udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news पहले यात्री का फायदा फिर अपने फायदे की सोचें

पहले यात्री का फायदा फिर अपने फायदे की सोचें

Spread the love
पौड़ी: पहले यात्री का फायदा फिर अपने फायदे की सोचंे यह बात आज गढ़वाल मंडल आयुक्त शैलेश बगौली ने अपने सभागार में सम्भागीय परिवहन प्राधिकरण की बैठक के दौरान विभिन्न कम्पनियों एवं वाहन संचालन समितियों से कही।
उन्होंने कहा कि रूटों में यात्रियों की आवाजाही के दौरान कुछ शिकायतें वाहन चालक-परिचालक द्वारा यात्रियों को बताये गये गंतव्य तक ना ले जाकर  बीच राह पर छोड़कर दूसरी बस मंे जाने के लिए कहते हैं। इस तरह के मामले संज्ञान में नहीं आने चाहिये जिसको लेकर उन्होंने सभी जिलाधिकारियों पत्र भेजने के कहा।
कहा कि ऐसे वाहनों के पकड़े जाने पर आॅन द स्पाॅट पंजीकरण निरस्त करेंगे। जिस पर सभी वाहन संचालन कम्पनियों ने भी सहमति व्यक्त की। उन्होंने पहाड़ों में ओवर लोडिंग रहित अधिक बसों के संचालन को बढ़ावा देने के लिए सभी वाहन संचालन कम्पनियों को 15 दिनों के भीतर बैठक कर प्रस्ताव देने को कहा। कहा कि पहाड़ांे के मार्गों में सुगम सुरक्षित बसों का सफल संचालन करवाना उनकी प्राथमिकता है।
बैठक में कोटद्वार क्षेत्रांतर्गत 9 रूटों पर 50 नये आॅटो परमिट जारी करने की संस्तुति रखी गई। जिस पर उन्होंने एसडीएम की अध्यक्षता में एक कमेटी गठित कर 9 रूटों पर आॅटो का समान वितरण कर एक सप्ताह में रिर्पोट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि ई रिक्शा संचालन को अधिक बढ़ावा दिया जाय। जिससे पर्यावरण के अनुकूल बना रहे। कहा कि तेज गति की अपेक्षा जीवन की सुरक्षा अधिक महत्वपूर्ण है।
बैठक में पर्वतीय क्षेत्रों में अधिकांश मार्ग तैयार होने पर आरटीओ की अनुमति बिना वाहनों की आवाजाही हो रही है। जिसको लेकर उन्होंने समस्त जिलाधिकारी एवं मुख्य अभियंता लोनिवि को पत्र लिखकर 15 दिनों के भीतर सड़कों का सत्यापन कर अनुमति हेतु रिर्पोट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये।
वहीं मुख्य अभियंता लोनिवि को स्वीकृत सड़कों में सुरक्षित आवाजाही की दृष्टिगत रखते हुए सड़कों का बेहतर रखरखाव बनाये रखने के निर्देश दिये। उन्होंने वाहन संचालन समितियों की विभिन्न समस्या एवं सुझाव सुने। जिस पर उन्होंने बेहतर यात्री वाहन संचालन हेतु सहयोग बनाये रखने को कहा। कहा कि बस सर्विस एक सेवा है।
उन्होंने रूटों पर ओवर लोडिंग वाहनों का संचालन ना करने को कहा। वाहन संचालन समिति/कम्पनी की कुछ मांगों पर शीघ्र निस्तारण करने का भरोसा दिया।
इस अवसर पर जीएमओयू लि0 के सचिव विजयपाल सिंह नेगी, अनिल बगेली, शिवरतन असवाल, भोपाल सिंह नेगी, सुरेंद्र सिंह नेगी, राम सिंह भास्कर, दयाल सिंह भंडारी, राजेंद्र सिंह, प्यार सिंह गुनसोला, बीपीएस नेगी, शैलेंद्र सिंह, बलवीर सिंह रौतेला, सहायक परिवहन अधिकारी दिनेश चंद्र पठोई, द्वारिका प्रसाद, नरेंद्र सिंह भण्डारी आदि उपस्थित रहे।