udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत नाजुक

पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की तबीयत नाजुक

Spread the love

एम्स ने कहा- पिछले 24 घंटे में हालत बिगड़ी, उन्हें लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर रखा गयाअटलजी को यूरिन इन्फेक्शन की शिकायत के चलते 11 जून को एम्स में भर्ती किया गया था

 आखिरी बार अटलजी की तस्वीर 2015 में तब सामने आई, जब तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब ने उन्हें भारत रत्न दिया
 13 साल पहले लिया था सक्रिय राजनीति से संन्यास, मुंबई की रैली में किया था ऐलान

नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बुधवार शाम एम्स में भर्ती अटल बिहारी वाजपेयी का हाल-चाल जानने पहुंचे। उन्हें यूरिन इन्फेक्शन की शिकायत के चलते 11 जून को एम्स में भर्ती किया गया था। वह पिछले 9 साल से बीमार चल रहे हैं।

मोदी से पहले केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी भी उनसे मिलने एम्स पहुंचीं। वहीं, देर रात एम्स ने अटलजी का मेडिकल बुलेटिन जारी किया। इसमें बताया गया कि पिछले 24 घंटे में पूर्व प्रधानमंत्री की तबियत काफी बिगड़ गई। इसके बाद पीयूष गोयल, सुरेश प्रभु, हर्षवर्धन, जितेंद्र सिंह और अश्विनी कुमार चौबे भी एम्स पहुंचे।

लाल किले पर भाषण में मोदी ने अटल को किया था याद : 72वें स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले पर भाषण के दौरान नरेंद्र मोदी ने आज अटल बिहारी वाजपेयी को याद किया। उन्होंने कहा- कश्मीर के मुद्दे का हल निकालते वक्त हम अटलजी के नजरिये पर चलेंगे, जो इंसानियत, कश्मीरियत और जम्हूरियत पर आधारित था।

2009 में वाजपेयी की तबीयत बिगड़ गई। उन्हें सांस लेने में दिक्कत के बाद कई दिन वेंटिलेटर पर रखा गया। हालांकि, बाद में वह ठीक हो गए और उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई। इसके बाद कहा गया कि वाजपेयी लकवे के शिकार हैं। इस वजह से वह किसी से बोलते नहीं थे। बाद में उन्हें स्मृति लोप हो गया। उन्होंने लोगों को पहचानना भी बंद कर दिया।