udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news ट्रेकिंग पर गये बंगाल के पर्यटक पनपतिया में फंसे

ट्रेकिंग पर गये बंगाल के पर्यटक पनपतिया में फंसे

Spread the love

सर्च रेस्क्यू अभियान चलाकर निकाला सुरक्षित
दल में एक सदस्य की 11 जून को हुई मौत
रुद्रप्रयाग। ट्रैकिंग पर आए बंगाल के पर्यटकों का एक दल पनपतिया ग्लेशियर में फंस गया। दल में शामिल एक सदस्य की मौत हो गई है। पुलिस ने सर्च और रेस्क्यू ऑपरेशन करके सभी लोगों का निकाला।

जानकारी के मुताबिक भारतीय रेलवे विभाग के कुछ कर्मचारियों ने अपने दिल्ली स्थित मुख्यालय को सूचना दी कि इनके साथी ट्रैकिंग के दौरान फँस गए हैं। ट्रैकिंग दल में कुल 23 सदस्य नौ बंगाली पर्यटक, 12 पोर्टर, दो गाइड शामिल थे। दल ने पांच जून को लामबगड़ (जनपद चमोली) खीरों नदी से ट्रैकिंग शुरू की। दल के सदस्य पनपतिया (जनपद रुद्रप्रयाग में स्थित) नामक ग्लेशियर में फंस गए।

11 जून को उनके एक साथी अरुण कुमार दास (सीनियर इंजीनियर उम्र 34 वर्ष) की मृत्यु हो गयी। अन्य साथियों द्वारा मृत शव सहित सजल सरोवर से आशिकी ताल तक ट्रैक किया गया। सूचना पर जिला पुलिस, स्थानीय प्रशासन, आपदा प्रबंधन व रांसी गौंडार के स्थानीय युवकों की एक टीम गठित कर तत्काल मदमहेश्वर के लिए रवाना की गई। इसके अलावा कुछ ही दिनों पहले माउंट एवरेस्ट फतह करने वाली एसडीआरफ की टीम व अन्य सदस्यों को रेस्क्यू के लिए देहरादून से बुला दिया गया।

पुलिस अधीक्षक प्रह्लाद मीणा ने बताया कि एसडीआरफ और पुलिस की टीम बुधवार सुबह हेलीकॉप्टर से बूढ़ा मदमहेश्वर में ड्रॉप की गई। एसपी ने बताया कि रेस्क्यू ऑपरेशन के बाद सभी को वापस लाया गया है।