udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news साधुओं के लिए गुफा में हो पर्याप्त सुविधाएंः उत्पल

साधुओं के लिए गुफा में हो पर्याप्त सुविधाएंः उत्पल

Spread the love

पुनर्निर्माण कार्याें का जायजा लेने केदारनाथ पहुंचे मुख्य सचिव ,केदारनाथ में सफाई व्यवस्था चाक-चौबंद रखने के आदेश

रुद्रप्रयाग। मुख्य सचिव उत्पल कुमार और गढ़वाल आयुक्त दिलीप जावलकर ने केदारनाथ धाम में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों का निरीक्षण किया। मुख्य सचिव ने केदारपुरी में चल रहे पुनर्निर्माण कार्यों से संबंधित कार्यदायी संस्थाओं विद्युत, पेयजल, उरेडा व लोनिवि को तीव्रगति से तय समय परकार्य सम्पादित करने के निर्देश दिये।

 

इस अवसर पर मुख्य सचिव उत्पल कुमार ने केदारनाथ मंदिर के बगल में लोनिवि द्वारा निर्माणाधीन रैपलिका के निरीक्षण के दौरान उसके सौन्दर्य को बनाये रखने के लिए उसके आधे भाग को ही आच्छादित करने और दोनों तरफ सुरक्षात्मक दीवार बनाने को कहा। उन्होंने कहा कि जनपद हरिद्वार में आगामी महाकुम्भ के लिए भी इसी मॉडल की रैपलिका तैयार की जाएगी।

 

मंदिर के 50 फीट चौड़े पैदल मार्ग के निरीक्षण के दौरान मार्ग पर लोनिवि को पत्थर बिछाने के कार्य में गति लाने एवं पर्याप्त पत्थर तैयार करने के निर्देश दिए गए। केदारनाथ मंदिर से लगभग 1.5 की दूरी पर ऊपर की तरफ साधुओं के ध्यान के लिए निर्माणाधीन गुफा व पानी की निकासी के लिए उचित उपाय करने, गुफा में विद्युत बाधित होने पर विद्युत के बैकअप की पर्याप्त व्यवस्था, गुफा में सी.सी.टी.वी., गुफा के आंगन में सुरक्षा की दृष्टि से 1.5 फीट से 2 फीट की ऊंचाई की पत्थर की चाहरदीवारी, गुफा में उपलब्ध स्थान पर अतिरिक्त एक कक्ष का भी निर्माण किये जाने के लिए लोनिवि के अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

 

मुख्य सचिव ने केदारनाथ में हाई मास्क स्थापित किये जाने के संबंध में चर्चा की और विद्युत विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को निर्देश दिये गये कि यदि भविष्य में केदारपुरी में विभाग के हाई मास्क लाइट की स्थापना की जाती है तो उसे इस प्रकार स्थापित किया जाए कि उससे न तो 50 फीट चौड़ा रास्ता और ना ही मंदिर का दृश्य-अक्ष बाधित हो।

 

मंदाकिनी एवं सरस्वती नदी पर किये जा रहे घाट निर्माण एवं सुरक्षा दीवार की प्रगति एवं कार्य समाप्ति के संबंध में पूछने पर मुख्य अभियंता, सिंचाई ने अवगत कराया कि कार्यदायी संस्था द्वारा कार्य गतिमान है। इस संबंध में मुख्य सचिव ने सिंचाई विभाग एवं एन.आई.एम. को अगस्त माह तक पूरा करने के आदेश दिए।

 

मंदिर के पीछे खाली भाग में गाय एवं घोड़ों के द्वारा किए जा रहे चुगान के संबंध में वन विभाग व पुलिस विभाग को केदारपुरी की सौन्दर्य एवं प्राकृतिक वनस्पतियों की सुरक्षा की दृष्टि से गाय, घोड़े, बकरियों इत्यादि जानवरों के चुगान एवं विचरण पर पूर्णतः प्रतिबन्ध लगाने के निर्देश दिए। केदारनाथ में पुननिर्माण कार्यों के साथ-साथ गतिमान केदारनाथ यात्रा के दृष्टिगत तीर्थ-यात्रियों की सुगमता एवं सुरक्षा के लिए सम्पूर्ण केदारपुरी में नियमित रूप से साफ-सफाई बनाये रखने के आदेश नगर पंचायत केदारनाथ एवं सुलभ इण्टरनेशन को दिये गये।

 

इस अवसर पर जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल, नोडल अधिकारी केदारनाथ गोपाल सिंह चौहान, अधीक्षण अभियंता, लोनिवि मुकेश परमार, सिंचाई जयपाल सिंह, अधिशासी अभियंता डीडीएमए प्रवीण कर्णवाल, एनआईएम से सोबन सिंह, वास्तुविद जेएसडब्ल्यू निकुल शाह, विकास राणा व चौकी प्रभारी केदारनाथ विपिन पाठक उपस्थित थे।