udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news स्कूल में बच्चों को ड्रग्स देकर किया जा रहा उत्पीडऩ !

स्कूल में बच्चों को ड्रग्स देकर किया जा रहा उत्पीडऩ !

Spread the love

पेइचिंग। चीन में इन दिनों स्कूल में बच्चों को ड्रग्स देकर उनके उत्पीडऩ का मामला गरमाता जा रहा है। मामला सामने आने के बाद पैरंट्स विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं।

पेइचिंग के एक प्री-स्कूल में जाने वाले बच्चों के शरीर पर सुई के निशान नजर आने के बाद पुलिस ने इस कथित बाल उत्पीडऩ की जांच शुरू कर दी है। नाराज अभिभावकों ने बताया कि आरवाईबी एजुकेशन न्यू वल्र्ड किंडरगार्डन में बच्चों को कुछ गोलियां भी खाने को दी जाती थीं। बता दें कि आरवाईबी चीन का प्रतिष्ठित शैक्षणिक संस्थान है।

चीन के 300 शहरों में इसके स्कूल हैं। अभिभावकों ने कथित उत्पीडऩ की जानकारी बीते बुधवार को अधिकारियों को दी जिसके बाद पुलिस ने जांच शुरू की। आरवाईबी ने अभिभावकों से माफी मांगी है और कहा है कि वह पुलिस जांच में सहयोग कर रहे हैं। कंपनी ने एक बयान में कहा कि इस मामले में जिन शिक्षकों के नाम आए हैं उन्हें निलंबित कर दिया गया है।

सिन्हुआ न्यूज एजेंसी के मुताबिक, अभिभावकों का कहना है कि जो बच्चे क्लास में अनुशासित नहीं रहते थे उन्हें कपड़े उतरवाकर खड़ा किया जाता था या फिर एक अंधेरे कमरे में बंद कर दिया जाा है। कम से कम 8 बच्चों को अज्ञात दवाइयों के इंजेक्शन दिए गए हैं।

स्कूल में पढऩे वाले एक बच्चे के पिता ने बताया कि उनके बच्चे को रोज दोपहर के खाने के बात सफेद रंग की 2 गोलियां दी जाती थीं और सोने के लिए कहा जाता था। जिन बच्चों को ड्रग्स देने का आरोप है उनमें 2 साल से 6 साल तक के बच्चे शामिल हैं।

हालांकि, स्कूल का यह भी कहना है कि अभिभावकों के कुछ आरोप झूठे हैं। आरवाईबी की तरफ से कहा गया है कि अगर कुछ भी गलत मिलता है तो हम अपनी जिम्मेदारियों से पीछे नहीं हटेंगे।