udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news उत्कृष्ट छात्र- छात्राओं को प्रशस्ती पत्र एवं स्मृति चिन्ह देकर किया सम्मानित

उत्कृष्ट छात्र- छात्राओं को प्रशस्ती पत्र एवं स्मृति चिन्ह देकर किया सम्मानित

Spread the love
पौड़ी:  राजकीय इंटर कालेज पौड़ी में जनपद के टॉप टेन मेधावी छात्र- छात्रा सम्मान समारोह में बतौर मुख्य अतिथि क्षेत्रीय विधायक मुकेश कोली एवं विशिष्ट अतिथि के रूप में जिलाधिकारी सुशील कुमार ने प्रतिभाग कर बोर्ड परीक्षा 2018 के हाई स्कूल एवं इंटरमीडिएट के 19 उत्कृष्ट छात्र- छात्राओं को प्रशस्ती पत्र एवं स्मृति चिन्ह देकर सम्मानित किया। इससे पूर्व मुख्य अतिथि एवं विशिष्ट अतिथि द्वारा विद्यालय प्रांगण में फलदार वृक्षों की पौध लगाई गई। सम्मान समारोह में स्कूली छात्र छात्राओं ने विविध सांस्कृतिक एवं रंगारंग कार्यक्रमों की प्रस्तुति दी।
आयोजित मेधावी छात्र सम्मान समारोह कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विधायक श्री कोली ने बच्चों को अपने शैक्षणिक काल की शिक्षा ग्रहण करने की वास्तविक पहलुओं को सन्दर्भित करते हुए मन की बात कही। कहा कि शिक्षा अर्जित करने के लिए मीलों दूर स्कूल पैदल जाना, टाटपट्टी पर बैठकर अघ्ययन करना, अनुशासित रहकर अपने गुरूजनों के बताये मार्ग पर चलना आदि सभी कार्य करना दैनिक दिनचर्या का हिस्सा रहे।
उन्होंने कहा कि दुनिया में कई महान लोग पढ़ने में कमजोर होने के बावजूद भी दुनिया में अविस्मरणिय कार्य कर गये। जिस पर उन्होंने ने विश्व के प्रसिद्ध विद्धानों का उदाहरण देकर बच्चों को बखूबी समझाया। कहा कि लक्ष्य प्राप्ति के लिए सदैव लग्नशील बने रहना जरूरी है। क्योंकि लापरवाही लक्ष्य से भटका देते हैं। उन्होंने शिक्षक व बच्चों के बीच का सम्बन्ध बच्चों के भविष्य को बनाने वाला होता है। कहा कि गुरूओं को अपने छात्रों के उत्कृष्ट कार्यों पर गर्व होता है। इस मौके पर विधायक श्री कोली ने विद्यालय के फर्नीचर आदि की मांग को शीघ्र पूरा करने का आश्वासन दिया।
जिलाधिकारी सुशील कुमार ने छात्रों को सम्बोधित करते हुए कहा कि बच्चोें के जीवन में शिक्षक और अभिभावक का अहम योगदान होता है। कहा कि अच्छे अंक अर्जित करने वाले बच्चे दूसरों के लिए प्रेरणा का स्रोत बन जाते हैं। जिससे आने वाले बच्चों को अपने आपको अग्रसित करने के लिए मार्ग दर्शन प्राप्त होगा। उन्होंने बच्चों को सम्बोधित करते हुए कहा कि जीवन में शिक्षक का सर्वोंपरि स्थान है।
शिक्षक शिक्षा ही नहीं बल्कि आने वाले भविष्य को संवारने का कार्य भी करते हैं। उन्होंने बच्चों को अच्छे नागरिक बनने को कहा। कहा कि आगे जीवन को संवारने के लिए बहुत सारे क्षेत्र खुले हैं। आज के दौर में किसी भी व्यवसाय के क्षेत्र में जाने के लिए मेहनत करना जरूरी है। उन्होंने सभी उत्कृष्ट बच्चों को शुभकामना दी तथा सभी को अपनी पढ़ाई के प्रति लगनशील बनकर मेहनत करने को कहा।
जनपद में हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के कुल 19 मेधावियों को सम्मानित किया गया। जिसमें हाईस्कूल के दस तथा इंटरमीडिएट के नौ छात्र-छात्रायें शामिल हैं। हाईस्कूल में सिद्धान्त कोटियाल, उत्कर्ष वर्मा, शुभम प्रसाद थपलियाल, प्रतीक चंद, राघव मित्तल, निधि बहुखंडी, विकास खंकरियाल, साक्षी चमोली, अक्षय कुमार,  मोनिका धनाई तथा इंटरमीडिएट में विपुल वर्मा, आनंद किशोर रतूड़ी, प्रतिभा, मृणाल, आशुतोष बुटोला, आशुतोष आर्य, अंशुमन सिंह रावत, कोमल भारती व सकक्षी को सम्मानित किया गया।
इस मौके पर अपर निदेशक माध्यमिक शिक्षा एमएस बिष्ट, बेसिक एसपी खाली, सीईओ एमएस रावत, डीईओ माध्यमिक हरेराम यादव, डीईओ बेसिक केएस रावत, बीईओ पौड़ी जेपी काला, प्रधानाचार्य जीआईसी पौड़ी वीसी बहुगुणा सहित जन प्रतिनिधि, अभिभावक व शिक्षकगण उपस्थित रहे।