तगत हुयेे विकास कार्यों की जांच की मांग की। महाबीर सिंह नेगी ने डुंगर सेमला मोटरमार्ग को पलद्वाणी तक मिलाने की मांग की। प्रधान गिरिया मदन सिंह बर्त्वाल ने ऊखीमठ-रांसी मोटरमार्ग पर जुगासू के निकट भू-धंसाव होने की शिकायत की।

इस मौके पर पूर्व प्रमुख जय नारायण नौटियाल, कमला रावत, डॉ सचिन चौबे, रंेज अधिकारी राजेन्द्र सिंह रावत, अर्चित भट्ट, अबल सिंह रावत, क्षेत्र पंचायत सदस्य संगीता देवी, यशपाल सिह असवाल सहित कई अधिकारी व जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

दरमोला-डुंगरी-स्वीली मोटरमार्ग के टेंडर आमंत्रित
सड़क निर्माण संघर्ष समिति (ग्राम सभा स्वीली) की त्रैमासिक बैठक दरमोला-डुंगरी-स्वीली और सेम-डुंगरी मोटरमार्ग की निर्माण प्रगति पर विचार-विमर्श किया गया। इस दौरान ग्रामीणों को बताया गया कि दरमोला-डुंगरी-स्वीली मोटरमार्ग के लिए ऑनलाइन टेंडर आमंत्रित हो गये हैं। अब वन वृक्षारोपण संबंधित पत्रावली वन विभाग रुद्रप्रयाग में कार्यवाही के लिए प्रेषित की गई। जिस पर जल्द कार्यवाही की उम्मीद है।

संघर्ष समिति के संरक्षक विष्णुप्रसाद डिमरी की अध्यक्षता में ग्राम पंचायत भवन स्वीली में हुई बैठक में सड़कों की कार्य प्रगति के बारे में ग्रामीणों को जानकारी दी गई। संघर्ष समिति के अध्यक्ष कृष्णानंद डिमरी ने ग्रामीणों को बताया कि दरमोला-डुंगरी मोटरमार्ग के निर्माण के साथ सेम-डुंगरी मोटरमार्ग निर्माण के लिए भी कार्यवाही चल रही है और वन पत्रावली वन विभाग में लंबित है। शीघ्र ही डीएफओ रुद्र्रप्रयाग द्वारा क्षेत्र भ्रमण कर अपनी रिपोर्ट लोक निर्माण विभाग को प्रेषित की जायेगी। इसके बाद वित्तीय स्वीकृति के बाद सड़क निर्माण संबंधित अग्रिम कार्यवाही संपंन होगी।

श्री डिमरी ने बताया कि सड़क निर्माण के लिए पिछले माह एक शिष्टमंडल ने भरदार जन विकास मंच के अध्यक्ष लक्ष्मी प्रसाद डिमरी की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री और मुख्य सचिव सहित विभागीय सचिवों को ज्ञापन दिया गया। इसके बाद सड़क निर्माण की कार्यवाही में प्रगति देखने को मिली है। उन्होंने बताया कि स्व0 दीपक डिमरी के नाम से राइंका स्वीली-सेम का नाम रखने के संबंध में ज्ञापन मुख्यमंत्री व मुख्य सचिव को दिया गया। जिस पर कार्यवाही चल रही है।

समिति के संरक्षक विष्णु प्रसाद, पूर्व प्रधान हर्षमणि डिमरी, विजयानंद डिमरी, कमल विकास, बलवीर सिंह रावत, हरीदत्त डिमरी ने कहा कि सड़क निर्माण के लिए संघर्ष समिति निरंतर प्रयास कर रही है। अब उम्मीद की जा सकती है कि आने वाले समय पर सेम, स्वीली और डुंगरी मोटरमार्ग से जुड जायेगा। सभी ग्रामीणों को सड़क निर्माण के लिए समिति का सहयोग करना चाहिए।

इस मौके पर पुष्पानंद, प्रकाश चंद्र, भागवत प्रसाद, सरोप सिंह, कमल सिंह, हरि सिंह, उदेश डिमरी, कीर्तिराम, चैतराम, ममता, आशा, देवी प्रसाद, लक्ष्मण सिंह, चरण सिंह, मदन मोहन, शांति प्रसाद आदि मौजूद थे।