udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news हैंडपंप के सहारे प्यास बुझाने को मजबूर लोग

हैंडपंप के सहारे प्यास बुझाने को मजबूर लोग

Spread the love

रुद्रप्रयाग। सड़क निर्माण से पेयजल योजना के क्षतिग्रस्त होने से विकासखंड जखोली के सुमाड़ी भरदार में पिछले पांच दिनों से पानी का संकट गहराया हुआ है। ऐसे में स्थानीय लोगों को हैंडपंप के सहारे अपनी प्यास बुझानी पड़ रही है।

 

भरदार पट्टी की ग्राम पंचायत सेमा के कंथार तोक के लिए वन विभाग विधायक निधि से सड़क का निर्माण कर रहा है। सड़क निर्माण से सुमाड़ी भरदार की पेयजल योजना क्षतिग्रस्त हो गई है। ऐसे में सुमाड़ी बाजार और गांव में पानी का संकट गहरा गया है। लोग पिछले पांच दिनों से हैंडपंप के सहारे पानी की कमी को पूरा कर रहे हैं।

 

स्थानीय निवासी मुकेश कंडारी, चिरंजीव सेमवाल, पूर्णानंद भट्ट का कहना है कि वन विभाग बेतरतीब तरीके से सड़क की कटिंग कर रहा है। इसके चलते पेयजल योजना के पाइप जगह-जगह क्षतिग्रस्त हो गए हैं। पेयजल के लिए हैंडपंपों पर लंबी लाइन लग रही है। लोगों को अपने कपड़े भी हैंडपंप पर ही धोने पड़ रहे हैं। उन्होंने जल संस्थान से शीघ्र पेयजल योजना को दुरूस्त करने की मांग की है।

 

वहीं जल संस्थान के अधिशासी अभियंता संजय सिंह का कहना है कि सड़क निर्माण से करीब डेढ़ सौ मीटर पेयजल लाइन क्षतिग्रस्त हो गई है। इसकी मरम्मत में दो से तीन दिन का समय लगेगा। नुकसान की भरपाई के लिए वन विभाग को पत्र भेजा गया है।