udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news अध्यापकों से अधिक अभिभावकों की जिम्मेदारी: चौधरी

अध्यापकों से अधिक अभिभावकों की जिम्मेदारी: चौधरी

Spread the love

जनता जूनियर हाईस्कूल एवं प्रावि घेंघड़खाल का वार्षिकोत्सव

रुद्रप्रयाग। बच्चों के संर्वागीण विकास के लिए अध्यापकों से ज्यादा जिम्मेदारी अभिभावकों की होती है। बच्चों की प्रथम पाठशाला अभिभावक हैं। ऐसे में उनकी अपने पाल्यों के प्रति जिम्मेदारी बढ़ जाती है। उन्हें समय-समय पर अपने बच्चों के विकास पर ध्यान देना चाहिए।

 

जनता जूनियर हाईस्कूल एवं राजकीय प्राथमिक विद्यालय घेंघड़खाल के संयुक्त वार्षिकोत्सव को संबोधित करते हुए बतौर मुख्य अतिथि क्षेत्रीय विधायक भरत सिंह चौधरी ने कहा कि बच्चे देश के भविष्य हैं और अभिभावकों को बच्चों की शिक्षा पर विशेष ध्यान देना चाहिए। राजकीय प्राथमिक विद्यालय की कक्षा पांच की छात्रा प्रेरणा के बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ भाषण से प्रभावित हुए विधायक भरत सिंह चौधरी ने प्रेरणा का माल्यार्पण कर पांच सौ रूपये नगद पुरस्कार और प्रेरणा की माता का शॉल भेंटकर स्वागत किया।

 

श्री चौधरी ने कहा कि प्रेरणा एक होनहार बालिका है और सही शिक्षा मिले से ही प्रेरणा जिले का नाम रोशन करेगी। जनता जूनियर हाईस्कूल एवं प्रावि के छात्राओं के सांस्कृतिक कार्यक्रमों की भी विधायक श्री चौधरी ने सराहना की। उन्होंने कहा कि भरदार पेयजल योजना और कांडाबैंड से घेंघड़ मोटरमार्ग का निर्माण शीघ्र होगा, यह मेरी प्राथमिकता है। विद्यालय के प्रधानाचार्य बीएस बर्त्वाल ने मांग पत्र मुख्य अतिथि को सौंपा और विद्यालय की समस्याओं से अवगत कराया।

 

इससे पूर्व मुख्य अतिथि के पहुंचने पर विद्यालय परिवार ने गर्मजोशी से स्वागत किया। विधायक भरत सिंह चौधरी ने जनता जूनियर हाईस्कूल की चाहरदीवारी के लिए चार लाख रूपये देने की भी घोषणा की। इस अवसर पर बाल आयोग के सदस्य वाचस्पति सेमवाल, भरदार जन विकास मंच के अध्यक्ष एलपी डिमरी, प्रधान रामलाल शाह, पूर्व कनिष्ठ प्रमुख शंकर राणा, दीपक पंवार, प्रीतम पंवार, पूर्व प्रधान भगवान सिंह पंवार, प्रधान कांडा अमित रावत, पूर्व प्रधान कमल सिंह रावत, विद्यालय के प्रबंधक रमेश पंवार, लोक गायक विक्रम कप्रवाण, महिला मंगल दल अध्यक्ष श्रीमती स्वांरी देवी, बीना देवी, अध्यापिका संगीता डोभाल, नरेन्द्र सिंह जग्गी, सुमन बुटोला, महेन्द्र सिंह सजवाण सहित कई मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन जीवन पंवार ने किया।