udaydinmaan, News Jagran, Danik Uttarakhand, Khabar Aaj Tak,Hindi News, Online hindi news योजना का उद्देश्य महिलाएं हों स्वावलम्बी: राकेश

योजना का उद्देश्य महिलाएं हों स्वावलम्बी: राकेश

Spread the love

रुद्रप्रयाग। दीनदयाल अन्त्योदय योजना एवं राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अन्तर्गत नगर पालिका क्षेत्र के वार्ड तिलणी में महिलाओं को दस दिवसीय मशरूम उत्पादन का प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण में भारतीय स्टेट बैंक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान (आरसेटी) द्वारा महिलाओं को स्वरोजगार के लिए प्रेरित किया गया।

 

कार्यक्रम में नगर पालिका अध्यक्ष राकेश नौटियाल ने कहा कि सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को स्वावलम्बी बनाना है। कहा कि आज के दौर में रोजगार मिलना कठिन है, लेकिन स्वरोजगार अपनाकर आर्थिकी मजबूत की जा सकती है। परियोजना प्रबंधक हिमांशु बहुगुणा ने बताया कि प्रशिक्षण के बाद प्रत्येक महिला समूह को रिवाल्विंग फण्ड के रूप में दस हजार की धनराशि दी जायेगी।

 

उन्होंने आरसेटी द्वारा दिये गये प्रशिक्षण कार्यक्रम की सराहना करते हुए कहा कि इस प्रशिक्षण से महिलाआंे में काफी आत्मविश्वास देखने का मिला है, जिससे यह लगता है कि वह मशरूम उत्पादन में जरूर जनपद में एक नई पहल करेंगी। जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक पीएस सजवाण ने भी महिलाओं को पीएमजीपी योजना की जानकारी दी।

 

प्रशिक्षण में आरसेटी निदेशक डाॅ संजय कुमार, लीड बैंक प्रबन्धक एसएस तोमर, परियोजना अर्थशास्त्री एमएस नेगी, उद्योग अधिकारी एसएस सजवाण ने भी प्रशिक्षणार्थियों को कईं महत्वपूर्ण जानकारियां दी। मशरूम उत्पादन का प्रशिक्षण कुशल प्रशिक्षक रंजना रावत व कैलाश चमोला द्वारा दिया गया। साथ ही अन्य व्यवसायिक जानकारी आरसेटी के प्रशिक्षकों ने दी।

 

प्रशिक्षक रंजना रावत ने मशरूम की तकनीकी जानकारी, कम्पोस्ट तैयार करना, सेड़ तैयार करना, पाॅली बैग भरना तथा स्पोनिंग विधि सहित कई अहम जानकारियों के साथ फिल्ड विजिट करवाने, सफल उद्यमी से मुलाकात सहित बैंकिंग तथा मार्केेटिंग व उद्यमिता का स्तर बढ़ाने से संबंधित कई महत्वपूर्ण जानकारी दी। कार्यक्रम के अंत में महिलाओं को प्रशस्ति पत्र दिया गया।

 

इस अवसर पर संस्थान के प्रशिक्षक वीरेन्द्र बत्र्वाल, भूपेन्द्र रावत, नगर पालिका के हिमांशु बहुगुणा, अनिता देवी, रजनी देवी, आशा देवी, पूजा देवी, विनीता देवी, शान्ति देवी, सुधा पंवार, दीपा देवी, विजेन्द्र बिष्ट सहित कईं मौजूद थे।