udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news उत्तराखंड की ऊंची चोटियों में बर्फबारी,पहाड़ में पारा लुढ़कने से शुरू हुई ठंड

उत्तराखंड की ऊंची चोटियों में बर्फबारी,पहाड़ में पारा लुढ़कने से शुरू हुई ठंड

Spread the love

देहरादून/गोपेश्वर।उत्तराखंड की ऊंची चोटियों में बर्फबारी,पहाड़ में पारा लुढ़कने से शुरू हुई ठंड हो गयी है। बदरीनाथ, केदानाथ हेमकुंड सहित कई चोटियों में बर्फबारी से पहाड में ठंड शुरू हो गयी है।

 

चमोली जिले की ऊंची चोटियों में बर्फबारी के बाद ठंड भी शुरू हो गई है। श्री बदरीनाथ धाम, हेमकुंड साहिब की चोटियों पर भी बर्फबारी के बाद निचले क्षेत्रों में भी सुबह, सायं ठंड के चलते लोगों ने गर्म कपड़े बाहर निकाल दिए हैं।

 

बीती रात्रि से ही रुक रुककर चमोली जिले की ऊंची चोटियों पर बर्फबारी शुरू हो गई थी। बदरीनाथ धाम की निचली पहाडि़यों पर भी हिमपात होने से श्वेत धवल दिख रही हैं। धाम में पहाड़ी पर गिरी बर्फ को यहां पहुंचे यात्री व पर्यटक अपने कैमरों में कैद कर रहे हैं।

 

पहाड़ पर दिनों दिन पारा लुढ़कने से ठंड का असर दिखाई देने लगा है। सुबह विवेकानंद पर्वतीय कृषि अनुसंधान संस्थान की प्रयोगशाला की तरफ से न्यूनतम तापमान 11.7 व अधिकतम तापमान दिन का 23.8 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया। जो अन्य दिनों की तुलना में कम था। अभी जैसे-जैसे नवंबर का महीना नजदीक आता जाएगा ठंड का असर और बढ़ेगा। 

 

मौसम वैज्ञानिकों की मानें तो पारे के लुढ़कने का क्रम जारी रहेगा। जैसे-जैसे नवंबर का महीना नजदीक आता जाएगा यह आंकड़ा और कम होता जाएगा। सुबह व शाम को ठंड का असर अधिक होगा। दोपहर में तेज धूप व शाम को कड़कड़ाती ठंड होगी।

 

दिन में मौसम का तापमान अन्य दिनों की अपेक्षा 16 डिग्री तक रहता है। जैसे-जैसे सूरज पश्चिम की तरफ गतिमान होता जाता है। वैसे ही पारे का गिरना शुरू होता है। बीते दिनों पिथौरागढ़ व मुनस्यारी के ऊंचाई वाले स्थानों पर बर्फबारी होने की वजह से दो दिनों से मौसम में जहां ठंड बढ़ गई है। वहीं पारा भी गिरा है।

 

मौसम विभाग का अनुमान है कि इस सप्ताह ठंड का असर दिखाई देना शुरू रहेगा। आने वाले दिनों में और अधिक ठंड पड़ेगी। इस बार ठंड भी अधिक पड़ने की संभावना बताई जा रही है। मौसम वैज्ञानिकों ने भी मौसम में हो रहे परिवर्तनों पर अपनी नजर गड़ा दी है। अल्मोड़ा में अधिक ऊंचाई वाले स्थानों पर ठंड का असर महसूस किया जाने लगा है।