udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news उत्तराखंड बोर्ड परीक्षा के मेधावी छात्र-छात्राओं को किया सम्मानित

उत्तराखंड बोर्ड परीक्षा के मेधावी छात्र-छात्राओं को किया सम्मानित

Spread the love

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने शनिवार को राजीव गांधी नवोदय विद्यालय, ननूरखेड़ा, देहरादून में पं.दीनदयाल उपाध्याय राज्य शैक्षिक उत्कृष्टता पुरस्कार वितरण समारोह में प्रतिभाग किया।

मुख्यमंत्री ने उत्तराखण्ड बोर्ड परीक्षा 2017 में शीर्ष स्थान प्राप्त करने वाले छात्र एवं छात्राओं को सम्मानित किया। हाईस्कूल एवं इण्टर की बोर्ड परीक्षा में प्रथम 10 स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया। हाईस्कूल की परीक्षा में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को क्रमश: 15 हजार रूपये, 11 हजार रूपये एवं 08 हजार रूपये की धनराशि तथा प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया जबकि चैथे से दसवें स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को 5100 रूपये एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया।

जबकि इण्टरमीडिएट की परीक्षा में प्रथम, द्वितीय एवं तृतीय स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को क्रमश: 21 हजार रूपये, 15 हजार रूपये एवं 11 हजार रूपये की धनराशि एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किये गये। जबकि चैथे से दसवें स्थान प्राप्त करने वालों को 5100 रूपये की धनराशि एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किये गये। दसवीं की कक्षा में विजयनगर रूद्रप्रयाग की छात्रा आयिशा को प्रथम स्थान, जसपुर उद्यमसिंहनगर के हर्षवर्द्धन वर्मा को द्वितीय स्थान एवं बडक़ोट, उत्तरकाशी के अजय विक्रम सिंह बिष्ट को तृतीय स्थान प्राप्त करने पर मुख्यमंत्री ने उन्हें सम्मानित किया। इण्टरमीडिएट की परीक्षा में गंगनाली पौड़ी के आदित्य घिल्डियाल को प्रथम, जसपुर उद्यमसिंहनगर के अक्षदीप वत्सल को द्वितीय एवं भेल हरिद्वार की मेघा को तृतीय स्थान प्राप्त करने पर सम्मानित किया गया।

प्रदेश में हाईस्कूल एवं इण्टरमीडिएट में सबसे अच्छा परीक्षा परिणाम देने वाले 03-03 स्कूलों को मुख्यमंत्री श्री त्रिवेन्द्र ने मुख्यमंत्री ट्रॉफी, प्रशस्ति पत्र प्रदान किये। हाईस्कूल की परीक्षा में बेहतर परिणाम देने के लिये आईपी इण्टर कॉलेज लक्सर, राणा प्रताप इण्टर कॉलेज खटीमा और पं.पूर्णानन्द तिवारी इण्टर कॉलेज जसपुर को मुख्यमंत्री ट्रॉफी एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किये गये।

 

जबकि इंटरमीडिएट की परीक्षा में बेहतर परिणाम देने के लिये विवेकानन्द कॉलेज रानीखेत टिहरी एवं उत्तरकाशी इण्टर कॉलेज को मुख्यमंत्री ट्रॉफी एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया। इस अवसर पर हाईस्कूल के 52 एवं इंटरमीडिएट के 50 स्कूलों को बेहतर प्रदर्शन के लिये मुख्यमंत्री ने प्रशस्ति पत्र प्रदान किये।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विद्या रूपी धन सभी धनों से श्रेष्ठ है। विद्या का दान सबसे बडा पूण्य है। उन्होंने बोर्ड परीक्षा में उच्च स्थान प्राप्त करने वाले छात्र-छात्राओं को बधाई दी। उन्होंने आशा व्यक्त की कि ये छात्र-छात्राएं आगे चलकर राज्य का नाम रोशन करेंगे। उन्होंने कहा कि प्रदेश को शत्-प्रतिशत साक्षर बनाने के लिये सबको प्रयास करने होंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि देहरादून के सभी सरकारी स्कूलों में रूफ टॉप सोलर सिस्टम की व्यवस्था की जायेगी। उन्होंने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि प्रदेश में 02 ऐसे आवासीय विद्यालय बनाये जाये जिसमें सम्पूर्ण प्रदेश के छात्र-छात्राएं शिक्षा ग्रहण कर सकें। इन विद्यालयों में सभी वर्गो के विद्यार्थियों के लिये उच्च स्तर की शिक्षा की व्यवस्था की जाये। इन स्कूलों में शैक्षणिक एवं शिक्षणेत्तर स्टाफ की समुचित व्यवस्था की जाए।

इस अवसर पर विधायक उमेश शर्मा(काऊ), महानिदेशक शिक्षा कैप्टन आलोक शेखर तिवारी, माध्यमिक शिक्षा निदेशक आर.के.कुंवर, भाजपा नेता विनय गोयल, विभिन्न विद्यालयों से आये प्राचार्यगण एवं शिक्षा विभाग के उच्चाधिकारी उपस्थित थे।