udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news उत्पादन सकरात्मक व किसानों को लाभ होगा

उत्पादन सकरात्मक व किसानों को लाभ होगा

Spread the love

रूद्रप्रयाग:    जिला कार्यालय सभागार में आयोजित आजीविका संवद्र्वन की बैठक में अनुपस्थित गैर सरकारी संस्थाओं (एन.जी.ओ.) पर नाराजगी व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी मंगेष घिल्डियाल ने सम्बन्धित एन.जी.ओ. का स्पष्टीकरण लेने के निर्देष मुख्य विकास अधिकारी को दिए।

 

बैठक में जिलाधिकारी ने जनपद के गुलाबराय व अगस्त्यमुनि क्रीडा मैदान में स्थानीय समूह, किसानों द्वारा उत्पादित उत्पादों के विपणन के लिए 21 अक्टूबर को हाॅट बाजार लगवाने के निदेष सीडीओ को दिए। कहा कि 21 अक्टूबर से प्रत्येक रविवार को हाॅट बाजार लगाया जाएगा। इसके साथ ही द्वितीय चरण में जनपद के तीनों विकासखण्ड में भी हाॅट बाजार लगाया जाएगा। जनपद में आजीविका व एन.जी.ओ. द्वारा गांव में दिये जा रहे बीजों के सम्बन्ध में डीएम ने कहा कि बिना टेस्टिंग के गांव में कोई भी बीज नहीं दिया जाएगा। इससे उत्पादन सकरात्मक व किसानों को लाभ होगा।

आगामी यात्रा सीजन से देष-विदेष से आ रहे पर्यटकों के लिए उत्तराखण्ड के पारम्परिक व्यंजनो के उत्पाद फाॅस्ट फूड के रूप में उपलब्ध रहेंगे जिसे श्रद्धालु मैक-डि के बर्गर, पिज्जा आदि की भांति लेकर टेक अवे कर सकेगा। फास्ट फूड में दो रोटन, दो अर्से, दो दाल के पकौडे़ के साथ चटनी रहेगी जिसका लुत्फ श्रद्धालु/पर्यटक ले सकेगें। बैठक में जिला पर्यटन अधिकारी को देवलीभणिग्राम को आपदा प्रभावित क्षेत्र के रूप में पर्यटन के क्षेत्र में विकसित करने, विभिन्न ट्रैकिंग साइटस की वीडियोग्राफी कराकर डाॅक्यूमेन्ट्री को आॅनलाइन अपलोड करने के निर्देष जिससे देष विदेष से सैलानी आ सके।

जनपद में मषरूम उत्पादन को बढ़ाने व उसके सुनियोजित प्रकार से विपणन कार्य पर चर्चा की गई। इस सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने जिला उद्यान अधिकारी की अध्यक्षता में इस क्षेत्र में कार्य कर रहे एन.जी.ओ. की एक समिति गठित करने के निदेष दिए। समिति का कार्य मषरूम उत्पादन की मानिटरिंग करना होगा। मषरूम उत्पादन में आ रही समस्याओं के निस्तारण के लिए समिति कार्य करेगी व उत्पादकों को तकनीकी सहयोग भी प्रदान करेगी।

इस अवसर पर डीएचओ योगेन्द्र सिंह ने बताया कि जनपद में वर्तमान में 24 कि.ग्रा. स्पाॅन आ चुका है जिसमें से 05 कि.ग्रा. उत्पादक ले जा चुके है। स्पाॅन की कीमत 35 रूपये प्रति किग्रा है। मषरूम उत्पादन के सम्बन्ध में रिलायंस फाउण्डेषन से टीम लीडर प्रकाष सिंह ने पी.पी.टी. के माध्यम से पूरी जानकारी देते हुए बताया कि मषरूम उत्पादन में टीम वर्क में ही सफल है। अकेले व्यक्ति इस कार्य में सफल नहीं हो सकता। जनपद में उद्यान, पषुपालन, कृषि, विकास विभाग के खाली पडे भवनों को भूसे के कलेक्षन सेन्टर के रूप में बनाने के निदेष दिए।

इस अवसर पर ब्लाॅक प्रमुख अगस्त्यमुनि जगमोहन सिंह रौथाण, जिला पंचायत सदस्य महावीर सिंह, प्रधान प्रदीप मलासी, सीडीओ एन.एस. रावत, डिप्टी सीवीओ डाॅ अषोक कुमार, जिला पर्यटन अधिकारी पी.के. गौतम, डीईएसटीओ राजेष कुमार, बीडीओ अगस्त्यमुनि धनेष्वरी नेगी, एलडीएम एस.एस तोमर सहित अन्य अधिकारी, एन.जी.ओ. के प्रतिनिधि व मषरूम उत्पादक व किसान उपस्थित थे।