udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news सेनेटर : हिंदू महिला कृष्णा कुमारी ने पाकिस्तान में रचा इतिहास

सेनेटर : हिंदू महिला कृष्णा कुमारी ने पाकिस्तान में रचा इतिहास

Spread the love

कराची । मुस्लिम बहुल पाकिस्तान के सिंध प्रांत के थार की रहने वाली कृष्णा कुमारी कोलही सेनेटर चुनी जाने वाली पहली हिंदू-दलित महिला बनी हैं। 39 साल की कोलही बिलावल भुट्टो जरदारी के नेतृत्व वाले पाकिस्तान पीपल्स पार्टी (पीपीपी) की तरफ से चुनी गई हैं।

पाकिस्तान के द डॉन के मुताबिक, कृष्णा ने सिंध प्रांत की उस सीट से जीत हासिल की है जो महिलाओं के लिए आरक्षित थी। कृष्णा ने चुनाव में तालिबान से जुड़े एक मौलाना को हराया है।कृष्णा का सेनेट के लिए चुना जाना पाकिस्तान में रह रहे अल्पसंख्यकों के अधिकारों और महिलाओं के लिए मील का पत्थर माना जा रहा है।

कोलही सिंध प्रांत में थार के सुदूर नगरपारकर जिले की रहने वाली हैं। एक गरीब परिवार में जन्मीं कृष्णा के पिता किसान थे। 1979 में जन्मीं कृष्णा की 16 साल की उम्र में ही शादी हो गई थी। उस समय कृष्णा 9वीं क्लास में थीं। हालांकि, शादी के बाद भी कृष्णा ने अपनी पढ़ाई जारी रखी और साल 2013 में उन्होंने सिंध यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र में मास्टर्स की डिग्री हासिल की।

कृष्णा अपने भाई के साथ ऐक्टिविस्ट के तौर पर पीपीपी में शामिल हुई थीं। कोलही ने थार में हाशिये पर जी रहे लोगों के अधिकारों की भी आवाज उठाई। कृष्णा स्वतंत्रता सेनानियों के परिवार से हैं। बता दें कि पाकिस्तान के अपदस्थ प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की पार्टी पीएमएल-एन को अनंतिम परिणामों के अनुसार सेनेट में शनिवार को 15 सीटों पर जीत हासिल हुई थी। इस जीत के साथ ही वह संसद के उच्च सदन में सबसे बडी़ पार्टी बनकर उभरी।