udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news तहसील दिवसः दो दर्जन समस्याएं आयी शिविर में

तहसील दिवसः दो दर्जन समस्याएं आयी शिविर में

Spread the love
पौड़ी.  माह के प्रथम मंगलवार को आयोजित होने वाले तहसील दिवसों की कड़ी में आज मुख्य तहसील दिवस जिलाधिकारी सुशील कुमार की अध्यक्षता में चाकीसैंण तहसील सभागार में आयोजित किया गया। इस अवसर पर क्षेत्र के दो दर्जन लोगों द्वारा विभिन्न समस्याओं के शिकायती पत्र प्रस्तुत किये गये। जिनमें मोटर मार्गों के निर्माण के उपरान्त भूमि का मुआवजा, पेयजल, भूस्खलन से बचाव, आर्थिक सहायता, एपीएल कार्ड धारकों को माह मार्च का राशन न मिलने, नहरों की मरम्मत करने, तार बाड़ लगाने, मनरेगा के तहत झाड़ी कटान का भुगतान न होने, जीआईसी त्रिपालीसैंण में शिक्षकों की कमी, डीजल पेटी डीलर लाइसेंस दिलाने, आपदा से कृषि भूमि धसने व मत्स्य टैंक ध्वस्त होने, बडे़थ में एएनएम सेंटर खोलने समेत कई अन्य समस्यायें प्रमुखता से उठाई गई।
तहसील दिवस में प्राप्त अधिकांश समस्याओं का निस्तारण जिलास्तरीय अधिकारियों द्वारा किया गया। अवशेष समस्याओं के निस्तारण के लिए जिलाधिकारी ने विभागीय अधिकारियों को निर्देश दिये हैं। जिलाधिकारी ने बैठक में अनुपस्थित रहने पर मुख्य शिक्षा अधिकारी तथा अधिशासी अभियन्ता जल संस्थान से स्पष्टीकरण मांगे हैं। इसके अलावा नौगांव ग्राम पंचायत के ग्राम पंचायत विकास अधिकारी बसन्त लाल के उपस्थित न रहने तथा कार्यों में शिथिलता के मद्देनजर निलम्बन की कार्यवाही के निर्देश डीपीआरओ को दिये।
तहसील दिवस में ग्राम कोटी निवासी विजय सिंह, ग्राम मजेली निवासी गीताराम, ग्राम दौला निवासी बिज्जूलाल ने मोटर मार्ग निर्माण के दौरान कटी भूमि का मुआवजा नहीं मिलने की शिकायत की। इस पर जिलाधिकारी ने लोक निर्माण विभाग को तत्काल आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। ग्राम चोपड़ा की कौसा देवी ने पुत्री की शादी के उपरान्त अभी तक आर्थिक सहायता नहीं मिलने का मामला उठाया। ग्राम नौड़ी के महिधर प्रसाद व मैठाणा के शम्भू प्रसाद ने भूस्खलन के बचाव की समस्या जिलाधिकारी के समक्ष रखी।
इस अवसर पर नौड़ी के भागचंद ने मनरेगा के तहत झाड़ी कटान के भुगतान के अलावा डंुगरी निवासी के दीपक चंद तिवारी ने जीआईसी त्रिपालीसैंण में शिक्षकों की कमी, त्रिपालीसैंण-मजगांव-रिस्ती-धुलेथ-डुंगरी मोटर मार्ग की समस्या प्रमुखता से उठायी। तहसील दिवस के अवसर पर ग्राम सिरतौली की महिलाओं ने डीएम के समक्ष पल्ली गांव के लोगों द्वारा पेयजल स्रोत तोड़ने तथा पेयजल न देने का मामला उठाया। इस पर जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी थलीसैंण को आपसी सुलह सम्पन्न कर दोनों ग्रामों की पेयजल समस्या निस्तारण करने के निर्देश दिये।
इस अवसर पर ढाईजुली निवासी भागचंद ने गत आपदा से कृषि भूमि धसने तथा मत्स्य टैंक के क्षतिग्रस्त होने की समस्या रखी। इस मौके पर जिलाधिकारी ने नानघाट पेयजल योजना के स्रोत के संवर्द्धन के लिए राजस्व, जल संस्थान तथा वन विभाग को संयुक्त निरीक्षण करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने थलीसैंण क्षेत्र के विभिन्न ग्राम पंचायतों में शौचालयों के निर्माण की स्थिति ठीक नहीं पाये जाने पर अप्रसन्नता व्यक्त की।
उन्होंने सीडीएस व क्षेत्रीय ग्राम पंचायत विकास अधिकारियों को आगामी सोमवार तक हरहाल में शौचालय निर्माण की द्वितीय किश्त का भुगतान करने के साथ ही जीयोटैगिंग शत प्रतिशत करने के निर्देश दिये। इस मौके पर तहसील में पं0 दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल विकास योजना के तहत 43 लोगों का पंजीकरण, स्वास्थ्य विभाग द्वारा पांच निशक्तजनों को विकलांग प्रमाण पत्र, समाज कल्याण विभाग द्वारा 
 
वृद्धावस्था के 6, विधवा का एक तथा विकलांगजनांें के दो आवेदन पत्र भरवाये गये। इसके अलावा चिकित्सा विभाग द्वारा 80 से अधिक लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण कर निःशुल्क दवा दी गई। इस मौके पर पशुपालन, स्वजल, कृषि, उद्यान, समाज कल्याण, सूचना एवं लोक सम्पर्क तथा निर्वाचन विभाग द्वारा स्टाल लगाकर सरकारी योजनाओं की जानकारी लोगों के दी।
तहसील दिवस के अवसर पर उप जिलाधिकारी थलीसैंण मायादत्त जोशी, डीपीआरओ एमएम खान, बाल विकास परियोजना अधिकारी एसके त्रिपाठी, उप मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 एचसीएस मर्तोलिया, परियोजना निदेशक एसएस शर्मा, एपीडी सुनील कुमार, जिला समाज कल्याण अधिकारी रतन सिंह रावल समेत विभिन्न विभागों के जिलास्तरीय अधिकारी व क्षेत्रीय जनता उपस्थित रही।