udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news रक्तदान मानवता की सबसे बड़ी सेवा

रक्तदान मानवता की सबसे बड़ी सेवा

Spread the love

रूद्रप्रयाग: रेडक्राॅस सोसाइटी रूद्रप्रयाग ने आपदा प्रबन्धन विभाग के सहयोग से राजकीय महाविद्यालय अगस्त्यमुनि में एक रक्तदान षिविर का आयोजन किया जिसमें कुल 87 यूनिट रक्तदान किया गया। इस रक्तदान षिविर में छात्राओं ने बढ़चढ़कर प्रतिभाग किया। इस अवसर पर यूथ रेडक्राॅस कार्यक्रम भी आयोजित किए गये। जिसमें भाषण प्रतियोगिता आयोजित की गई।

यूथ रेडक्राॅस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि अपर जिलााधिकारी गिरीष गुणवन्त ने छात्र छात्राओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि रक्तदान मानवता की सबसे बड़ी सेवा है। रेडक्राॅस सोसाइटी द्वारा लगाया गया रक्तदान षिविर जरूरतमन्द लोगों के लिए वरदान साबित होगा। रूद्रप्रयाग जनपद आपदा की दृष्टि से अति संवेदनश्षील है। जहां पर आये दिन कोई न कोई दुर्घटनायें होती रहती हैं। जिसमें घायल व्यक्तियों की जान बचाने में खून की आवष्यकता पड़ती है।

मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ एस.के. झा ने कहा कि रक्तदान करने में हमारा समाज आज भी पिछड़ा है। समाज में फैली भ्रान्तियां लोगों को रक्तदान करने से रोकती है। इसके लिए रेडक्राॅस सोसायटी एवं स्वास्थ्य विभाग द्वारा समय-समय पर जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है।

जिसका परिणाम है कि आज रक्तदान के लिए युवा आगे आने लगे हैं। जिला आपदा प्रबन्धन अधिकारी हरीष चन्द्र शर्मा ने आपदा प्रबन्धन द्वारा जनपद में चलाये जा रहे विभिन्न प्रषिक्षण कार्यक्रमों के बारे में विस्तार से बताया। जिला रेडक्राॅस सोसाइटी के चेयरमैन दीपराज बंगारी ने रेडक्राॅस के बारे चर्चा करते हुए कहा कि सोसाइटी मानवता की सेवा के लिए समर्पित है।

महाविद्यालय के प्राचार्य प्रो0 जीएस रजवार ने आगन्तुक अतिथियों का स्वागत करते हुए आभार प्रकट किया। इस मौके पर हुई भाषण प्रतियोगिता में राजेन्द्र प्रथम, रष्मि द्वितीय एवं उत्तम तृतीय स्थान पर रहे। जबकि सुषमा एवं सुभाष को स्वच्छ भारत अभियान के तहत 100 दिन स्वच्छता के लिए पुरस्कृत किया गया।

मुख्य अतिथि द्वारा विजेताओं और महाविद्यालय में नवगठित यूथ रेडक्राॅस की तीन युनिटो ंके 60 स्वयंसेवियों को प्रमाण पत्र वितरित किए गये। कार्यक्रम का संचालन महाविद्यालय की वरिष्ठ प्राध्यापिका डाॅ आबिदा ने किया।

इस मौके पर डाॅ संजय तिवारी, डाॅ सौरभ त्रिपाठी, डाॅ सतीष कुमार, डाॅ डीएस चैहान, हरीष भारद्वाज, चैतनय अन्थवाल, प्रदीप रावत, तहसीलदार श्रेष्ठ गुनसोला, बीडीओ धनेष्वरी नेगी,, मुकेष बगवाड़ी, जिला पर्यटन अधिकारी पी.के. गौतम, जिला उद्यान अधिकारी योगेन्द्र चैधरी, जिला पूर्ति अधिकारी के.एस. कोहली, एनडीआरएफ के जवान एवं महाविद्यालय के छात्र-छात्रायें उपस्थित थे।