udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news उत्तराखंडः घर के अंदर सो रहे एक व्यक्ति को गुलदार ने बनाया निवाला

उत्तराखंडः घर के अंदर सो रहे एक व्यक्ति को गुलदार ने बनाया निवाला

Spread the love

अल्मोड़ा । जिले में गुलदार के आतंक की घटनाएं बढ़ती जा रही हैं। भैंसियाछाना ब्लॉक के बाड़ेछीना ग्राम शील में घर के अंदर सो रहे एक व्यक्ति को गुलदार ने अपना निवाला बनाया। उसका शव परिजनों को घर से लगभग तीन सौ मीटर दूर गधेरे के पास झाड़यिों में क्षत-विक्षत अवस्था में मिला।

 

सूचना पर मौके पर पहुंचे वन विभाग व राजस्व की टीमों ने मौके का मुआयना कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। वहीं घटना से आहत ग्रामीणों ने प्रशासन से तत्काल ङ्क्षपजरा लगाए जाने की मांग की है।

 

जानकारी के अनुसार शिल गांव निवासी नारायण राम पुत्र स्व. जोगा राम रविवार की रात में घर के अंदर ही अकेले सो रहा था। घर के दूसरे सदस्य बाड़ेछीना में चल रही रामलीला देखने गए थे। रात में ही किसी समय घर का दरवाजा खुला होने के कारण अचानक आए गुलदार ने नारायण पर हमला बोल दिया और उसे उठाकर ले गया।

 

सुबह घर के दूसरे सदस्य जब वापस लौटे और कमरे के अंदर खून के छींटे देखे तो सभी के होश उड़ गए। कमरे में नारायण राम को न देखकर सभी ने खोजबीन शुरू की। तभी गधेरे के पास लगभग तीन सौ मीटर दूरी पर झाड़यिों के पास उसका शव क्षत-विक्षत अवस्था में परिजनों ने देखा। जिसे देखने के बाद सभी के होश उड़ गए।

 

परिजनों ने तत्काल घटना की सूचना वन विभाग व राजस्व विभाग के अधिकारियों को दी। आनन-फानन मौके पर पहुंचे वन विभाग के अधिकारियों ने शव को आवश्यक कार्रवाई के बाद पोस्टमार्टम के लिए भेजा। वहीं घटना से आक्रोशित गांव वालों ने प्रशासन से तत्काल गांव में ङ्क्षपजरा लगाए जाने की मांग की है। घटना की सूचना पाकर वन क्षेत्राधिकारी संचिता वर्मा ने घटनास्थल का मुआयना कर जांच के निर्देश जारी किए।

 

घटना की सूचना मिलते ही गांव पहुंचे क्षेत्रीय विधायक रघुनाथ ङ्क्षसह चौहान ने पीडि़त परिवार को तत्काल वन विभाग से 50 हजार रुपये की आॢथक सहायता दिलाए जाने के निर्देश दिए। वहीं सरकार की तरफ से परिजनों को ढाई लाख रुपये का मुआवजा दिलाए जाने की घोषणा की।

 

उनका कहना था कि घटना बहुत ही हृदय विदारक है। सरकार पीडि़त परिवार के साथ हर पल खड़ी है। वन विभाग को निर्देश दिए कि वह तत्काल गांव में ङ्क्षपजरा लगाएं साथ ही गुलदार पर नजर रखें। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही नहीं की जानी चाहिए।

 

दो दिन पहले ही बिनसर गांव में जंगल घास लेने गई महिला देवकी देवी 48 पर गुलदार ने घात लगाकर हमला बोल दिया। उसने उसकी गर्दन पर हमला बोला। जिससे वह घायल हो गई।

 

उसको प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर भर्ती कराया गया था। वहीं गांव में गुलदार के हमले के बीच ग्रामीणों में दहशत का माहौल बना हुआ है। वहीं विभाग की तरफ से अब तक गुलदार के आतंक से मुक्ति दिलाए जाने के प्रयास न करने से लोग आक्रोशित हैं।